close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

INDvsWI : दूसरे टी20 में चमके क्रुणाल पांड्या, 'मैं आज काफी भाग्यशाली रहा कि...'

भारत की जीत में ऑलराउंडर क्रुणाल पांड्या का अहम रोल रहा. क्रुणाल ने बैट और गेंद से दोहरा प्रदर्शन किया.

INDvsWI : दूसरे टी20 में चमके क्रुणाल पांड्या, 'मैं आज काफी भाग्यशाली रहा कि...'
भारत ने दूसरे टी-20 मैच में वेस्टइंडीज को डकवर्थ लुइस नियम के तहत 22 रनों से हराकर 2-0 की अजेय बढ़त बना ली.

लॉडरहिल (फ्लोरिडा): भारत ने रविवार को सेंट्रल ब्रोवार्ड रिजनल पार्क स्टेडियम में खेले गए दूसरे टी-20 मैच में विश्व विजेता वेस्टइंडीज को डकवर्थ लुइस नियम के तहत 22 रनों से हराकर तीन मैचों की टी-20 सीरीज में 2-0 की अजेय बढ़त बना ली. भारत ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करते हुए पांच विकेट पर 167 रन का स्कोर खड़ा किया. लक्ष्य का पीछा करने उतरी विंडीज की टीम ने 15.3 ओवर में चार विकेट पर 98 रन बना लिए थे कि तभी खराब मौसम के कारण खेल रोक दिया गया. इसके बाद खेल फिर दोबारा शुरू नहीं हो सका. अंत में डकवर्थ लुइस नियम के तहत भारत को आधिकारिक रूप से 22 रनों से विजेता घोषित कर दिया गया. भारत ने पहला मैच चार विकेट से जीता था.

भारत की जीत में ऑलराउंडर क्रुणाल पांड्या का अहम रोल रहा. क्रुणाल ने बैट और गेंद से दोहरा प्रदर्शन किया. उन्होंने 13 गेंदों में 20 रन बनाकर नाबाद रहे. दो शानदार छक्के जड़े. मैच के बाद विराट कोहली ने उनकी की. गेंदबाजी में भी उन्होंने कमाल दिखाया. 3.3 ओवर में 23 रन देकर 2 महत्वपूर्ण विकेट हासिल किए. इन्हीं सब के चलते उन्हें मैन ऑफ द मैच के पुरस्कार से नवाजा गया.

मैच के बाद क्रुणाल ने कहा, "हमारे लिए ये दो मैच बढ़िया रहे. अमेरिका में खेलना एक अलग ही अनुभव रहा. मैं इस रोल को आईपीएल के साथ-साथ घरेलू क्रिकेट में भी निभाता रहा हूं. जब आप 6-7 नंबर पर बल्लेबाजी करते हैं तो कभी-कभी अच्छे शॉट लग जाते हैं, कभी नहीं लगते. आज मैं काफी भाग्यशाली रहा कि दो शानदार छक्के जड़ दिए लेकिन जब आप रन बनाते हो तो काफी मदद मिलती है. मैंने जिस तरह से गेंदबाजी की, उससे भी मैं खुश हूं. यह दूसरा मैच था, इसलिए मुझे पता था कि किस पेस के साथ गेंदबाजी करनी है." 

 

 

उधर, टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली ने पूरी टीम की प्रशंसा करते हुए कहा, "एक बार फिर से शानदार गेम रहा. जैसा कि मैंने सुबह ही कहा था कि पिच शुरुआत में बल्लेबाजी के लिए बढ़िया रहेगी. नई गेंद सही ढंग से बल्ले पर आ रही थी. हमने अच्छी फाउंडेशन रखी. जडेजा और क्रुणाल पांड्या ने शानदार ढंग से पारी का समापन किया और भारतीय पारी को 160 के पार पहुंचाया. जिस तरह से हम बल्लेबाजी कर रहे थे, उससे 180 तक पहुंच सकते थे लेकिन पिच धीमी हो गई."