Zee Rozgar Samachar

INDvsENG: आशीष नेहरा ने भी कहा, ईशांत शर्मा को गेंदबाजी में करना होगा यह सुधार

एक अगस्त से शुरू हो रहे भारत और इंग्लैंड के बीच  टेस्ट सीरीज से पहले आशीष नेहरा ने कहा कहा की ईशांत शर्मा को अपनी लेंथ में सुधार करने की जरूरत है.

INDvsENG: आशीष नेहरा ने भी कहा, ईशांत शर्मा को  गेंदबाजी में करना होगा यह सुधार
आशीष नेहरा को ईशांत शर्मा से काफी उम्मीदें हैं लेकिन वे उनमें एक सुधार भी चाहते हैं. (फाइल फोटो)

 नई दिल्ली: भारत और इंग्लैंड के बीच टेस्ट क्रिकेट की जंग में अब तीन दिन ही रह गए हैं. टीम इंडिया के इंग्लैंड दौरे की टेस्ट सीरीज एक अगस्त से  शुरू हो जाएगी. इस सीरीज पर दुनिया भर के क्रिकेट प्रेमियों की निगाहें हैं. सीरीज से पहले दोनों ही टीमों की, खासकर टीम इंडिया की तैयारियों को लेकर चर्चाएं जोरों पर हैं और दिग्गजों के बयान और सलाह भी आते जा रहे हैं. इसी कड़ी में एक समय में भारत के तेज गेंदबाज रहे आशीष नेहरा ने टीम इंडिया को खास सलाह दी है. 

नेहरा ने इंग्लैंड के खिलाफ टेस्ट सीरीज के लिए भारतीय गेंदबाज इशांत शर्मा को उनकी लेंथ पर काम करने की सलाह दी है. वेबसाइट 'ईएसपीएन' की रिपोर्ट के अनुसार, नेहरा ने कहा कि इशांत को अपनी नियमितता पर ध्यान देने और शॉर्ट लेंथ की गेंदबाजी में थोड़ा बदलाव करने की जरूरत है. नेहरा ने कहा, "मैं जानता हूं कि इशांत बेहद अच्छे गेंदबाज हैं और लंबे प्रारूप के लिए कप्तान की नजर उन पर रहती है, लेकिन उन्हें अधिक रन देने से बचने की जरूरत है. ऐसे में वे जो जानते हैं, उस पर उन्हें अधिक ध्यान देने की जरूरत है."

पूर्व तेज गेंदबाज ने कहा, "इशांत को उनकी लेंथ पर काम करना होगा. मैं जानता हूं कि उनके पास वह लेंथ है, लेकिन वह शॉर्ट है. पिच के अनुसार, बल्लेबाज के अनुसार उन्हें अपनी लेंथ में बदलाव करना होगा. इस बदलाव के तहत ही वह एलिस्टर कुक और बेन कटिंग जैसे खिलाड़ियों का सामना कर सकते हैं."

इशांत की प्रशंसा करते हुए नेहरा ने कहा, "वह अनुभवी खिलाड़ी हैं और उन्होंने इंग्लैंड के खिलाफ सात टेस्ट मैच खेले हैं. ऐसे में उनका फिट होना भारतीय टीम के लिए लाभदायक होगा. अपनी शारीरिक फिटनेस के कारण ही वह इतने लंबे समय तक खेल सकते हैं."

प्रसाद की कुछ भी यही राय है ईशांत के बारे में
उल्लेखनीय है कि नेहरा के विचार भारतीय टीम के पूर्व गेंदाबाज कोच वेंकटेश प्रसाद से काफी मिलते हैं स हाइट है, पेस है उछाल है. लेकिन वे विभिन्न परिस्थितियों में खुद को ढाल नहीं पाते हैं प्रसाद का मानना है कि  सीमिंग ट्रैक पर, यदि आप अच्छी गेंद भी कर रहे हों लेकिन यदि थोड़ी शार्ट गेंद फेंकते हैं जो कि ईशांत की गेंदाबाजी का मिजाज है, तो आपकी गेंद बल्लेबाज के बल्ले का किनारा नहीं ले पाती और विकेट नहीं ले पाए. ऐसे में आप थोड़ा आगे गेंद फेंकने का प्रयास करते हैं तो वह एक फुल लेंथ गेंद बन जाती है जिससे कि बल्लेबाज उसे आसानी से खेल जाता है. ईशांत फुल लेंथ और छोटी गेंदों के बीच की लंबाई नहीं पकड़ पाते हैं.

इंडिया टेस्ट में बेस्ट, क्योंकि हमारे पास 8-9 बेहतरीन तेज गेंदबाज- इशांत शर्मा
बता दें कि ईशांत की शानदार गेंदबाजी के दम पर ही टीम इंडिया ने 2014 के इंग्लैंड दौरे के दूसरे टेस्ट मैच में जीत हासिल की थी जिसे इंग्लैंड जीत सकता था. कड़े मुकाबले में ईशांत ने दूसरी पारी में सात विकेट झटके थे जिससे की टीम इंडिया को इस मैच में इंग्लैंड को 319 रनों का लक्ष्य दिया था लेकिन ईशांत की गेंदाबाजी की बदौलत इंग्लैंड टीम 233 रनों पर ही सिमट गई जिससे टीम इंडिया ने यह मैच 95 रन से जीत लिया. 

Zee News App: पाएँ हिंदी में ताज़ा समाचार, देश-दुनिया की खबरें, फिल्म, बिज़नेस अपडेट्स, खेल की दुनिया की हलचल, देखें लाइव न्यूज़ और धर्म-कर्म से जुड़ी खबरें, आदि.अभी डाउनलोड करें ज़ी न्यूज़ ऐप.