close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

INDvsSA: सेंचुरियन में धोनी-कोहली बना सकते हैं ये शानदार रिकॉर्ड

टेस्ट सीरीज में 1-2 से शिकस्त झेलने वाली भारत ने वनडे सीरीज का आगाज जीत के साथ किया है.

INDvsSA: सेंचुरियन में धोनी-कोहली बना सकते हैं ये शानदार रिकॉर्ड
‘दस हजारी’ और ‘400’ क्लब में शामिल हो सकते हैं धोनी (File Photo)

नई दिल्ली: पूर्व भारतीय कप्तान महेंद्र सिंह धोनी दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ सेंचुरियन में खेले जाने वाले मैच में बल्लेबाजी में 10,000 रन और विकेटकीपिंग में 400 शिकार हासिल करने की विशिष्ट उपलब्धि हासिल कर सकते हैं. धोनी को बल्लेबाजी में वनडे में 10,000 रन पूरे करने के लिए केवल 98 रन की दरकार है और पूरी संभावना है कि आगामी सीरीज के दौरान वह इस मुकाम पर पहुंचने वाले दुनिया के 12वें और भारत के चौथे बल्लेबाज बन जाएंगे.

धोनी ने अब तक 313 मैचों की 269 पारियों में 51.57 की औसत से 9902 रन बनाए हैं. भारत की तरफ से उनसे पहले सचिन तेंदुलकर (18426 रन), सौरव गांगुली (11363) और राहुल द्रविड़ (10889) ने दस हजार से अधिक रन बनाए हैं.

डरबन में पहली बार वनडे मैच जीता भारत, दक्षिण अफ्रीका को छह विकेट से हराया

धोनी बनेंगे ‘दस हजारी’
यह 36 वर्षीय बल्लेबाज भले ही सबसे कम पारियों में 10 हजार रन पूरे करने का रिकॉर्ड नहीं बना पाएंगे, लेकिन सबसे कम पारियों में इस मुकाम पर पहुंचने वाले बल्लेबाजों की तालिका में चौथे नंबर पर काबिज हो सकते हैं. तेंदुलकर ने 259, गांगुली ने 263 और रिकी पोंटिंग ने 266 पारियों में यह उपलब्धि हासिल की. धोनी ने अब तक 268 पारियां खेली हैं और वह जैक कैलिस (272 पारियां) को पीछे छोड़ सकते हैं.

विराट कोहली का बल्ला गरजा और डरबन में बन गए एक साथ इतने सारे रिकॉर्ड

‘400’ क्लब में शामिल हो सकते हैं धोनी
विकेटकीपिंग की बात करें तो धोनी को वनडे में 400 शिकार पूरे करने के लिए केवल दो कैच या स्टंप की जरूरत है. उन्होंने अब तक 293 कैच और रिकार्ड 105 स्टंप सहित कुल 398 शिकार किए हैं. 
श्रीलंका के कुमार संगकारा (482), ऑस्ट्रेलिया के एडम गिलक्रिस्ट (472) और दक्षिण अफ्रीका के मार्क बाउचर (424) ने ही उनसे अधिक शिकार किये हैं.

कैच का तिहरा शतक भी लगा सकते हैं धोनी
यही नहीं, धोनी को कैच का तिहरा शतक पूरा करने के लिए भी केवल सात कैच की दरकार है और यह उपलब्धि हासिल करने वाले वह दुनिया के चौथे विकेटकीपर होंगे. उनसे पहले गिलक्रिस्ट, बाउचर और संगकारा इस मुकाम पर पहुंचे हैं.

कप्तान कोहली भी बना सकते हैं छक्कों का शतक
भारतीय कप्तान विराट कोहली भी इस सीरीज के दौरान 100 छक्के लगाने वाले बल्लेबाजों के विशिष्ट क्लब में शामिल हो सकते हैं, जिसके लिए उन्हें केवल दो छक्कों की दरकार है. कोहली ने अब तक 203 मैचों में 98 छक्के लगाएये हैं. 

वनडे में अब तक 32 बल्लेबाजों ने छक्के लगाने का सैकड़ा पूरा किया है. इनमें सात भारतीय धोनी (216), तेंदुलकर (192), गांगुली (190), रोहित शर्मा (163), युवराज सिंह (155), वीरेंद्र सहवाग (135) और सुरेश रैना (120) भी शामिल हैं.

डरबन में कोहली ने एक शतक से बनाए 5 रिकॉर्ड

1. डरबन में विराट कोहली ने अपने वनडे करियर का 33वां शतक जमाया और टीम इंडिया को जीत मिली. चेस का पीछा करते हुए कोहली के बल्ले से निकला यह 18वां शतक रहा, जिसमें टीम इंडिया को जीत मिली है.

2. डरबन में इससे पहले टीम इंडिया कभी नहीं जीती थी. यह पहला मौका था जब डरबन में टीम इंडिया को जीत मिली है.

3. इस मैच से पहले डरबन में भारत का सर्वाधिक स्कोर 250 रन था, जबकि इस मैच में टीम इंडिया ने 270 रनों के लक्ष्य को 45वें ओवर में हु पूरा कर लिया.

4. 203 वनडे मैचों में विराट कोहली ने 33वां शतक लगाया. इसके साथ ही औसत हर छह मैच में शतक लगाने का हो गया.

5. बतौर कप्तान विराट कोहली के 41वें मैच में यह 11वां शतक था. इससे पहले सौरव गांगुली ने बतौर कप्तान इतने 142 मैचों में बनाए थे. वहीं रिकी पोंटिंग ने 22 और एबी डिविलियर्स ने बतौर कप्तान 13 शतक लगाए हैं. 

डरबन में पहली बार वनडे मैच जीता भारत 
टेस्ट सीरीज में 1-2 से शिकस्त झेलने वाली भारत ने वनडे सीरीज का आगाज जीत के साथ किया है. भारत ने गुरुवार को किंग्समीड स्टेडियम में खेले गए पहले वनडे मैच में दक्षिण अफ्रीका को छह विकेट से परास्त कर दिया. इसी के साथ मेहमान टीम ने छह वनडे मैचों की सीरीज में 1-0 की बढ़त ले ली है. 

भारत की जीत में कप्तान विराट कोहली (112) के वनडे करियर के 33वें शतक, अजिंक्य रहाणे (79) के अर्धशतक के अलावा कुलदीप यादव (34-3) और युजवेंद्र चहल (45-2) की फिरकी की अहम भूमिका रही. कुलदीप और चहल ने दक्षिण अफ्रीका को 50 ओवरों में आठ विकेट पर 269 रनों पर सीमित कर दिया और फिर भारत ने कोहली-रहाणे के बीच चौथे विकेट के लिए हुई 189 रनों की साझेदारी के दम पर 270 रनों के लक्ष्य को 45.3 ओवरों में चार विकेट खोकर हासिल कर जीत के साथ सीरीज की शुरुआत की. 

इस जोड़ी ने दक्षिण अफ्रीकी कप्तान फाफ डु प्लेसिस की 112 गेंदों में 11 चौके और दो छक्कों की मदद से खेली गई 120 रनों की पारी पर पानी फेर दिया.