close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

जसप्रीत बुमराह क्यों बने 'खतरनाक' गेंदबाज, कोच अरुण ने गिनाईं ये 3 क्वालिटी

अरुण को हाल ही में दोबारा भारतीय टीम का गेंदबाजी कोच नियुक्त किया गया है.

जसप्रीत बुमराह क्यों बने 'खतरनाक' गेंदबाज, कोच अरुण ने गिनाईं ये 3 क्वालिटी
भारतीय टीम इस समय विंडीज दौरे पर है जहां वो शुक्रवार से दूसरे टेस्ट मैच का आगाज करेगी. (फाइल)

किंग्सटन: भारतीय टीम के गेंदबाजी कोच भरत अरुण (Bharat Arun) ने कहा है कि टीम के तेज गेंदबाज जसप्रीत बुमराह (Jasprit Bumrah) की गति, एक्शन और सटीकता उन्हें खतरनाक गेंदबाज बनाती है. अरुण को हाल ही में दोबारा भारतीय टीम का गेंदबाजी कोच नियुक्त किया गया है.

भारतीय टीम इस समय विंडीज दौरे पर है जहां वो शुक्रवार से दूसरे टेस्ट मैच का आगाज करेगी. मैच से पहले अरुण ने संवाददाताओं से कहा, "हम गेंदबाजी को क्रियान्वान के लिहाज से देखते हैं न कि परिणाम के. विकेट परिणाम होते हैं. मैं कभी भी परिणाम की तरफ नहीं देखता. पहली पारी के बाद भी जब हमने बात की थी तो हमने क्रियान्वान के बारे में बात की थी. वह थोड़ी छोटी गेंदें फेंक रहे थे, उन्हें गेंद को आगे डालने की जरूरत थी. विकेटों पर सवाल नहीं था. बुमराह इस बात को अच्छे से जानते हैं."

उन्होंने कहा, "बुमराह काफी योग्यता वाले गेंदबाज हैं. वह स्थिति को जानते हैं और वह बड़े शानदार तरीके से हर स्थिति के साथ ढल जाते हैं. अगर आप पहली पारी में डाली गेंदों की लैंग्थ और दूसरी पारी में डाली गई गेंदों की लैंग्थ देखेंगे तो आपको काफी अंतर दिखेगा. वह दूसरी पारी में गेंद को आगे डाल रहे थे और इसलिए उन्हें मूवमेंट मिल रहा था."

कोच से जब पूछा गया कि ऐसी क्या चीज है जो बुमराह को खतरनाक गेंदबाज बनाती है तो कोच ने कहा, "वह लगातार 140 की गति से गेंदबाजी करते हैं और उनका एक्शन भी थोड़ी अजीब है. इसलिए बल्लेबाज को उन्हें पकड़ने में परेशानी होती है. साथ ही वह काफी सटीकता के साथ गेंदबाजी करते हैं."

उन्होंने कहा, "बुमराह ने अपनी गेंदबाजी में कुछ भी बदलाव नहीं किया है. उन्होंने अपनी लैंग्थ बदली है और इसी ने उनकी गेंदबाजी को नए आयाम दिए हैं."

अरुण ने साथ ही कप्तान विराट कोहली के खिलाड़ियों के काम के भार को नियंत्रित करने की बात का समर्थन किया है.

अरुण ने कहा, "तेज गेंदबाजी काफी मुश्किल चीज है. दुर्भाग्यवश इसमें गलती की संभावनाएं भी कम हैं. इस बात को जानते हुए हमने तेज गेंदबाजों का ख्याल रखना शुरू कर दिया है ताकि उनके काम पर नजर रखी जाए और यह सुनिश्चित किया जाए कि गेंदबाज तरोताजा रहें."

(इनपुट-आईएएनएस)