बंगाल के ईश्वरन खटखटा रहे टीम इंडिया का दरवाजा, दूर कर सकते हैं ओपनिंग की कमजोरी

Duleep Trophy Final: 24 साल के अभिमन्यु ईश्वरन ने इंडिया रेड की ओर से खेलते हुए इंडिया ग्रीन के खिलाफ 153 रन की बेहतरीन पारी खेली. 

बंगाल के ईश्वरन खटखटा रहे टीम इंडिया का दरवाजा, दूर कर सकते हैं ओपनिंग की कमजोरी
24 साल के अभिमन्यु ईश्वरन 51 प्रथमश्रेणी मैच खेल चुके हैं. (फोटो साभार: easwaranabhimanyu1@Instagram)

नई दिल्ली: वीरेंद्र सहवाग जैसे कुछ खिलाड़ियों को छोड़ दें तो आमतौर पर जब भी कोई क्रिकेटर शतक के करीब होता है तो एक्स्ट्रा एलर्ट हो जाता है. सावधानी कुछ ऐसे बरतना शुरू कर देता है, जैसे दूध का जला छाछ पी रहा हो. लेकिन बंगाल के अभिमन्यु ईश्वरन (Abhimanyu Easwaran) अलग ही मिट्टी के बने हैं. उन्होंने शुक्रवार को दलीप ट्रॉफी के फाइनल में शतक ठीक बनाने से पहले लूडो खेल रहे थे. 

24 साल के अभिमन्यु ईश्वरन दलीप ट्रॉफी (Duleep Trophy) में इंडिया रेड टीम (India Red) के लिए खेल रहे हैं. उनके सामने इंडिया ग्रीन (India Green) की टीम है. वर्षाबाधित इस मैच में इंडिया ग्रीन ने पहले बैटिंग करते हुए पहली पारी में 231 रन बनाए. इंडिया ग्रीन पर एक समय 150 रन के भीतर सिमटने का खतरा मंडरा रहा था. लेकिन पुछल्लेक्रम के बल्लेबाज मयंक मारकंडे ने 76 रन की बेहतरीन पारी खेलकर अपनी टीम को 200 के पार पहुंचा दिया. इंडिया रेड की ओर से जयदेव उनादकट ने चार और संदीप वारियर व आवेश खान ने दो-दो विकेट झटके. 

यह भी पढ़ें: 12 साल के बच्चे की एशेज देखने की अनोखी कहानी, 4 साल तक जमा करता रहा कचरा और...

इंडिया रेड की पारी अभिमन्यु ईश्वरन के नाम रही. उन्होंने 153 रन की बेहतरीन पारी खेलकर अपनी टीम की लीड सुनिश्चत की. जब वे आउट हुए, तब तक इंडिया का स्कोर 265 रन तक पहुंच चुका था. इंडिया रेड ने तीसरे दिन का खेल खत्म होने तक छह विकेट पर 345 रन बना लिए हैं. उसकी यह बढ़त मैच में निर्णायक साबित हो सकती है. 

ब्रेक के दौरान खेलते रहे लूडो
बहरहाल, अब बात अभिमन्यु ईश्वरन के खास शतक की, जिसे उन्होंने लूडो खेलने के बाद बनाया. क्रिकइंफो की रिपोर्ट के मुताबिक, जब वे 83 के निजी स्कोर पर खेल रहे थे, तब बारिश हो गई. करीब एक घंटे का ब्रेक लेना पड़ा. इस दौरान जहां सभी खिलाड़ी बातचीत में मस्त रहे या वीडियो फुटेज देखकर अपनी या विरोधी की कमियां देखते रहे, वहीं, ईश्वरन इस ब्रेक का लूडो खेलते नजर आए. 

बहन को समर्पित किया शतक 
अभिमन्यु ईश्वरन ने बाद में मैदान पर उतरकर अपना शतक पूरा किया. उन्होंने शतक बनाने के बाद राखी निकाली. ईश्वरन ने राखी दिखाकर अपना शतक बहन को समर्पित किया. ईश्वरन का यह 13वां प्रथमश्रेणी शतक है. देहरादून में जन्मे ईश्वरन बंगाल के लिए खेलते हैं. उन्होंने 51 प्रथमश्रेणी और 49 वनडे मैच खेले हैं. उन्होंने प्रथमश्रेणी में 48.32 और वनडे में 50.31 की औसत से रन बनाए हैं. 

यह भी देखें: अनुष्का शर्मा से पहली मुलाकात में नर्वस हो गए थे विराट, इंटरव्यू में किए और भी खुलासे

लंबी पारियां खेलने की आदत
जो क्रिकेटप्रेमी घरेलू क्रिकेट में नजर रखते हैं, वे जानते हैं कि अभिमन्यु ईश्वरन को लंबी पारियां खेलने में महारत हासिल है. उन्होंने रणजी के पिछले सीजन में 95.66 की औसत से 861 रन बनाए थे. उनके इस खेल की सबसे बड़ी खासियत यह थी कि उन्होंने जब भी अच्छी शुरुआत की तो इसे बड़ी पारी में बदला. इसका सबूत यह है कि उन्होंने पिछले साल हैदराबाद के खिलाफ 186, दिल्ली के खिलाफ 183 और पंजाब के खिलाफ 201 रन बनाए. इस खिलाड़ी ने इसी साल मई में श्रीलंका ए के खिलाफ 233 रन की पारी भी खेली. 

राहुल की जगह मिल सकता है मौका 
अभिमन्यु ईश्वरन की बल्लेबाजी की बात करें तो कॉम्पैक्ट टेक्नीक उनके उज्जवल भविष्य का संकेत देती है. भारतीय टीम को लंबे समय से टेस्ट क्रिकेट में ऐसे बल्लेबाज की तलाश है, जो तकनीकी रूप से दक्ष हो और लंबी पारियां खेलता हो. विंडीज दौरे पर मयंक अग्रवाल और केएल राहुल का खेल औसत दर्जे का रहा. राहुल को कई मौके मिल चुके हैं. पृथ्वी शॉ निलंबित चल रहे हैं. ऐसे में चयनकर्ता ईश्वरन को मौका दे सकते हैं. भारत को अगले महीने दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ टेस्ट सीरीज खेलनी है. 

Zee News App: पाएँ हिंदी में ताज़ा समाचार, देश-दुनिया की खबरें, फिल्म, बिज़नेस अपडेट्स, खेल की दुनिया की हलचल, देखें लाइव न्यूज़ और धर्म-कर्म से जुड़ी खबरें, आदि.अभी डाउनलोड करें ज़ी न्यूज़ ऐप.