INDvsNZ: धोनी ने कंगारुओं पर हल्ला बोलने के बाद कीवियों की ली खबर, चुन-चुनकर लगाए शॉट्स

एमएस धोनी ने न्यूजीलैंड में भी शानदार बल्लेबाजी जारी रखते हुए टीम इंडिया के लिए बड़ा स्कोर बनाने में अहम भूमिका निभाई.

INDvsNZ: धोनी ने कंगारुओं पर हल्ला बोलने के बाद कीवियों की ली खबर, चुन-चुनकर लगाए शॉट्स
एमएस धोनी ने ऑस्ट्रेलिया के बाद न्यूजीलैंड में भी अपना शानदार फॉर्म जारी रखा. (फाइल फोटो)

माउंट मोउनगुई: टीम इंडिया के पूर्व कप्तान एमएस धोनी ने हाल ही में अपनी बल्लेबाजी की लय हासिल की है. टीम इंडिया के ऑस्ट्रेलिया दौरे में धोनी ने तीन वनडे मैचों में शानदार हाफ सेंचुरी लगाई थी जिसमें से दो मैच विनिंग पारियां रहीं, जिसमें वे टीम इंडिया को जीत दिलाकर ही नाबाद पवेलियन वापस लौटे. अब धोनी ने वही फॉर्म न्यूजीलैंड में एक बार फिर दिखाया. धोनी ने वनडे सीरीज के दूसरे वनडे में एक बार फिर शानदार बल्लेबाजी करते हुए टीम इंडिया की पारी को बेहतरीन फिनिश दी. 

धोनी ने न्यूजीलैंड में माउंट माउनगुई में चल रहे भारत और न्यूजीलैंड के बीच दूसरे वनडे में 48 रनों की नाबाद पारी खेली और टीम का स्कोर 300 रन से ज्यादा करते हुए मेजबान टीम को 325 रनों की कड़ा लक्ष्य दिया. पहले मैच में धोनी को बल्लेबाजी करने का मौका नहीं मिला था और उनकी मदद के बिना ही टीम इंडिया ने न्यूजीलैंड पर 8 विकेट से बड़ी जीत हासिल की थी. इस मैच में धोनी ने केवल 33 गेंदों पर 48 रनों की शानदार पारी खेली. 

धोनी को मिला रायडू और केदार जाधव का साथ
धोनी इस मैच में 40वें ओवर में बल्लेबाजी करने आए जब टीम इंडिया के तीन अहम विकेट गिर चुके थे. रोहित शर्मा (87), शिखर धवन (66) और कप्तान विराट कोहली (43) टीम के लिए मजबूत नींव बना चुके थे. 40 ओवर तक टीम इंडिया का स्कोर 239 रन हो चुका था. धोनी ने आते ही इस बार रन बनाना शुरु कर दिया और रयाडू के साथ मिलकर 39 गेंदों पर 35 रनों की साझेदारी की. रायडू अपनी पारी को गति दे ही रहे थे कि वे अपनी फिफ्टी से चूक गए और आउट हो गए.

MS Dhoni in 2nd ODI vs NZ धोनी यहां नहीं रुके और केदार जाधव के साथ मिलकर उन्होंने तेजी से रन बनाए और दोनों ने 26 गेंदों पर 53 रनों की साझेदारी कर टीम का स्कोर 324 रन कर दिया. केदार जाधव ने 10 गेंदों  पर शानदार 22 रन बनाए और धोनी ने 33 गेंदों पर पांच चौकों और एक छक्के के साथ 48 रनों की पारी खेली. इस पारी के साथ धोनी ने अपने ऊपर लगे उस आरोप को गलत साबित करने कोशिश की जिसके मुताबिक वे आते ही शुरू में काफी धीमी बल्लेबाजी करते हैं. धोनी ने इस पारी में तीसरी गेंद पर पहला रन, चौथी गेंद पर एक रन लेने के बाद पांचवी गेंद पर चौका लगाया. इसके बाद वे नहीं रुके. इसके बाद उन्होंने अपने रनों को अपनी गेंदों से आगे ही रखा.