IPL 2019: धीमी पिचें तो ठीक लेकिन चेन्नई जैसी ‘रैंक टर्नर’ टी20 के लिए नहीं: उथप्पा

कोलकाता के बल्लेबाज रॉबिन उथप्पा ने कहा कि उम्मीद है दिल्ली की पिच रैंक टर्नर नहीं होगी. 

IPL 2019: धीमी पिचें तो ठीक लेकिन चेन्नई जैसी ‘रैंक टर्नर’ टी20 के लिए नहीं: उथप्पा
रॉबिन उथप्पा. (फोटो: IANS)

नई दिल्ली: इंडियन टी20 लीग (आईपीएल) शुरू हुए एक हफ्ते हो चुके हैं. इस टी20 टूर्नामेंट (IPL 2019) के पहले मैच में तो महज ज्यादा रन नहीं बने, लेकिन बाद में बड़े स्कोर बनने लगे. आंद्रे रसेल, एबी डिविलियर्स, डेविड वार्नर, ऋषभ पंत ने तूफानी पारियां खेलकर खेल में रंग जमा दिया है. तो क्या बड़े स्कोर से ही रोमांच पैदा होता है. कोलकाता टीम के भरोसेमंद बल्लेबाजों में शामिल रॉबिन उथपा (KKR) ऐसा नहीं मानते. उन्होंने कहा कि धीमे विकेट भी ठीक हैं, लेकिन आईपीएल के पहले मैच की तरह ‘ रैंक टर्नर’ पिच टी20 क्रिकेट में नहीं चलेगी. 

दरअसल, आईपीएल के पहले मैच में बेंगलुरू की टीम 70 रन बनाकर आउट हो गई थी. इसके बाद चेन्नई को भी लक्ष्य हासिल करने में काफी मशक्कत करनी पड़ी थी. दिल्ली के फिरोजशाह कोटला की विकेट भी धीमी है, जहां कोलकाता (Knight Riders) को शनिवार को रात आठ बजे से दिल्ली (Capitals) के खिलाफ मैच खेलना है. यह पूछने पर कि क्या धीमे विकेट से उन्हें कोई परेशानी नहीं है, रॉबिन उथप्पा ने कहा कि यह प्रारूप ही ऐसा है कि उन्मुक्त अंदाज में रन बनाना अच्छा रहता है. 

यह भी पढ़ें: IPL 2019: सावधान दिल्ली! कोटला में कहर बरपा सकते हैं कोलकाता के स्पिनर

रॉबिन उथप्पा ने कहा, ‘रन नहीं बनना दर्शकों के लिए अच्छा नहीं है. टी20 क्रिकेट मनोरंजन के लिए है. यह प्रतिस्पर्धी है लेकिन आपको बराबर संतुलन रखना चाहिए. धीमे विकेट ठीक है लेकिन रैंक टर्नर नहीं जैसा चेन्नई में था.’ उथप्पा ने कहा, ‘उम्मीद है कि यहां पिच बल्लेबाजों के अनुकूल होगी. लोग चौके छक्के देखने आते हैं और गेंदबाज उसे रोकने की कोशिश करते हैं. टी20 और क्रिकेट उसी दिशा में बढ रहा है.’ 

बता दें कि जिस पिच पर पहले ही दिन से स्पिनरों को मदद मिलने लगे, उसे रैंक टर्नर कहते हैं. यह टर्म आमतौर पर टेस्ट या प्रथमश्रेणी क्रिकेट के लिए इस्तेमाल होता है. वनडे या टी20 क्रिकेट में उस पिच को रैंक टर्नर कहते हैं, जिसमें नई गेंद से ही टर्न मिलने लगे. 

(भाषा)