IPL 2020: कोच बनने की उम्र में सचिन-द्रविड़ समेत इन क्रिकेटरों ने छुड़ाए हैं छक्के

आईपीएल को अकसर युवाओं का खेल समझा जाता है, लेकिन सचिन तेंदुलकर और राहुल द्रविड़ समेत कई क्रिकेटर्स ने इस मिथक को तोड़ दिया था.

IPL 2020: कोच बनने की उम्र में सचिन-द्रविड़ समेत इन क्रिकेटरों ने छुड़ाए हैं छक्के
राहुल द्रविड़ और सचिन तेंदुलकर (फाइल फोटो)

नई दिल्ली: वैसे तो इंडियन प्रीमियर लीग (IPL) को पूरी तरह से युवाओं का गेम माना जाता है. टी20 क्रिकेट में मचने वाली आपाधापी के लिए सबसे बेहतर उन्हीं क्रिकेटरों को समझा जाता है, जो 20 साल की आसपास वाली उम्र के होते हैं. पिछले सालों के दौरान आईपीएल में खिलाड़ियों की नीलामी में टीमों की तरफ से अंडर-19 क्रिकेट के सितारों में दिखाई गई ज्यादा दिलचस्पी भी इस बात को साबित करती है. 

लेकिन क्या आप जानते हैं कि इस लीग में ऐसे खिलाड़ियों की भी मौजूदगी रही है, जो 40+ की उम्र में भी स्टार साबित हुए हैं यानी एक ऐसी उम्र में, जहां क्रिकेटर सक्रिय क्रिकेट छोड़कर कोच बनने के उपाय तलाशने लगते हैं, उसमें भी इन क्रिकेटरों ने विपक्षियों के छक्के छुड़ाए थे. आइए जानते हैं इस 40+ उम्र वाले एलीट क्लब के 9 क्रिकेटरों के नाम.

यह भी पढ़ें- IPL2020: इस अनूठे रिकॉर्ड से बल्लेबाजी में 'मिस्टर आईपीएल' कहलाते हैं सुरेश रैना

ब्रैड हॉग के नाम है सबसे बुजुर्ग क्रिकेटर का रिकॉर्ड
आईपीएल में सबसे बड़ी उम्र में अपना आखिरी मुकाबला खेलने का रिकॉर्ड ऑस्ट्रेलिया के चाइनामैन स्पिनर ब्रैड हॉग (Brad Hogg) के नाम पर है. कोलकाता नाइट राइडर्स के लिए 2016 में आखिरी मुकाबला खेलने वाले हॉग ने 2012 में अपना पहला मुकाबला भी 41+ की उम्र में खेला था. उन्होंने 4 सीजन में 21 मैच में 7.46 के इकोनॉमी रेट से 23 विकेट चटकाए थे.

प्रवीण तांबे तोड़ सकते हैं हॉग का रिकॉर्ड
2013 सीजन में 40 साल की उम्र में आईपीएल में एंट्री लेकर सभी को चौंकाने वाले लेग स्पिनर प्रवीण तांबे (Praveen Tambe) ने 4 सीजन खेलने के बाद 2016 में 43 साल की उम्र में अपना आखिरी मुकाबला खेला था. लेकिन 33 मैच में 28 विकेट लेने वाले तांबे अब 48 साल की उम्र में एक बार फिर आईपीएल में खेलने जा रहे हैं. इस सीजन के लिए तांबे को केकेआर ने टीम में 20 लाख रुपये में चुना है. हालांकि तांबे फरवरी में दुबई टी-10 लीग में और अब कैरेबियाई प्रीमियर लीग में खेलकर विवादों में फंस चुके हैं. बीसीसीआई भी उनसे खफा है. ऐसे में वे आईपीएल में खेलेंगे या नहीं, यह अब तक तय नहीं है. लेकिन यदि तांबे खेले तो ब्रैड हॉग का रिकॉर्ड टूटना तय है.

मुरलीधरन 42 तो वार्न-गिलक्रिस्ट 41 की उम्र तक खेले
श्रीलंका के महान ऑफ स्पिनर मुथैया मुरलीधरन (Muttiah Muralitharan), ऑस्ट्रेलिया के महान लेग स्पिनर शेन वार्न (Shane Warne) और महान विकेटकीपर एडम गिलक्रिस्ट (Adam Gilchrist) उन खिलाड़ियों में से थे, जिनके आखिरी मैच में भी उनसे यही पूछा गया कि अभी संन्यास क्यों ले रहे हैं. ये क्रिकेटर भी आईपीएल के 40+ क्लब में शामिल हैं. मुरलीधरन ने 42 तो वार्न और गिलक्रिस्ट ने 41-41 साल की उम्र में अपना आखिरी आईपीएल मैच खेला था.

सचिन-द्रविड़ के साथ जयसूर्या-महमूद भी
इस क्लब में मास्टर ब्लास्टर सचिन तेंदुलकर (Sachin Tendulkar) और "द वॉल" राहुल द्रविड़ (Rahul Dravid) भी शामिल हैं, जिन्होंने अपना आखिरी आईपीएल मैच 40 साल से ज्यादा की उम्र में खेलकर इस ग्लैमर्स लीग से विदाई ली थी. सचिन ने तो जब 2013 में मुंबई में अपना आखिरी मैच खेला था तो उनकी उम्र 40 साल से महज 19 दिन ही ज्यादा थी. उनके अलावा श्रीलंका के सनत जयसूर्या और पाकिस्तान के अजहर महमूद ने भी 40 साल से ज्यादा की उम्र में आईपीएल को अलविदा कहा था.

धोनी और वॉटसन भी हो सकते हैं अगले साल शामिल
आईपीएल के इस एलीट क्लब में शामिल होने के दावेदार महेंद्र सिंह धोनी (MS Dhoni) और शेन वॉटसन (Shane Watson) भी हैं, जो इस बार 39+ की उम्र में आईपीएल में उतर रहे हैं. यदि ये दोनों क्रिकेटर अपने करियर को अगले सीजन यानी आईपीएल-2021 तक खींच पाए तो वे भी इस रिकॉर्ड में शामिल हो जाएंगे.