सचिन, कोहली और धोनी नहीं, इस भारतीय गेंदबाज के नाम है टेस्ट में जीत का अनूठा रिकॉर्ड

टीम इंडिया के तेज गेंदबाज इशांत शर्मा ने कई बार टीम इंडिया की जीत में अहम योगदान दिया है, उनके नाम एक खास रिकॉर्ड है.

सचिन, कोहली और धोनी नहीं, इस भारतीय गेंदबाज के नाम है टेस्ट में जीत का अनूठा रिकॉर्ड

नई दिल्ली: भारतीय क्रिकेट टीम में भले ही तेज गेंदबाज इशांत शर्मा (Ishant Sharma) कभी अपना स्थान हमेशा के लिए पक्का नहीं कर पाए हों. लेकिन लंबे कद वाले दिल्ली के इस गेंदबाज के नाम तब भी टीम इंडिया की जीत से जुड़ा एक ऐसा रिकॉर्ड दर्ज है, जो कभी सचिन तेंदुलकर (Sachin Tendulkar), विराट कोहली (Virat Kohli), महेंद्र सिंह धोनी (MS Dhoni), राहुल द्रविड़ (Rahul Dravid) और सुनील गावस्कर (Sunil Gavaskar) जैसे दिग्गज बल्लेबाज भी अपने साथ नहीं जोड़ पाए.

यह भी पढ़े- इस देश के क्रिकेटर पर क्लीनर को पीटने का आरोप, विवाद बढ़ने पर दी सफाई

SENA देशों में सबसे ज्यादा भारतीय जीत में हिस्सेदारी

दरअसल इशांत शर्मा भारतीय टीम की सेना (SENA) देशों यानी ऑस्ट्रेलिया, न्यूजीलैंड, इंग्लैंड और दक्षिण अफ्रीका में सबसे ज्यादा 8 मैच में जीत में हिस्सेदार रहे हैं. दूसरे शब्दों में कहें तो उनके मौजूद रहते समय टीम इंडिया (Team India)ने इन देशों में अपने खाते में इतनी जीत जोड़ी हैं, जितनी दूसरे दिग्गजों के पूरे करियर में नहीं मिली. इशांत की मौजूदगी में ऑस्ट्रेलिया में 3 टेस्ट मैच, अफ्रीका में 2 टेस्ट मैच, इंग्लैंड में 2 टेस्ट मैच और न्यूजीलैंड में 1 टेस्ट मैच में जीत भारतीय टीम के खाते में दर्ज की गई. न्यूजीलैंड की टेस्ट जीत तो उसकी धरती पर टीम इंडिया को 33 साल बाद नसीब हुई थी. एक तरह से देखें तो इशांत इन देशों में टीम इंडिया के लकी चार्म सरीखे साबित हुए हैं.

दूसरे नंबर पर रहे हैं सचिन-द्रविड़

इशांत के बाद सेना देशों में टीम इंडिया की सबसे ज्यादा जीत में हिस्सेदारी का रिकॉर्ड सचिन तेंदुलकर, राहुल द्रविड़, सुनील गावस्कर और वीवीएस लक्ष्मण (VVS Lakshman) के नाम पर आता है. इन चारों ने टीम इंडिया की इन देशों में 7-7 जीत का नजारा मैदान पर मौजूद रहते हुए देखा है. इनके बाद भारतीय क्रिकेट के कैप्टन कूल महेंद्र सिंह धोनी का नंबर आता है, जिनके नाम पर 6 जीत में हिस्सेदारी का रिकॉर्ड है. भारतीय क्रिकेट कप्तान विराट कोहली अब तक इन देशों में 5 जीत में हिस्सेदारी कर चुके हैं. कोहली का टेस्ट करियर अभी जारी है, ऐसे में माना जा सकता है कि वो एक दिन इस रिकॉर्ड को तोड़ने में सफल हो जाएंगे.

300 विकेट क्लब के करीब हैं इशांत

इशांत एक और रिकॉर्ड बनाने के बेहद करीब हैं. वे यदि अगली टेस्ट सीरीज में 3 विकेट लेने में सफल रहते हैं तो उनका नाम भी दुनिया के उन गेंदबाजों में शामिल हो जाएगा, जिनके नाम पर 300 से ज्यादा टेस्ट विकेट दर्ज हैं. वो भारत के लिए ऐसा करने वाले कुल छठे, लेकिन महज तीसरे तेज गेंदबाज बनेंगे. अभी तक टीम इंडिया के लिए अनिल कुंबले (619 विकेट), कपिल देव (434 विकेट), हरभजन सिंह (417 विकेट), रविचंद्रन अश्विन (365 विकेट) और जहीर खान (311 विकेट) ही ये कारनामा कर पाए हैं.