close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

INDvsSA: रोहित शर्मा का खुलासा, 2 साल से ओपनिंग के लिए तैयार था, मौका मिला और...

India vs South Africa: रोहित शर्मा ने बतौर ओपनर टेस्ट शतक जड़ने के बाद बताया कि उन्होंने ओपनिंग की तैयारी कैसे की. 

INDvsSA: रोहित शर्मा का खुलासा, 2 साल से ओपनिंग के लिए तैयार था, मौका मिला और...
रोहित शर्मा ने दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ विजाग टेस्ट के पहले दिन 115 रन की नाबाद पारी खेली. उन्होंने अपनी पारी में पांच छक्के जमाए. (फोटो: IANS)

विशाखापत्तनम: रोहित शर्मा ने टेस्ट मैच में ओपनिंग करने के मौके को दोनों हाथों से लपक लिया है. उन्होंने दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ (India vs South Africa) पहले टेस्ट मैच के पहले दिन बुधवार को 115 रन की पारी खेली. रोहित शर्मा (Rohit Sharma) दिन का खेल खत्म घोषित होने तक नाबाद रहे. इस तरह अब वे गुरुवार को भी अपनी पारी आगे बढ़ाने उतरेंगे. रोहित ने मैच के बाद बताया कि वे इस जिम्मेदारी के लिए मानसिक रूप से तैयार थे. 

मेजबान भारतीय टीम (Team India) ने दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ पहले टेस्ट के पहले दिन बिना विकेट गंवाए 202 रन बनाए हैं. इसमें आधे से ज्यादा रन रोहित के हैं. रोहित शर्मा ने मैच के बाद बताया, ‘मेरे ओपनिंग करने के बारे में लंबे समय से विचार हो रहा था. वेस्टइंडीज दौरे पर मुझे साफ तौर पर कहा था कि ऐसा होने वाला है. वेस्टइंडीज से पहले ऑस्ट्रेलिया दौरे पर भी यह लग रहा था कि मुझे कभी ना कभी ओपनिंग करने के लिए कहा जा सकता है.’ 

यह भी पढ़ें: रोहित शर्मा ने शतक लगाकर की ब्रैडमैन की बराबरी, आंकड़े देख हैरान रह जाएंगे आप 

रोहित शर्मा ने कहा, ‘ मैं एक तरह से पिछले दो साल से ही इसके लिए तैयार था. मुझे अहसास था कि मैं पारी की शुरुआत कर सकता हूं.’ रोहित शर्मा ने 27 टेस्ट मैच मध्यक्रम में बैटिंग करते हुए खेले हैं. यह उनका 28वां टेस्ट है. रोहित ने इसमें शतक लगाकर यह जता दिया कि वे अपनी इस नई पारी के लिए तैयार हैं. 

रोहित शर्मा ने कहा, ‘मुझे लगता है कि ओपनिंग करना मेरे खेल के अनुकूल है. जब मैं पांचवे या छठे क्रम पर बल्लेबाजी करता हूं तो मुझे इंतजार करना होता है. ओपनिंग करते वक्त ऐसा नहीं है. बतौर ओपनर पैड पहनो और बल्लेबाजी करने के लिए उतरो. यहां दिमाग तरोताजा रहता है. हमें पता रहता है कि नई गेंद का सामना करना पड़ेगा. आपको गेंदबाजों और फील्डरों के बारे में पता होता है. ऐसे में आपकी योजना थोड़ी आसान हो जाती है.’

यह भी पढ़ें: सिडनी में आया एलिसा हीली का तूफान, बनाया टी20 का सबसे बड़ा स्कोर

टेस्ट में ओपनिंग करना चैलेंजिंग माना जाता है. आपने ओपनिंग के लिए कैसे हामी भरी? इस सवाल पर रोहित ने कहा, ‘जब आप अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट खेलते हैं तो मौके की तलाश में होते हैं. मेरे लिए यह शानदार मौका है. हां आगे काफी चुनौतियां होंगी, लेकिन मेरा ध्यान उस पर नहीं है. मैं वर्तमान में रहना पसंद करता हूं. मैं जिस मैच में खेलता हूं, उसी के बारे में सोचता हूं.’