'कपिल देव ने ही सबसे पहले छोटे शहरों और गांवों की प्रतिभाओं को मौका दिया'

कपिल के पहले टीम इंडिया में आने वाले अधिकांश क्रिकेटर मुंबई, दिल्ली और अन्य मैट्रोपोलिटन शहरों के हुआ करते थे. 

'कपिल देव ने ही सबसे पहले छोटे शहरों और गांवों की प्रतिभाओं को मौका दिया'
देश के हर हिस्से से प्रतिभाओं को खोजने के पीछ कपिल का हाथ (File Photo)

नई दिल्ली : देश को सबसे पहले विश्व कप जिताने वाले टीम इंडिया के पूर्व कप्तान कपिल देव ने इस ट्रेंड की शुरुआत की थी कि छोटे शहरों और गांवों से प्रतिभाओं को तलाशा जाए. कपिल ने घरेलू क्रिकेट में हरियाणा का प्रतिधिनित्व किया और बाद के समय में भारतीय क्रिकेट की तस्वीर बदलने में अहम भूमिका निभाई. उन्हने छोटे शहरों और गांवों के खिलाड़ियों को यह विश्वास दिया कि वे भी अंतरराष्ट्रीय मंच पर बेहतरीन क्रिकेटर साबित हो सकते हैं. 

कपिल के पहले टीम इंडिया में आने वाले अधिकांश क्रिकेटर मुंबई, दिल्ली और अन्य मैट्रोपोलिटन शहरों के हुआ करते थे. यह बातें पूर्व भारतीय कप्तान और बल्लेबाजी लीजेंड सुनील गावस्कर ने एक किताब के लॉन्च के मौके पर कहीं. गावस्कर ने कहा, ''कपिल देव अकेले ऐसे खिलाड़ी हैं जिन्होंने यह विश्वास दिया कि इससे कोई फर्क नहीं पड़ता कि आप कहां के रहने वाले हैं. आपको बस भारत के लिए खेलना है.''

गावस्कर ने आगे कहा, ''कपिल मैट्रो शहर से नहीं आए थे, तब तक मैट्रो सिटीज से आए खिलाड़ी दूसरों को डोमिनेट करते थे, खासतौर पर प्लेयिंग 11 के चुनाव में. टीम में अधिकांश खिलाड़ी मुंबई और दिल्ली के हुआ करते थे. कपिल देव ने इस ट्रेंड को एकदम बदल दिया. कपिल देव लगातार हरियाणा के लिए खेले और मुझे लगता है कि वह पहले ऐसे नॉन मैट्रो प्लेयर थे, जिन्होंने भारतीय क्रिकेट को सबसे ज्यादा प्रभावित किया.''

गावस्कर ने कहा, ''यही कारण है कि मैं कहता हूं कि यदि आज भारत देश के कोने-कोने से प्रतिभाओं को खोज पा रहा है तो यह कपिल देव के कारण ही संभव हुआ है. कपिल पहले ऐसे खिलाड़ी थे जिन्होंने छोटे शहर से होने के बावजूद अपने बल्ले और गेंद से दुनिया को चौंका दिया था. टीम इंडिया को कपिल ने अपने बल्ले और गेंदों से अनेक मैच जितवाये. उन्होंने एक पूरी पीढ़ी को अपने खेल से रोमांचित किया.'' सबसे पहले 10 हजार रन बनाने वाले 68 वर्षीय गावस्कर ने कहा, कपिल ने लोगों को यह विश्वास दिया कि क्रिकेट बड़े शहरों का नहीं छोटे शहरों का गेम है. 

Zee News App: पाएँ हिंदी में ताज़ा समाचार, देश-दुनिया की खबरें, फिल्म, बिज़नेस अपडेट्स, खेल की दुनिया की हलचल, देखें लाइव न्यूज़ और धर्म-कर्म से जुड़ी खबरें, आदि.अभी डाउनलोड करें ज़ी न्यूज़ ऐप.