जब गेंदबाज के नो बॉल फेंके बिना सचिन ने 3 गेंद में बना डाले थे 24 रन

मास्टर ब्लास्टर सचिन तेंदुलकर ने ये कारनामा न्यूजीलैंड के खिलाफ 2002 के दौरे पर क्राइस्टचर्च में किया था, पूरी दुनिया हैरान रह गई थी.

जब गेंदबाज के नो बॉल फेंके बिना सचिन ने 3 गेंद में बना डाले थे 24 रन
सचिन तेंदुलकर (फाइल फोट)

नई दिल्ली. क्रिकेट की दुनिया में कुछ भी असंभव नहीं है. लेकिन कुछ रिकॉर्ड इतने असामान्य होते हैं कि उन पर आपको आसानी से यकीन भी नहीं आता. ऐसा ही एक रिकॉर्ड क्रिकेट के भगवान मास्टर ब्लास्टर सचिन तेंदुलकर के नाम पर भी दर्ज है. ये रिकॉर्ड है एक इंटरनेशनल मैच की 3 लगातार गेंद पर अपने खाते में कुल 24 रन जमा करने का.  सचिन ने ये कारनामा 3 ही गेंद में किया था यानी इस दौरान गेंदबाज की तरफ से कोई नो बॉल नहीं फेंकी गई थी. है ना ये अविश्वसनीय रिकॉर्ड, क्योंकि हम तो यही जानते हैं कि एक वैध गेंद पर अधिकतम 6 रन ही बनाए जा सकते हैं तो ऐसे में 3 गेंद में अधिकतम 18 रन बनने चाहिए, लेकिन झूठा लगते हुए भी सचिन के 24 रन बनाने का अनूठा रिकॉर्ड पूरी तरह सच है.

यह भी पढ़ें- IPL इतिहास: डेथ ओवर्स में इन 5 बॉलरों ने चटकाए हैं सबसे ज्यादा विकेट

2002 के न्यूजीलैंड दौरे पर किया था कारनामा
दरअसल सचिन ने ये कारनामा भारतीय क्रिकेट टीम के 2002/03 में न्यूजीलैंड दौरे के दौरान कर दिखाया था. इस मैच के बारे में बहुत कम लोग जानते हैं. सचिन तेंदुलकर की इस मैच की पारी को उनके करियर की सबसे खतरनाक और विध्वंसक पारियों में गिना जाता है. खुद सचिन भी मानते हैं कि यह उनके करियर की एक सर्वश्रेष्ठ पारी रही थी. यह मैच क्राइस्टचर्च के मैदान पर 4 दिसंबर, 2002 को खेला गया था और सचिन तेंदुलकर ने इसमें 27 गेंद पर 72 रन की तूफानी पारी खेली थी.

मैक्स जोन नियम लागू था मैच में, 2-2 पारी का था वनडे मैच
दरअसल इस दौरे पर आईसीसी ने एक प्रयोग के तौर पर वनडे मैच को टेस्ट मैच की तरह 10-10 ओवर की 2 2 पारियों में बांटकर देखा था. हर टीम में खिलाड़ियों की संख्या भी 11 के बजाय 12 रखी गई थी. यह मैच इसी प्रयोग का हिस्सा था. इस मैच के नाम दिया गया था "क्रिकेट मैक्स इंटरनेशनल". इस मैच में गेंदबाज के पीछे साइट स्क्रीन के सामने के एरिया के एक हिस्से को "मैक्स जोन" घोषित किया गया था. इस जोन में शॉट मारने वाले को डबल रन मिल जाते थे यानी किसी ने चौका मारा तो 4 के बजाय 8 रन और छक्का मारा तो 6 के बजाय 12 रन. 

ऐसे बनाए थे सचिन ने 24 रन
न्यूजीलैंड ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी ली और 10 ओवर में 5 विकेट पर 123 रन ठोक दिए. अब बारी आई भारत की. ओपनिंग में उतरे मास्टर ब्लास्टर ने क्राइस्टचर्च में ऐसा ही तूफान मचा दिया, जो उन्होंने इसी मैदान पर 1994 में पहली बार टीम इंडिया के लिए ओपनर की भूमिका में महज 49 गेंद में 82 रन ठोककर मचाया था. सचिन ने महज 27 गेंदों पर 72 रन की तूफानी पारी खेली और इसी दौरान उन्होंने शॉट्स पर नियंत्रण का गजब नजारा दिखाया, जब लगातार तीन गेंद को उन्होंने मैक्स जोन में ही मारकर सभी को हैरान कर दिया. इन 3 गेंद पर सचिन ने एक चौका, एक छक्का और 2 रन के स्कोर बनाए, लेकिन मैक्स जोन नियम के चलते उनके खाते में जोड़े गए 8, 12 और 4 रन. इस तरह वे 3 लगातार लीगल डिलीवरी पर 24 रन बनाने वाले दुनिया के पहले क्रिकेटर बन गए. 

टीम इंडिया फिर भी हार गई मैच
सचिन की तूफानी पारी के बावजूद टीम इंडिया यह मैच 21 रन से हार गई थी. कीवी टीम के 5 विकेट पर 123 रन के जवाब में टीम इंडिया ने सचिन की पारी से 5 विकेट पर 133 रन बनाए. दूसरी पारी में न्यूजीलैंड ने 7 विकेट पर 118 रन ठोक दिए, लेकिन टीम इंडिया जीत के लिए मिले 109 रन के टारगेट के सामने 6 विकेट पर 87 रन ही बनाकर मैच हार गई.