close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

INDvsSA: उमेश-शमी ने बिगाड़ी मेहमानों की हालत, टीम इंडिया जीत से महज 2 कदम दूर

भारतीय टीम ने रांची टेस्ट में 497/9 का स्कोर बनाया है. इसके जवाब में दक्षिण अफ्रीकी टीम पहली पारी में 162 रन पर सिमट गई. उसने दूसरी पारी में भी 8 विकेट गंवा दिए हैं. 

INDvsSA: उमेश-शमी ने बिगाड़ी मेहमानों की हालत, टीम इंडिया जीत से महज 2 कदम दूर
10 गेंद पर 31 रन बनाने वाले उमेश यादव ने पहली पारी में 3 और दूसरी पारी में 2 विकेट लिए. उन्होंने एक रनआउट भी किया. (फोटो: Reuters)

नई दिल्ली: भारतीय टीम दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ (India vs South Africa) तीन मैचों की टेस्ट सीरीज में क्लीन स्वीप के करीब पहुंच गई है. उसने मेहमान टीम के खिलाफ तीसरे टेस्ट में शिकंजा कस लिया है. कोहली एंड कंपनी ने दक्षिण अफ्रीका (South Africa) को पहली पारी में 162 रन पर समेटा. इसके बाद उसने दूसरी पारी में भी मेहमान टीम के आठ विकेट महज 132 रन पर झटक लिए. भारतीय टीम (Team India) ने अपनी पहली पारी में 497/9 का स्कोर बनाया है. इस तरह उसे दक्षिण अफ्रीका पर अब भी 203 रन की बढ़त हासिल है. 

भारतीय टीम अब तीसरा टेस्ट (Ranchi Test) जीतने से महज दो विकेट दूर है. दक्षिण अफ्रीका के लिए जीत तो अब दूर का ख्वाब हो चुकी है. मैच ड्रॉ कराना भी उसकी कूबत में नहीं दिख रहा है. मेहमान टीम को तो पारी की हार टालने के लिए ही कम से कम 203 रन बनाने होंगे. भारत अगर तीसरा टेस्ट जीता तो वह तीन मैचों की सीरीज 3-0 से अपने नाम कर लेगा. उसने पहला टेस्ट 203 रन और दूसरा टेस्ट पारी व 137 रन से जीता था. 

यह भी पढ़ें: INDvsSA: ‘हिटमैन’ रोहित ने डॉन ब्रैडमैन को पीछे छोड़ा, बनाए कई रिकॉर्ड 

रांची में खेले जा रहे तीसरे टेस्ट की बात करें तो दक्षिण अफ्रीकी टीम इस मैच में पूरी तरह असहाय नजर आ रही है. उसने मैच के दूसरे दिन नौ रन पर दो विकेट गंवा दिए थे. तीसरे दिन भी उसकी शुरुआत अच्छी नहीं रही. टीम के स्कोर में अभी सात रन ही जुड़े थे कि कप्तान फाफ डू प्लेसिस (1) आउट हो गए. उन्हें उमेश यादव (Umesh Yadav) ने बोल्ड किया. 

 

दक्षिण अफ्रीकी टीम अपने कप्तान के विकेट के झटके से कभी भी नहीं उबर पाई और महज 162 रन में सिमट गई. उसकी ओर से जुबेर हमजा (62), जॉर्ज लिंडे (37) और तेम्बा बावूमा (32) को छोड़कर कोई भी दोहरी रनंसख्या को नहीं छू सका. भारत की ओर से दक्षिण अफ्रीका को पहली पारी में उमेश यादव ने तीन झटके दिए. रवींद्र जडेजा, शाहबाज नदीम और मोहम्मद शमी ने दो-दो विकेट झटके. रविचंद्रन अश्विन को एक भी विकेट नहीं मिला. 

भारतीय गेंदबाजों ने पहली पारी की तरह दूसरी पारी में भी दक्षिण अफ्रीकी बल्लेबाजों को नाकों चने चबवाए. मेहमान टीम के टॉप-6 बल्लेबाजों में सिर्फ डीन एल्गर (16) ही दोहरे अंक में प्रवेश कर सके. टॉप-6 के बाकी पांच बल्लेबाजों में डिकॉक और हेनरिक क्लासेन 5-5 और डू प्लेसिस चार रन बनाकर आउट हुए. तेम्बा बावूमा और जुबेर हमजा खाता भी नहीं खोल सके. 

 

भारत ने दक्षिण अफ्रीका की दूसरी पारी में महज 36 रन पर पांच विकेट झटक लिए थे. तब मेहमान टीम पर 100 रन के भीतर आउट होने का खतरा मंडरा रहा था. लेकिन निचलेक्रम ने अच्छी बल्लेबाजी कर टीम को शर्मसार होने से बचा लिया. जॉर्ज लिंडे ने 27, डेन पीट ने 23 और कैगिसो रबाडा ने 12 रन बनाए. दिन का खेल खत्म होने के समय थियूनिस डि ब्रुईन 30 और एनरिक नोर्त्जे पांच रन बनाकर क्रीज पर नाबाद थे. 

डि ब्रुईन बतौर कन्कशन सब प्लेयर उतरे 
दक्षिण अफ्रीका की दूसरी पारी में ओपनर डीन एल्गर के सिर में चोट लग गई. उन्हें रिटायर्ड हर्ट होना पड़ा. उनकी जगह थियूनिस डि ब्रुईन ने कन्कशन सब प्लेयर के तौर पर बैटिंग की. जब वे बैटिंग करने उतरे तब दक्षिण अफ्रीका का स्कोर 6 विकेट पर 67 रन था. ब्रुईन ने एक छोर पर अच्छी बल्लेबाजी की. जब दिन का खेल खत्म हुआ तब दक्षिण अफ्रीका का स्कोर आठ विकेट पर 132 रन था. 

(इनपुट: एजेंसी)