विश्व चैंपियन ने कहा- मैं ईडन गार्डंस में बेवकूफ लग रहा था, काफी कुछ सीखना है...

India vs Bangladesh: बीसीसीआई ने कोलकाता के ईडन गार्डंस स्टेडियम में खेले गए ऐतिहासिक डे-नाइट टेस्ट मैच को यादगार बनाने के लिए हर इंतजाम किए थे. 

विश्व चैंपियन ने कहा- मैं ईडन गार्डंस में बेवकूफ लग रहा था, काफी कुछ सीखना है...
शतरंज के दिग्गज विश्वनाथन आनंद और विश्व चैंपियन मैग्नस कार्लसन ने कोलकाता टेस्ट के दूसरे दिन घंटी बजाई थी. (फोटो: IANS)

कोलकाता: मेजबान भारत और बांग्लादेश (India vs Bangladesh) के बीच यहां के ईडन गार्डंस स्टेडियम में ऐतिहासिक डे-नाइट टेस्ट मैच खेला गया. यह भारत में खेला गया पहला डे-नाइट टेस्ट (Day-Night Test) मैच था. इसलिए भारतीय क्रिकेट बोर्ड (बीसीसीआई) ने इसे यादगार बनाने के लिए हर इंतजाम किए थे. बीसीसीआई (BCCI) ने इसी क्रम में सिर्फ देश के प्रमुख क्रिकेटरों को ही नहीं, दूसरे खेलों के खिलाड़ियों को बुलाया. इन खिलाड़ियों में शतरंज के विश्व चैंपियन मैग्नस कार्लसन (Magnus Carlsen) और भारतीय दिग्गज विश्वनाथन आनंद (Viswanathan Anand) भी शामिल थे. हालांकि, नॉर्वे के मैग्नस कार्लसन को क्रिकेट मैच रास नहीं आया. 

शतरंज के दिग्गज मैग्नस कार्लसन ने कोलकाता टेस्ट मैच (Kolkata Test) के दूसरे दिन विश्वनाथन आनंद के बाद ईडन की घंटी बजा दिन के खेल की शुरुआत की थी. एक अंग्रेजी अखबार को दिए गए इंटरव्यू में कार्लसन ने अपने इस अनुभव को साझा किया. उन्होंने कहा कि क्रिकेट के बारे में अभी उन्हें काफी कुछ सीखना बाकी है. 

यह भी पढ़ें: सौरव के रिकॉर्ड से 10 रन दूर रह गए विराट, अब करना पड़ेगा लंबा इंतजार 

मैग्नस कार्लसन ने कहा, ‘हुआ यह कि, आनंद ने घंटी बजाई और मैं वहां खड़ा रहा. मैं वहां बेवकूफ सा लग रहा था. यह क्रिकेट मैच को लेकर मेरा सारांश है. क्रिकेट में मुझे काफी कुछ सीखना बाकी है.’ उन्होंने फिर पूछा, ‘क्या मैच खत्म हो गया है या चालू है?’ जवाब मिलने के बाद उन्होंने कहा, ‘ओह.. अब वहां जाने का मौका नहीं मिलेगा.’

मैच के दिन कार्लसन और आनंद के साथ बंगाल क्रिकेट संघ (सीएबी) के सचिव अभिषेक डालमिया थे. कार्लसन जहां एक और कैजुअल अवतार में थे तो आनंद ने अपनी पहचान के मुताबिक सूट पहना था. भारत ने कोलकाता टेस्ट मैच में बांग्लादेश को पारी और 46 रन से हराया.