Vizag ODI: आज एक ही मैच में धोनी-कोहली पूरे कर सकते हैं 10 हजार रन

विराट कोहली और रोहित शर्मा के शतकों ने गुवाहाटी में पिछले मैच में 323 रन के लक्ष्य को आसान बनाकर भारत को पांच मैचों की सीरीज में 1-0 से बढ़त दिलाई.

Vizag ODI: आज एक ही मैच में धोनी-कोहली पूरे कर सकते हैं 10 हजार रन
दूसरा वन-डे मैच विजाग में 24 अक्टूबर को खेला जाएगा (PIC : IANS)

नई दिल्ली: वेस्टइंडीज के खिलाफ भारत ने अपना दबदबा बनाया हुआ है. गुवाहाटी में टीम इंडिया ने पहले वनडे में 323 रन के लक्ष्य को बेहद आसानी से पा कर जीत हासिल की. विश्व के नंबर 1 और नंबर 2 बल्लेबाजों विराट कोहली (140) और रोहित शर्मा (152) वेस्टइंडीज के लिए पर्याप्त रहे. अगला मैच विशाखापट्टनम में आज (24 अक्टूबर) को खेला जाएगा. इस मैच में तीन भारतीय बल्लेबाज खास रिकॉर्ड अपने नाम कर सकते हैं. 

शिखर धवन बना सकते हैं 5000 रन
 'गब्बर' के नाम से जाने जाने वाले शिखर धवन पहले वनडे में रंग में दिखाई नहीं पड़े. वह ओशने थॉमस की गेंद पर केवल 4 रन बनाकर आउट हो गए. अब बाएं हाथ के इस बल्लेबाज की नजर विशाखापत्तनम में अपने वनडे करियर का 5,000 रन पूरे करने पर होगी. यदि वह ऐसा कर लेते हैं तो 13वें ऐसे भारतीय बल्लेबाज बन जाएंगे जिन्होंने 5000 रन बनाए हैं. धवन ने 111 वनडे में अब तक 46.41 की औसत से 4827 रन बनाए हैं. वे 5000 रन से 173 रन दूर हैं. हालांकि, दूसरे वनडे में ही इस मुकाम को हासिल करना थोड़ा मुश्किल होगा लेकिन यदि वह ऐसा कर पाते हैं तो यह उनका सर्वाधिक निजी स्कोर होगा.


 
महेंद्र सिंह धोनी 10,000 के करीब
महेंद्र सिंह धोनी ने इस साल लॉर्ड्स में अपने वनडे करियर के 10000 रन पूरे किए थे. वे ऐसा करने वाले भारत के चौथे और विश्व के 12वें बल्लेबाज हैं. धोनी ने 328 मैचों में 50.62 की औसत से 10,123 रन बनाए हैं. उन्होंने इनमें से 174 रन एशिया-11 की तरफ से खेलते हुए बनाए हैं. 2007 में धोनी अफ्रो एशिया कप 2007 में तीन मैचों की सीरीज खेले थे. भारत के लिए खेलते हुए धोनी अपने 10,000 वनडे रन से 51 रन दूर हैं. यदि धोनी को बल्लेबाजी का मौका मिलता है तो रिकॉर्ड बुक में उनके नाम एक पन्ना जुड़ जाएगा. 

विराट कोहली बन सकते हैं सबसे तेज 10,000 रन बनाने वाले
पूरी दुनिया में चेस मास्टर के नाम से जाने जाने वाले विराट कोहली की रनों की भूख लगातार बढ़ रही है. भारतीय कप्तान अब 10,000 रनों के क्लब से कुछ ही कदम दूर हैं. सचिन तेंदुलकर ने 2001 में 259 पारियां खेलकर यह लक्ष्य हासिल किया था. विराट कोहली 204 पारियों में 9,919 रन बना चुके हैं. उन्हें 10,000 रन पूरा करने के लिए केवल 81 रन की जरूरत है. उनकी जो फॉर्म चल रही है, उससे लगता है कि वेे अगले वनडे में इस लक्ष्य को हासिल कर सकते हैं. अगर वेे ऐसा कर लेते हैं तो सचिन के रिकॉर्ड को बड़े अंतर से पीछे छोड़ देंगे.

विराट कोहली और रोहित शर्मा के शतकों ने गुवाहाटी में पिछले मैच में 323 रन के लक्ष्य को आसान बनाकर भारत को पांच मैचों की सीरीज में 1-0 से बढ़त दिलाई. गुवाहाटी में विराट और रोहित ने भारत को 47 गेंद बाकी रहते जीत दिलाकर वेस्टइंडीज का रहा सहा मनोबल भी तोड़ दिया. शीर्षक्रम के बल्लेबाजों के फॉर्म के चलते मध्यक्रम को कुछ करने की जरूरत ही नहीं पड़ी.