close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

INDvsWI: विराट-रोहित विवाद पर कोच रवि शास्त्री का तीखा जवाब, टीम से बड़ा कोई नहीं

भारतीय क्रिकेट टीम वेस्टइंडीज दौरे के लिए सोमवार (29 जुलाई) को रवाना हुई. इस दौरे से पहले कप्तान विराट कोहली ने प्रेस कॉन्फ्रेंस की. 

INDvsWI: विराट-रोहित विवाद पर कोच रवि शास्त्री का तीखा जवाब, टीम से बड़ा कोई नहीं

नई दिल्ली: भारतीय क्रिकेट टीम सोमवार (29 जुलाई) को अमेरिका और वेस्टइंडीज दौरे (India vs West Indies) पर रवाना हो रही है. टीम की रवानगी से कुछ देर पहले कप्तान विराट कोहली (Virat Kohli) और कोच रवि शास्त्री (Ravi Shastri) ने मुंबई में प्रेस कॉन्फ्रेंस की. इस दौरान टीम से जुड़े कई सवाल हुए, लेकिन मुख्य चर्चा विराट कोहली और रोहित शर्मा (Rohit Sharma) के संबंधों को लेकर ही हुई. भारतीय टीम विंडीज दौरे पर कुल आठ मैच खेलेगी. इनमें से दो मैच अमेरिका में खेले जाएंगे. 

भारतीय टीम आईसीसी विश्व कप के सेमीफाइनल में हार गई थी. इसके बाद से ही कप्तान विराट कोहली और उप कप्तान रोहित शर्मा के बीच अनबन की खबरें आती रही हैं. प्रेस कॉन्फ्रेंस में पूछा गया कि क्या ऐसी खबरें टीम,कप्तान और दूसरे खिलाड़ियों को प्रभावित करती हैं? इस सवाल के जवाब में विराट कोहली ने कहा, ‘देखिए मैंने भी पिछले दिनों बहुत कुछ सुना है. सुनने को तो बाहर से ही मिलता है. लेकिन मैं बता दूं कि अगर टीम का माहौल अच्छा नहीं होता तो जिस तरीके से हम पिछले तीन साल से खेल रहे हैं वह संभव नहीं होता.’

विराट कोहली ने कहा, ‘मैं इस बात को जानता हूं कि इंटरनेशनल क्रिकेट में सफल होने के लिए ड्रेसिंग रूम का माहौल और एकदूसरे पर ट्रस्ट (भरोसा) कितना अहम होता है. अगर वो नहीं होता तो आज हम विश्व क्रिकेट में उस पोजीशन में नहीं होते, जहां आज हैं. और जो हमारी जर्नी रही है, वह नहीं होती, यदि सबकुछ सही नहीं होता.’ इस जवाब के बावजूद रोहित से जुड़े सवाल खत्म नहीं हुए और फिर कोच रवि शास्त्री को बीच में आना पड़ा. 

लेकिन जिस तरह से खबरें आ रही हैं... एक पत्रकार के इस सवाल को बीच में ही रोकते हुए रवि शास्त्री ने कहा, ‘मैं इस सवाल का जवाब देता हूं. देखिए जिस तरह से हम खेलते हैं. कोई भी व्यक्ति टीम से बड़ा नहीं हो सकता है. ना तो मैं, ना वो (विराट) और ना ही कोई और. जिस तरह से वे खेल रहे हैं वह टीम के हित में होता है. आप इस तरह की निरंतरता नहीं रख सकते, जैसा हमारी टीम ने पिछले सालों में दिखाया है. यदि कोई विवाद या गुटबाजी है तो आप ऐसा प्रदर्शन नहीं कर सकते. आप क्रिकेट खेलते हैं और बस. इस तरह के बकवास चीजों की ड्रेसिंग रूम में कोई जगह नहीं है.’