close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

दक्षिण अफ्रीका पर 130 साल की ‘सबसे बड़ी हार’ का खतरा, भारत के पास ऐतिहासिक मौका

भारत और दक्षिण अफ्रीका के बीच शनिवार से तीसरा टेस्ट मैच खेला जाएगा. भारतीय टीम सीरीज में 2-0 से आगे है. अब उसकी नजर क्लीन स्वीप पर है.

दक्षिण अफ्रीका पर 130 साल की ‘सबसे बड़ी हार’ का खतरा, भारत के पास ऐतिहासिक मौका

नई दिल्ली: मेजबान भारत और दक्षिण अफ्रीका (India vs South Africa) की क्रिकेट सीरीज अब अपने अंजाम तक पहुंचने को है. दोनों टीमें शनिवार (19 अक्टूबर) से टेस्ट सीरीज के आखिरी मैच में आमने-सामने होंगी. यह मैच सीरीज का तीसरा टेस्ट (Ranchi Test) है, जो रांची में खेला जाना है. भारत पहले दो टेस्ट मैच जीतकर सीरीज में अजेय बढ़त बना चुका है. अब उसके पास तीसरा मैच जीतकर इतिहास रचने का मौका है. भारत अगर तीसरा टेस्ट जीता है, तो वह दक्षिण अफ्रीका (South Africa) के खिलाफ पहली बार क्लीन स्वीप करेगा. 

भारत और दक्षिण अफ्रीका के बीच पहली टेस्ट सीरीज 1992-93 में खेली गई थी. इसे दक्षिण अफ्रीका ने 1-0 से जीता था. तब से अब तक दोनों टीमें 38 टेस्ट मैच खेल चुकी हैं. इनमें से 15 मैच दक्षिण अफ्रीका ने जीते हैं. भारतीय टीम (Team India) ने 13 मैच जीते हैं. भारत ने दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ तीन टेस्ट सीरीज जीती हैं, लेकिन उसने कभी भी क्लीन स्वीप (कम से कम 3 मैच की सीरीज) नहीं किया है. दक्षिण अफ्रीका ने भारत से सात टेस्ट सीरीज जीती हैं. दक्षिण अफ्रीका ने भी भारत के खिलाफ कभी भी क्लीन स्वीप नहीं किया है. 

यह भी पढ़ें: INDvsSA: दक्षिण अफ्रीका चोट से परेशान, टीम इंडिया में भी बदलाव तय, ये हो सकती है प्लेइंग XI

दक्षिण अफ्रीका की बात करें तो 1889 से टेस्ट क्रिकेट खेल रहा है. इन 130 साल में सिर्फ दो टीमें ही दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ क्लीन स्वीप (कम से कम 3 मैच की सीरीज) कर सकी हैं. इनमें ऑस्ट्रेलिया और इंग्लैंड शामिल हैं. ऑस्ट्रेलिया ने तीन बार दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ क्लीन स्वीप किया है. इंग्लैंड ऐसा दो बार कर चुका है. 

IND SA

13 साल में पहला मौका... 
अगर भारत की बात करें तो उसके पास क्लीन स्वीप करने का सुनहरा मौका है. अगर भारत तीसरा टेस्ट जीत लेता है तो यह 13 साल में पहला मौका होगा, जब दक्षिण अफ्रीका को क्लीन स्वीप का सामना करना पड़ेगा. आखिरी बार ऐसा 2006 में हुआ था. तब ऑस्ट्रेलिया ने उसे तीन मैचों की सीरीज में 3-0 से हराया था. अगर दक्षिण अफ्रीका रांची में हारा तो वह 130 साल के अपने क्रिकेट इतिहास की पांच सबसे बड़ी हार की बराबरी कर लेगा. 

कोहली भी बनाएंगे रिकॉर्ड 
अगर भारत तीसरा टेस्ट जीत लेता है तो विराट कोहली (Virat Kohli) भी एक रिकॉर्ड बनाएंगे. ऐसा होने पर वे ऐसे पहले कप्तान बन जाएंगे, जिनके नेतृत्व में भारत ने 30 टेस्ट मैच जीते हैं. दूसरे नंबर पर महेंद्र सिंह धोनी हैं. भारत ने धोनी की कप्तानी में 27 टेस्ट मैच जीते हैं.