जानिए, विराट ने क्यों कहा, 'जब जड्डू हों ग्रुप में तो उन्हें पछाड़ना नामुमकिन'

Team India: कोलकाता टेस्ट के बाद विराट ने एक तस्वीर शेयर की जिसमें उन्होंने जडेजा की फिटनेस की खास अंदाज में तारीफ की. 

जानिए, विराट ने क्यों कहा, 'जब जड्डू हों ग्रुप में तो उन्हें पछाड़ना नामुमकिन'
विराट कोहली रवींद्र जडेजा को एक बेहतरीन फील्डर मानते रहे हैं. (फोटो: Reuters)

नई दिल्ली: टीम इंडिया इस समय बांग्लादेश के खिलाफ (India vs Bangldesh) टेस्ट सीरीज में क्लीन स्वीप की जीत का जश्न मना रही है. रविवार को ही टीम ने बांग्लादेश को अपने पहले डे-नाइट टेस्ट में एक पारी और 46 रन से हराया. इस मैच के एक दिन बाद टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली (Virat kohli) ने ट्विटर पर एक तस्वीर साझा की जिसमें वे रवींद्र जडेजा (Ravidra Jadeja) और ऋषभ पंत (Rishabh Pant) के साथ दौड़ते नजर आ रहे हैं. विराट ने कैप्शन में जडेजा की खास अंदाज में तारीफ की है. 

विराट के अलावा जडेजा की फिटनेस भी है शानदार
विराट कोहली अपनी फिटनेस के प्रति बहुत सजग रहते हैं और टीम इंडिया में उनके साथ जडेजा भी सबसे फिट खिलाड़ियों में गिने जाते हैं. जडेजा को उनकी बेहतरीन फिल्डिंग के लिए जाना जाता है. कई मैचों में जडेजा की फिल्डिंग ने नतीजे तक पर असर डाला है. विराट भी जडेजा की कई बार तारीफ कर चुके हैं. फिल्डिंग में जडेजा टीम को उत्साह की ऊर्जा से भरते दिखाई देते हैं.

यह भी पढ़ें: जानिए, कैसे जीता टीम इंडिया ने 2 दिन 48 मिनट में पहला पिंक बॉल टेस्ट

क्या कहा विराट ने
इस तस्वीर में तीनों खिलाड़ी दौड़ते हुए दिखाई दे रहे हैं जिसमें सबसे आगे जडेजा हैं और विराट के बाद सबसे पीछे पंत हैं. विराट का कहना है कि जडेजा को कंडीशनिंग सेशन में पछाड़ना नामुमिकन है. विराट ने अपने ट्वीट में जडेजा और पंत दोनों को टैग करते हुए कहा, "उन्हें ग्रुप कंडीशनिंग सत्र अच्छे लगते हैं, और अगर इस ग्रुप में जडेजा हों तो उन्हें पछाड़ना नामुमकिन हैं."

विराट ने बनाए हैं ये रिकॉर्ड
रविवार को ही विराट भारत के लिए लगातार सात टेस्ट जीतने वाले पहले कप्तान बने. विराट ने टीम इंडिया के पूर्व कप्तान एमएस धोनी को पीछे छोड़ा. धोनी की कप्तानी में साल 2013 में टीम इंडिया ने लगातार छह टेस्ट मैच जीते थे. कोलकाता में टीम इंडिया की जीत के साथ ही टीम इंडिया दुनिया की पहली ऐसी टीम बन गई जिसने लगातार चार टेस्ट मैच एक पारी के अंतर से जीते. 

स्पिनर्स ने नहीं लिया कोई विकेट कोलकाता में
कोलकाता टेस्ट में टीम इंडिया की यह दूसरी ऐसी जीत है जिसमें स्पिनर्स ने कोई विकेट नहीं लिया. इससे पहले 2018 में दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ जोहानिसबर्ग टेस्ट में टीम इंडिया के पेसर्स ने सभी 20 विकेट लिए थे. वहीं कोलकाता में भारतीय पसर्स ने 19 विकेट लिए जबकि एक खिलाड़ी रिटायर्ड हर्ट हुआ था. इस मैच में अश्विन ने दूसरी पारी में पांच ओवर फेंके थे तो वहीं जडेजा ने दोनों पारियों में एक-एक ओवर ही फेंका था.