close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

मयंक-रोहित के बाद गेंदबाजों ने दिखाया कमाल, भारत ने दक्षिण अफ्रीका पर कसा शिकंजा

दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ पहले टेस्ट मैच में मयंक अग्रवाल ने दोहरा और रोहित शर्मा ने भी मैच में शतक बनाया है. इसके बाद भारतीय स्पिनरों ने तीन विकेट झटक लिए. 

मयंक-रोहित के बाद गेंदबाजों ने दिखाया कमाल, भारत ने दक्षिण अफ्रीका पर कसा शिकंजा

नई दिल्ली: मेजबान भारत ने दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ (India vs South Africa) पहले टेस्ट मैच में मजबूत पकड़ बना ली है. उसने मैच के दूसरे दिन सात विकेट पर 502 रन बनाकर अपनी पहली पारी घोषित कर दी. इसके बाद जल्दी-जल्दी उसके तीन विकेट भी झटक लिए. दक्षिण अफ्रीका की टीम अभी भारत के स्कोर से 463 रन पीछे है और उसके सिर्फ सात विकेट बाकी हैं. 

भारत की ओर पहली पारी में ओपनर मयंक अग्रवाल (Mayank Agarwal) ने दोहरा शतक बनाया. उन्होंने 215 रन की पारी खेली. रोहित शर्मा (176) ने भी शानदार शतक बनाया. रोहित शर्मा (Rohit Sharma) थोड़े बदकिस्मत रहे और 24 रन से दोहरा शतक चूक गए. मयंक और रोहित ने पहले विकेट के लिए 317 रन की साझेदारी की. यह दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ किसी भी विकेट के लिए सबसे बड़ी साझेदारी का भारतीय रिकॉर्ड है. 

यह भी पढ़ें: INDvsSA: मयंक अग्रवाल ने ठोका दोहरा शतक, वीरेंद्र सहवाग की बराबरी की 

मेजबान भारत और दक्षिण अफ्रीका (India vs South Africa) के खिलाफ के बीच विशाखापत्तनम में बुधवार से टेस्ट मैच खेला जा रहा है. भारत ने मैच में टॉस जीतकर पहले बैटिंग की. भारतीय टीम ने पहले दिन बिना विकेट खोए 202 रन बनाए. उसने दूसरे दिन यानी गुरुवार को अपने स्कोर में ठीक 300 रन और जोड़े. 

भारतीय ओपनर रोहित शर्मा गुरुवार को आउट होने वाले पहले बल्लेबाज रहे. उन्होंने आउट होने से पहले मयंक अग्रवाल के साथ 317 रन की साझेदारी की. रोहित शर्मा इस स्कोर पर अफ्रीकी स्पिनर केशव महाराज की गेंद पर स्टंप आउट हो गए. 

रोहित शर्मा भले ही दोहरा शतक बनाने से चूक गए, लेकिन मयंक अग्रवाल ने मौका नहीं गंवाया. उन्होंने अपने शतक को दूसरे शतक में बदला. यह उनके टेस्ट करियर का पहला शतक भी है. संयोग से यह उनका भारत में पहला टेस्ट मैच भी है. इस तरह वे भारत में खेले गए अपने पहले ही टेस्ट मैच में दोहरा शतक बनाने वाले खिलाड़ी बन गए. वे पार्टटाइम गेंदबाज डीन एल्गर की गेंद पर मिडविकेट पर बावूमा द्वारा लपके गए. उन्होंने 371 गेंदों की पारी में 23 चौके और छह छक्के जमाए. रोहित शर्मा ने भी अपनी पारी में ही इतने ही चौके-छक्के लगाए. 

यह भी पढ़ें: इमरान खान पर सहवाग का तंज, कहा- यह आदमी बेइज्जत होने के नए-नए तरीके ढूंढ़ता है

भारत के अन्य बल्लेबाज बड़ा स्कोर नहीं कर पाए. मयंक और रोहित के बाद रवींद्र जडेजा ने सबसे अधिक रन बनाए. वे 30 रन बनाकर नाबाद रहे. ऋद्धिमान साहा 21, विराट कोहली 20, अजिंक्य रहाणे 15, हनुमा विहारी 10 और चेतेश्वर पुजारा छह रन बनाकर आउट हुए. रविचंद्रन अश्विन एक रन बनाकर नाबाद रहे. दक्षिण अफ्रीका की ओर से केशव महाराज ने सबसे अधिक तीन विकेट लिए. वेर्नोन फिलेंडर, डेन पीट, सेनुरन मुथुसामी और डीन एल्गर को एक-एक विकेट मिला. 

भारतीय बल्लेबाजों के बाद गेंदबाजों ने भी दम दिखाया. अफ्रीकी टीम को पहला झटका रविचंद्रन अश्विन ने दिया. उन्होंने एडेन मार्करम (5) को क्लीन बोल्ड किया. भारत को दूसरी कामयाबी भी अश्विन ने ही दिलाई. उन्होंने डि ब्रुईन (4) को विकेटकीपर साहा के हाथों कैच करवाया. इसके बाद रवींद्र जडेजा ने डेन पीट (0) को खाता भी नहीं खोलने दिया. दिन का खेल खत्म होने के समय ओपनर डीन एल्गर (27) और उप कप्तान तेम्बा बावूमा (2) क्रीज पर मौजूद थे.