इंग्लैंड दौरे पर टीम इंडिया के इन 4 खिलाड़ियों पर रहेगी खास नजर

इंग्लैंड दौरे पर जा रही टीम इंडिया के ये चार खिलाड़ी ऐसे हैं, जो अपने फैन्स और राष्ट्रीय चयनकर्ताओं की निगाह में बने रहने के लिए बेहतर प्रदर्शन करना चाहेंगे. 

इंग्लैंड दौरे पर टीम इंडिया के इन 4 खिलाड़ियों पर रहेगी खास नजर
3 जुलाई से शुरू होगा टीम इंडिया का इंग्लैंड दौरा (फाइल फोटो)

नई दिल्ली: विदेशी दौरों पर बेहतर परफॉर्मेंस ही किसी क्रिकेटर की असली अग्निपरीक्षा होती है. घरेलू मैदानों पर अच्छा प्रदर्शन महत्वपूर्ण तो है, लेकिन खिलाड़ी के टेंपारमेंट और स्किल की असली परीक्षा विदेशी पिचों पर ही होती है. सचिन तेंदुलकर, राहुल द्रविड़, कुमार संगकारा, जहीर खान और मुथैया मुरलीधरन विदेशी जमीं पर शानदार प्रदर्शन करके ही महान खिलाड़ियों की श्रेणी में शामिल हुए हैं. इनसे प्रेरणा लेकर ही बहुत से क्रिकेटर विदेशी पिचों पर अच्छा प्रदर्शन करने के लक्षय को लेकर आगे बढ़ते हैं. वे भी विदेशी पिचों पर बेहतर प्रदर्शन करना चाहते हैं. जूनियर और नेशनल दोनों ही टीमों के खिलाड़ी का यह सपना होता है कि वे विदेशी पिचों पर अच्छा करें. इंग्लैंड दौरे पर जा रही टीम इंडिया के ये चार खिलाड़ी ऐसे हैं, जो अपने फैन्स और राष्ट्रीय चयनकर्ताओं की निगाह में बने रहने के लिए बेहतर प्रदर्शन करना चाहेंगेः 

सिद्धार्थ कौलः आईपीएल 2018 की एक अहम खोज हैं- सिद्धार्थ कौल. पंजाब के इस युवा तेज गेंदबाज ने अपनी गति और गेंदों से सबका ध्यान अपनी ओर खींचा है. सनराइजर्स हैदराबाद के सफल अभियान में कौल का भी हाथ रहा है. 17 मैचों में कौल 21 विकेट हासिल किए और इनकी इकोनॉमी 8.28 की रही है. आईपीएल में कौल के शानदार प्रदर्शन ने उनके लिए राष्ट्रीय टीम के दरवाजे खोल दि. उन्हें इंग्लैंड दौरे के लिए टीम में चुना गया है. तेज गति वाली पिचों पर कौल का प्रदर्शन गौरतलब रहेगा. किसी भी तेज गेंदबाज को इंग्लैंड की पिचें अनूकूल दिखाई पड़ती है. हालांकि, भुवनेश्वर कुमार, जसप्रीत बुमराह और उमेश यादव के बाद सिद्धार्थ कौल का नंबर आएगा. लेकिन यदि उन्हें कुछ मैच खेलने का मौका मिलता है तो वे टीम में अपनी जगह स्थायी करने की कोशिश करेंगे. 

