INDvsENG: अगर टीम इंडिया करेगी इन 5 बातों पर भरोसा, लॉर्ड्स में लहरा देगी तिरंगा

एजबेस्टन टेस्ट में भारत की हार भले ही गई हो, लेकिन इस मैच से कई संकेत ऐसे मिलते हैं कि लॉर्ड्स में टीम इंडिया इंग्लैंड के लिए बड़ी मुसीबत खड़ी कर उसे एक बार फिर हरा सकती है. 

INDvsENG: अगर टीम इंडिया करेगी इन 5 बातों पर भरोसा, लॉर्ड्स में लहरा देगी तिरंगा
पहले टेस्ट में 31 रनों का हार का मामूली अंतर टीम इंडिया के हौसले को कम नहीं करेगा. (फोटो : reuters)

बर्मिंघम : इंग्लैंड में चल रही भारत और इंग्लैंड के बीच चल रही पांच टेस्ट मैचों की सीरीज के पहले मैच में टीम इंडिया भले ही हार गई हो, लेकिन इंग्लैंड के कप्तान जो रूट इस बात को भली भांति जानते हैं कि आगे उनकी राह आसान नहीं बल्कि मुश्किल ही होगी. यह समझना किसी के लिए भी मुश्किल नहीं होगा कि मैच जीतने की संभावना काफी समय तक दोनों ही टीमों की थी और 31 रनों से जीत कोई विश्वस्नीय जीत नहीं मानी जा सकती. इसका यह मतलब कतई नहीं कि भारत से मैच छीनने का श्रेय इंग्लैंड को नहीं जाता. लेकिन दोनों ही टीमों के कप्तान यह मानते हैं कि मैच किसी के भी पास जा सकता था. 

टीम इंडिया की बात करें तो भारतीय बल्लेबाजों की नाकामी जरूर निराश करने वाली बात है. कहा जा सकता है कि पिच में बल्लेबाजी वाकई मुश्किल थी लेकिन कप्तान विराट कोहली से बेहतर इस बात को कौन जानता होगा कि टीम इंडिया की बल्लेबाजी में सुधार की कितनी ज्यादा गुंजाइश है.यह उनके बयान से भी जाहिर हुआ. इस में टीम इंडिया की हार का कई बार विश्लेषण हो चुका है, लेकिन हम आपको बता रहे हैं कि वो कौन सी बातें हैं जो इस टेस्ट में टीम इडिया के लिए खास रहीं और वे सीरीज में आगे टीम इंडिया के लिए जीत का कारण भी बन सकती हैं. 

1 रविचंद्रन अश्विन का जबरदस्त फॉर्म
 इस मैच में अश्विन ने शानदार गेंदबाजी की और जहां पहली पारी में चार विकेट लिए वहीं दूसरी पारी में तीन विकेट लिए. इसके अलावा अश्विन ने दोनों ही पारियों में एलिस्टर कुक के एक ही तरीके से बोल्ड कर सनसनी फैला दी थी. दूसरी पारी में उन्होंने केटन जेनिंग्स और जो रूट को सस्ते में आउट कर दिया था. अश्विन इस मैच में सबसे ज्यादा 7 विकेट लेकर सबसे सफल गेंदबाज रहे थे. 

2   विराट कोहली का शानदार फॉर्म
इस मैच में विराट कोहली ने शानदार बल्लेबाजी करते हुए पहली पारी में 149 रन और दूसरी पारी में 51 रनों की पारी खेली. पहली पारी में वे आखिरी में आउट हुए तो दूसरी पारी में वे सातवें विकेट के रूप में आउट हुए थे. पहली पारी में विराट ने अकेले 149 रनों की पारी खेलते हुए टीम के आधे से ज्यादा रन खुद ही बना डाले. जिनमें 22 चौके और एक छक्का शामिल था.  विराट का यह फॉर्म निश्चित रूप से इंग्लैंड के लिए एक बड़े खतरे की घंटी होगी. 

3  ईशांत शर्मा का गेंदबाजी में बेहतरीन फॉर्म
इस मैच में भारत के तेज गेंदबाजों खासकर ईशांत शर्मा ने खासा प्रभावित किया इंग्लैंड की कंडीशन्स का फायदा उठा कर इंग्लैंड को उन्हीं के हथियार से चोट पहुंचाई. ईशांत की घातक गेंदबाजी की बदौलत ही इंग्लैंड की दूसरी पारी में एक समय स्कोर 7 विकेट पर केवल 87 रन हो गया था. ईशांत ने इस पारी में पांच विकेट लिए थे और मैच में कुल 6 विकेट लिए थे. 

4 बाकी तेज गेंदबाजों का बढ़िया प्रदर्शन
इस मैच में मोहम्मद शमी और उमेश यादव ने बढ़िया प्रदर्शन किया. मोहम्मद शमी ने खासतौर पर इंग्लैंड के बल्लेबाजों को परेशान किया और मैच की पहली पारी में 3 अहम विकेट भी लिए. इसके अलावा उमेश यादव ने दूसरी पारी में ज्यादा प्रभाव दिखाया और दो विकेट लिए.  ऐसे में अगले मैच में बुमराह के वापस आने के साथ साथ अगर भुवनेश्वर कुमार भी वापस आ गए तो इंग्लैंड की मुसीबतों का बढ़ना तय है. 

5 निचले क्रम की बल्लेबाजी का बढ़ता आत्मविश्वास
पहली पारी में केवल 100 रन पर पांच विकेट गिरने के बाद विराट कोहली टीम का स्कोर 274 तक पहुंचाने में कामयाब हो सके. हालाकि अंतिम पांच बल्लेबाजों ने केवल 40 रन ही स्कोर में जो़ड़े लेकिन उन्होंने विराट का इतना साथ जरूर दिया कि विराट को रन बनाने का वक्त और मौका दोनों मिल गए. मैच खत्म होने के बाद विराट ने खुद निचले क्रम की बल्लेबाजी की तारीफ की. 

Zee News App: पाएँ हिंदी में ताज़ा समाचार, देश-दुनिया की खबरें, फिल्म, बिज़नेस अपडेट्स, खेल की दुनिया की हलचल, देखें लाइव न्यूज़ और धर्म-कर्म से जुड़ी खबरें, आदि.अभी डाउनलोड करें ज़ी न्यूज़ ऐप.