close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

INDvsWI: दूसरा टेस्ट 30 से, भारत की नजरें वर्ल्ड चैंपियनशिप में प्वाइंट दोगुने करने पर

भारत और वेस्टइंडीज के बीच दूसरा टेस्ट मैच शुक्रवार (30 अगस्त) से खेला जाएगा. 

INDvsWI: दूसरा टेस्ट 30 से, भारत की नजरें वर्ल्ड चैंपियनशिप में प्वाइंट दोगुने करने पर

नई दिल्ली: वेस्टइंडीज दौरे पर अजेय चल रही भारतीय क्रिकेट टीम जब दूसरे टेस्ट मैच में उतरेगी तो उसकी निगाहें वर्ल्ड चैंपियनशिप (ICC Test Championship) के प्वाइंट टेबल पर भी रहेंगी. भारत, वेस्टइंडीज (India vs West Indies) से पहला टेस्ट मैच जीतकर वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप में 60 अंकों के साथ संयुक्त रूप से पहले नंबर पर है. भारत के अलावा श्रीलंका और न्यूजीलैंड के भी इतने ही अंक हैं. लेकिन श्रीलंका और न्यूजीलैंड को अब अगला टेस्ट खेलने में वक्त है. ऐसे में भारतीय टीम (Team India) दूसरा टेस्ट जीतकर वर्ल्ड चैंपियनशिप में अपने अंक दोगुने करना चाहेगी. 

आईसीसी वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप (ICC World Test Championship) में कुल नौ टीमें शामिल हैं. इनमें से छह टीमें दो या इससे अधिक मैच खेल चुकी है. ऑस्ट्रेलिया और इंग्लैंड ने चैंपियनशिप में सबसे अधिक तीन-तीन मैच खेले हैं. भारत और वेस्टइंडीज ने एक-एक मैच खेले हैं. न्यूजीलैंड और श्रीलंका ने दो-दो मैच खेले हैं. चैंपियनशिप की तीन अन्य टीमों को अपना पहला मैच खेलना बाकी है. ये टीमें पाकिस्तान, दक्षिण अफ्रीका और बांग्लादेश हैं. 

यह भी पढ़ें: एंडी रॉबर्ट्स ने बताई बुमराह की सबसे बड़ी खासियत, कहा- भारत में फिर नहीं होगा ऐसा बॉलर

भारत को जीत से मिले 60 अंक
वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप में भारत 60 अंकों के साथ पहले नंबर पर है. श्रीलंका और न्यूजीलैंड के भी इतने ही मैच हैं. लेकिन इन दोनों टीमों ने भारत के मुकाबले एक मैच ज्यादा खेला है. इस कारण भारत अंकतालिका में पहले नंबर पर है. भारत अब अगर दूसरे टेस्ट मैच में वेस्टइंडीज को हराता है तो उसे 60 अंक और मिलेंगे. इससे उसके 120 अंक हो जाएंगे. अगर भारत हारा तो वेस्टइंडीज को 60 अंक मिलेंगे. मैच ड्रॉ होने पर दोनों टीमों को 20-20 अंक मिलेंगे. अगर मैच टाई हुआ तो दोनों को 30-30 अंक मिलेंगे. 
 

ICC

हर सीरीज में बराबर अंक
वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप के पॉइंट के फार्मूले को इस तरह समझा जा सकता है. हर टेस्ट सीरीज में कुल 120 अंक दिए जाएंगे. इन 120 अंकों को टेस्ट मैचों की संख्या के आधार पर बांटा गया है. अलग-अलग मैचों की सीरीज में जीत-हार के लिए अलग-अलग अंक तय हैं. जैसे दो मैचों की सीरीज में एक मैच जीतने पर 60 अंक मिलने हैं. पांच मैचों की टेस्ट सीरीज में एक जीत से 24 अंक ही मिलते हैं. इसी तरह तीन मैचों की टेस्ट सीरीज में एक जीत से 40 और चार मैचों की सीरीज में एक जीत से 30 अंक मिलेंगे. 

यह भी पढ़ें: Sports Day: ध्यानचंद की वो 10 बातें, जिसने उन्हें जादूगर और सबसे बड़ा ‘खेल रत्न’ बनाया

ड्रॉ और टाई के लिए अलग अंक 
वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप में जीत की तरह ड्रॉ और टाई मैचों के भी अलग-अलग अंक तय किए गए हैं. मैच टाई होने पर जीत के आधे और ड्रॉ होने पर एक तिहाई अंक मिलेंगे. वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप में उन्हीं सीरीज को शामिल किया गया है, जिसमें दो या इससे अधिक मैच होंगे.