INDvsWI: विराट कोहली ने क्यों कहा- कप्तान के आगे सिर्फ ‘C’, बाकी सब...

भारत ने वेस्टइंडीज को दूसरे टेस्ट में 257 रन से हराया. इसके साथ ही उसने सीरीज 2-0 से अपने नाम कर ली. 

INDvsWI: विराट कोहली ने क्यों कहा- कप्तान के आगे सिर्फ ‘C’, बाकी सब...
विराट कोहली ने वेस्टइंडीज के खिलाफ दो मैचों की सीरीज में 136 रन बनाए. (फाइल फोटो)

नई दिल्ली: भारतीय क्रिकेट टीम ने वेस्टइंडीज के खिलाफ (India vs West Indies) 71 साल की सबसे शानदार जीत दर्ज की. भारत ने दो मैचों की सीरीज में क्लीन स्वीप किया. इतना ही नहीं उसने वेस्टइंडीज को चार में से दो पारियों में 120 रन का आंकड़ा भी नहीं छूने दिया. विंडीज पर इस ऐतिहासिक जीत में भारतीय टीम का नेतृत्व कप्तान विराट कोहली (Virat Kohli) ने किया. विराट देश के सबसे सफल टेस्ट कप्तान भी बन गए हैं. हालांकि, वे इस जीत का श्रेय अपनी टीम को देते हैं. 

भारत ने वेस्टइंडीज को दूसरे टेस्ट में 257 रन से हराया. भारत ने मैच में 416 और 168/4 रन बनाए. विंडीज की टीम इसके जवाब में 117 और 210 रन पर ही ढेर हो गई. इस मैच में भारत की ओर से हनुमा विहारी ने शतक बनाया. जसप्रीत बुमराह ने विंडीज की पहली पारी में हैट्रिक समेत छह विकेट झटके. विंडीज की दूसरी पारी में रवींद्र जडेजा और मोहम्मद शमी ने तीन-तीन विकेट लिए. 

यह भी पढ़ें: INDvsWI: कप्तान कोहली ने हनुमा विहारी को बताया सीरीज की खोज, बुमराह को कहा BEST

क्रिकइंफो के मुताबिक मैच के बाद कप्तान विराट कोहली ने अपने खिलाड़ियों के प्रदर्शन की सराहना करते हुए कहा, ‘ईमानदारी से कहूं तो कप्तान के रूप में आपके नाम के आगे सिर्फ ‘C’ अक्षर लगा होता है. बाकी जीत तो टीम के सामूहिक प्रयास से ही मिलती है.’ विराट कोहली ने दूसरे टेस्ट की पहली पारी में 76 रन बनाए. 

विराट कोहली ने आगे कहा, ‘एक बार फिर आसान जीत. हमने अच्छा क्रिकेट खेला और उस तरह के नतीजे हासिल किए जो एक टीम के रूप में महत्वपूर्ण हैं. कुछ सत्र में हम दबाव में थे. बल्लेबाजी करते हुए कुछ समय मुश्किल स्थिति में थे लेकिन लड़कों ने शानदार प्रदर्शन किया.’ विराट ने कॉमेंटेटर इयान बिशप से कहा, ‘टीम इंडिया बेहतरीन है. इसमें क्वालिटी प्लेयर्स हैं. यदि हमारे पास ऐसे शानदार गेंदबाज नहीं होते, जैसे अभी हैं, तो मुझे नहीं लगता कि हम मैच जीत पाते.’ 

यह भी पढ़ें: NZvsSL: न्यूजीलैंड की श्रीलंका पर लगातार दूसरी जीत, ग्रैंडहोम-टॉम ब्रूस की धमाकेदार पारी

बता दें कि विराट के लिए बतौर बल्लेबाज यह सीरीज बहुत अच्छी नहीं रही. वे इस सीरीज की चार पारियों में महज 136 रन बना सके. हालांकि, इसके बावजूद वे सीरीज के तीसरे टॉप स्कोरर रहे. उनसे ज्यादा रन सिर्फ हनुमा विहारी (289) और अजिंक्य रहाने (271) ने बनाए.