close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

IPL 2019: खत्म नहीं हो रही 'मांकडिंग' पर बहस, अब जोस बटलर ने दिया बड़ा बयान

इंग्लैंड के बल्लेबाज को किंग्स इलेवन पंजाब के कप्तान रविचंद्रन अश्विन ने मांकडिंग कर पवेलियन भेजा था. 

IPL 2019: खत्म नहीं हो रही 'मांकडिंग' पर बहस, अब जोस बटलर ने दिया बड़ा बयान
बटलर ने कहा कि उन्हें मांकडिंग के जरिए आउट करना शायद गलत निर्णय था. (फोटो: सोशल मीडिया)

जयपुर: जोस बटलर (Jos Buttler) का मानना है कि राजस्थान रॉयल्स के इंडियन प्रीमियर लीग (IPL) के 12वें सीजन के पहले मैच में उन्हें मांकडिंग के जरिए आउट करना शायद गलत निर्णय था और इससे संबंधित सभी नियम स्पष्ट होने चाहिए.

एक वेबसाइट ने बटलर के हवाले से बताया, "जाहिर तौर पर खेल में मांकडिंग जैसे नियम होने चाहिए क्योंकि एक बल्लेबाज रन लेने से पहले आधी पिच तक नहीं आ सकता, लेकिन मैं समझता हूं कि जैसे नियम लिखे गए हैं उसमें 'जब एक गेंदबाज गेंद छोड़ने वाला हो' से जुड़े हिस्से पर स्पष्टीकरण की जरूरत है."

इंग्लैंड के बल्लेबाज को किंग्स इलेवन पंजाब के कप्तान रविचंद्रन अश्विन ने मांकडिंग कर पवेलियन भेजा था.  बटलर ने कहा, "उस समय मैं बहुत निराश था. मुझे वो तरीका पसंद नहीं आया और मुझे लगा कि टूर्नामेंट की शुरुआत में यह एक खराब उदाहरण है. टूर्नामेंट के लिए भी इस तरह की शुरुआत अच्छी नहीं थी."

बटलर IPL 'मैंकडिंग' के पहले शिकार बने, जानिए इस घटना पर अश्विन ने क्या कहा

इससे जुड़ा मौजूदा नियम 41.16 कहता कि "अगर नॉन स्ट्राइकर, गेंदबाज के गेंद छोड़ने से पहले क्रीज से बाहर रहता है तो वह रनआउट किया जा सकता है."

IPL 2019: पहले भी मांकडिंग का हिस्सा रह चुके हैं अश्विन और बटलर, ये है पूरी स्टोरी

बटलर के मामले में मुख्य मुद्दा गेंद को छोड़े जाने की समय सीमा का है. मेरीलेबोन क्रिकेट क्लब (एमसीसी) ने शुरुआत में कहा कि यह खेल भावना के खिलाफ नहीं है, लेकिन बाद में अपने बायान से पलटते हुए कहा कि अश्विन का कदम सहीं नहीं था.

'धोनी-कोहली की मीटिंग में तय हो गया था कि 'मांकडिंग' नहीं करनी है'
बटलर ने कहा, "अगर आप वीडियो देखें तो शायद गलत निर्णय लिया गया क्योंकि जब अश्विन को गेंद छोड़नी चाहिए थी तब मैं क्रीज में था. इससे अधिक खराब बात यह थी कि अगले दो मैचों में इसके बारे में कुछ ज्यादा ही सोचने लगा और इससे मेरा ध्यान भी भटका. ऐसा बहुत कम होता है कि आप आमतौर पर उस बारे में नहीं सोच रहे होते हैं."

उन्होंने कहा, "उस घटना के कारण अगले कुछ मैचों तक मेरा ध्यान भटका रहा इसलिए जब मैंने रन बनाए और नॉन स्ट्राइकर छोर के बारे में कम सोचा तो मुझे अच्छा महसूस हुआ."

(इनपुट-भाषा)