close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

भारत की एक जीत से बदला समीकरण: अब प्लेइंग इलेवन हमारी नहीं, इंग्लैंड की चिंता

भारत और इंग्लैंड के बीच 5 मैचों की सीरीज का चौथा टेस्ट गुरुवार से खेला जाना है. तीन मैचों के बाद मेजबान इंग्लैंड दो मैच जीतकर 2-1 से आगे है.

भारत की एक जीत से बदला समीकरण: अब प्लेइंग इलेवन हमारी नहीं, इंग्लैंड की चिंता
इंग्लैंड के कप्तान जो रूट मौजूदा सीरीज के 3 मैच में सिर्फ एक अर्धशतक लगा सके हैं. (फाइल फोटो)

साउथम्पटन : भारत और इंग्लैंड के बीच गुरुवार से चौथा टेस्ट मैच खेला जाएगा. फिलहाल भारत पांच मैचों की सीरीज में 1-2 से पीछे है. ऐसे में चौथा टेस्ट दोनों ही टीमों के निर्णायक हो सकता है. भारत अगर इसे जीत लेता है, तो उसके सीरीज जीतने की उम्मीद बनी रहेगी. अगर वह यह मैच ड्रॉ कराता है तो सीरीज बराबर रहने की उम्मीद भी बनी रहेगी. दूसरी ओर, अगर इंग्लैंड यह मैच जीत लेता है, तो सीरीज का निर्णय भी हो जाएगा. चौथा टेस्ट जीतने पर वह सीरीज में 3-1 की अजेय बढ़त ले लेगा.  

कुक और जेनिंग्स की फॉर्म से परेशान है इंग्लैंड
सीरीज के शुरुआती दो टेस्ट हारने के बाद ओपनिंग जोड़ी भारत की सबसे बड़ी चिंता थी. तीसरे टेस्ट में शिखर धवन और केएल राहुल ने दोनों पारियों में 60-60 रन की साझेदारी की और भारत मैच जीता. इसके बाद से दोनों टीमों के समीकरण बदल गए हैं. अब ओपनिंग जोड़ी इंग्लैंड की चिंता है. उसके ओपनर एलिस्टेयर कुक और जेनिंग्स सीरीज में सिर्फ एक बार 50 से बड़ी साझेदारी कर सके हैं. जबकि, भारतीय ओपनर तीन बार ऐसा कर चुके हैं.

इंग्लैंड के मिडिल ऑर्डर पर भी दबाव
चौथा टेस्ट खेलने से पहले भारत की बजाय इंग्लैंड का मिडिल ऑर्डर ज्यादा दबाव में है. उसने नंबर 4 पर अब तक डेविड मलान और ओली पोप को आजमाया, पर ये दोनों ही फेल रहे हैं. यही कारण है कि इंग्लैंड ने चोटग्रस्त प्लेइंग इलेवन में जॉनी बेयरस्टो को शामिल करने के संकेत दिए हैं. तीसरे टेस्ट मैच में बेयरस्टो की उंगली टूट गई थी. अगर वे चौथे टेस्ट में खेले तो विकेटकीपिंग नहीं करेंगे. बेयरस्टो ने सीरीज में इंग्लैंड की तरफ से सबसे अधिक 206 रन बनाए हैं.

कप्तान रूट के लिए ज्यादा ऑलराउंडर भी बने मुसीबत
इंग्लैंड के पास इस समय तीन बेहतरीन ऑलराउंडर हैं. तीनों ऑलराउंडर बेन स्टोक्स, सैम कुरेन और क्रिस वोक्स ने दो-दो मैच खेले हैं. वोक्स ने 2 मैच में 149 रन बनाए और 8 विकेट झटके हैं. कुरेन ने 2 टेस्ट में 127 रन बनाए और 6 विकेट झटके हैं. स्टोक्स ने 2 टेस्ट में 99 रन बनाए और 8 विकेट झटके हैं. कप्तान जो रूट ने तीसरे मैच में बेन स्टोक्स को शामिल करने के लिए कुरेन को ड्रॉप कर दिया था. लेकिन टीम को इसका कोई फायदा नहीं मिला. ऐसे में कप्तान कुक को यह करना मुश्किल हो रहा है कि वे चौथे टेस्ट में किन दो ऑलराउंडर के साथ उतरें.

एंडरसन और ब्रॉड की जगह पक्की
इंग्लैंड की बॉलिंग लाइनअप लगभग तय है. इसकी अगुवाई एक बार फिर जेम्स एंडरसन और स्टुअर्ट ब्रॉड करेंगे. एंडरसन अगर इस मैच में अगर सात विकेट लेते हैं, तो वे टेस्ट क्रिकेट में सबसे अधिक विकेट लेने वाले तेज गेंदबाज बन जाएंगे. अभी यह रिकॉर्ड ऑस्ट्रेलिया के ग्लेन मैक्ग्रा के नाम है. मैक्ग्रा ने 563 और एंडरसन ने 557 विकेट लिए है. सबसे अधिक विकेट का रिकॉर्ड श्रीलंका के मुथैया मुरलीधरन के नाम है.

मोइन अली कर सकते हैं वापसी
इंग्लैंड के लेग स्पिनर आदिल राशिद तीन मैचों में खास प्रदर्शन नहीं कर पाए हैं. दूसरे टेस्ट में उन्होंने ना तो बॉलिंग की और ना ही बैटिंग की. वे इस मैच में कोई कैच भी नहीं पकड़ पाए. इसके विपरीत मोइन अली का भारत के खिलाफ अच्छा रिकॉर्ड है. उन्होंने चार साल पहले साउथम्पटन टेस्ट में भारत के खिलाफ 6 विकेट झटके थे. माना जा रहा है कि चौथे टेस्ट में आदिल की जगह मोइन को मिल सकती है.