Siddarth Kaul
 
दिनेश कार्तिकः अपने पूरे करियर में दिनेश कार्तिक ने कई उतार-चढ़ाव देखे हैं. उन्हें खेलने के कम अवसर मिले हैं, लेकिन पिछले कुछ महीनों से इस विकेटकीपर बल्लेबाज का करियर उफान पर दिखाई दे रहा है. बांग्लादेश में निडॉस ट्रॉफी में अंतिम गेंद पर छक्का मार कर टीम को जीत दिलाने वाले कार्तिक ने कोलकाता नाइटराइडर्स के कप्तान के रूप में आईपीएल में भी कई शानदार पारियां खेली हैं. गिफ्टेड बैट्समैन दिनेश कार्तिक इंग्लैंड में बेहतर प्रदर्शन करके टीम में अपनी जगह स्थाई करना चाहेंगे. हालांकि, उम्र कार्तिक के पक्ष में नहीं है. तमिलनाडु के कार्तिक को मध्यक्रम में अनेक युवा खिलाड़ियों से भी चुनौती मिलेगी. छठे नंबर पर बल्लेबाज करने वाले कार्तिक वनडे और टी-20 में कुछ बेहतरीन पारियां खेल कर सीमित ओवरों के क्रिकेट में अपनी जगह सुनिश्चित करना जरूर चाहेंगे. 

Dinesh Karthik

मनीष पांडेः ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ शानदार शतक जमाकर टीम इंडिया को जीत दिलाने के बाद से मनीष पांडे को पिछले कई सालों से एक संभावित बेहतरीन खिलाड़ी के रूप में देखा जा रहा है. हालांकि, कर्नाटक का यह बल्लेबाज अनेक अवसरों पर असफल भी रहा है. यही वजह है कि टीम इंडिया में उनकी कोई स्थाई जगह नहीं बन पाई है. आईपीएल 2018 में भी उनका प्रदर्शन औसत से कम ही रहा है. लेकिन इसके बावजूद चयनकर्ताओं ने उन पर भरोसा जताया है और उन्हें इंग्लैंड दौरे के लिए चुना है. वह इंग्लैंड के साथ होने वाली टी-20 टीम में हैं. मनीष पांडे दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ कई आक्रामक पारियां खेल चुके हैं. वह बड़ी पारियां खेलने में समर्थ हैं. यदि वह टी-20 में अच्छा प्रदर्शन करते हैं तो उन्हें वनडे टीम में भी मौका मिल सकता है.  

Manish Pandey

सुरेश रैनाः सुरेश रैना के लिए आईपीएल 2018 का सीजन अब तक शानदार रहा है. वह 9 मैचों में 261 रन बना चुके हैं. उत्तर प्रदेश के इस खिलाड़ी की बल्लेबाजी में अतीत की कुछ शानदार झलक दिखाई दी है. रैना चेन्नई सुपर किंग्स के भरोसेमंद बल्लेबाज रहे हैं. नेशनल टीम के चयनकर्ताओं ने भी सुरेश रैना पर भरोसा दिखाया है. वह इंग्लैंड के साथ होने वाली टी-20 टीम के सदस्य हैं. जब रैना अपने रंग में होते हैं तो उन्हें सचमुच रोकना कठिन होता है. वह कहीं से भी गेम का रुख मोड़ने वाले खिलाड़ी हैं. हालांकि, श्रीलंका और दक्षिण अफ्रीका के असफल दौरे के बाद 31 वर्षीय सुरेश रैना ने कुछ बड़ी पारियां खेली हैं. इन्हीं पारियों ने उन्हें टीम में जगह दिलवाई है. शॉर्ट बॉल के खिलाफ रैना हमेशा परेशानी में दिखाई पड़ते हैं. यदि उन्हें इंग्लैंड में सफलता पानी है तो उन्हें इससे उबरना होगा.

Suresh Raina
 
बता दें कि भारतीय क्रिकेट टीम वर्ष 2018 में इंग्लैंड का दौरा करेगी और इस दौरे की शुरुआत 3 जुलाई से होगी. इस दौरे पर भारत को इंग्लैंड के खिलाफ 5 टेस्ट, 3 वनडे और 3 टी-20 मैचों की सीरीज खेलनी है. इंग्लैंड के खिलाफ भारत के क्रिकेट सीरीज की शुरुआत 3 जुलाई से ओल्ड ट्रेफर्ड में टी-20 मैच के साथ होगी.