• 0/542 लक्ष्य 272
  • बीजेपी+

    0बीजेपी+

  • कांग्रेस+

    0कांग्रेस+

  • अन्य

    0अन्य

कोहली भाई की वजह से मिली सफलता, जिन्होंने गेंदबाजी करने की आजादी दी: कुलदीप

कोलकाता नाइटराइडर्स के लिये खेलने वाले कुलदीप को इस साल आईपीएल में ईडन गार्डन्स की बल्लेबाजों की मुफीद पिच पर काफी निराशा हाथ लगी.

कोहली भाई की वजह से मिली सफलता, जिन्होंने गेंदबाजी करने की आजादी दी: कुलदीप
कुलदीप आईपीएल की निराशा को पीछे छोड़कर 30 मई से शुरू होने वाले आगामी विश्व कप में शानदार प्रदर्शन करना चाहते हैं.(फाइल फोटो)

कोलकाता: कलाई के स्टार स्पिनर कुलदीप यादव (Kuldeep Yadav) का मानना है कि अगर कप्तान विराट कोहली (Virat Kohli) ने उन्हें गेंदबाजी आक्रमण करने की आजादी नहीं दी होती तो वह अंतरराष्ट्रीय मंच पर इतने सफल नहीं हुए होते. कुलदीप एक इंटरव्यू में कहा, ‘‘आपको बड़े मंच पर चमकने के लिये एक ऐसे कप्तान की जरूरत होती है जो आपका समर्थन करे और आपकी काबिलियत पर भरोसा रखे. आपको लगता है कि अगर हमें कोहली भाई ने आक्रमण करने की आजादी नहीं दी होती तो क्या हम इतने सफल हो सकते थे?’’

कोलकाता नाइटराइडर्स के लिये खेलने वाले कुलदीप को इस साल आईपीएल में ईडन गार्डन्स की बल्लेबाजों की मुफीद पिच पर काफी निराशा हाथ लगी, क्योंकि उन्हें नौ मैचों में केवल चार ही विकेट मिले जिसके बाद उनकी फ्रेंचाइजी ने टूर्नामेंट के अंत में उन्हें अंतिम एकादश से बाहर कर दिया.

IPL में मिली निराशा
24 साल के खिलाड़ी ने कहा कि वह आईपीएल की निराशा को पीछे छोड़कर 30 मई से शुरू होने वाले आगामी विश्व कप में शानदार प्रदर्शन करना चाहते हैं. उन्होंने कहा, ‘‘आईपीएल विश्व कप की तुलना में काफी अलग है. ऐसे भी खिलाड़ी हैं जिन्होंने आईपीएल में अच्छा प्रदर्शन किया है लेकिन वे देश के लिये इतना बेहतर नहीं कर पाये. मैं गेंदबाज के तौर पर काफी परिपक्व हुआ हूं और विश्व कप में आईपीएल के प्रदर्शन का बिलकुल असर नहीं पड़ेगा. ’’

परिपक्व क्रिकेटर की तरह खेलता हूं
कुलदीप ने कहा, ‘‘यह टी20 इस तरह का प्रारूप है, जिसमें आपके लिये एक दिन खराब हो सकता है जहां आपकी गेंदों पर रन जुटाये जाते हैं. मैं कोई जादूगर नहीं हो जो हर मैच में अच्छा प्रदर्शन करे. आप ऐसा नहीं कह सकते कि मैं इतने सारे विकेट ले लूंगा.’’ उन्होंने साथ ही कहा, ‘‘अगर मुझे विकेट नहीं मिल रहे तो इसका मतलब यह नहीं है कि मैं अच्छी गेंदबाजी नहीं कर रहा हूं. अब मैं परिपक्व क्रिकेटर की तरह खेलता हूं और ज्यादा से ज्यादा टीम के बारे में सोचता हूं. ’’

मीडिया पर बरसे
कुलदीप ने महेंद्र सिंह धोनी पर उनकी टिप्पणी से हुए ताजा विवाद के बारे में भी बात की कि कभी कभार पूर्व कप्तान के ‘टिप्स’ गलत हो जाते हैं. उन्होंने कहा, ‘‘मेरे जैसा युवा टीम के इतने वरिष्ठ सदस्य के बारे में इस तरह की टिप्पणियां कैसे कर सकता है? मीडिया ने मेरे बयान को तोड़ मरोड़ के पेश किया ताकि विवाद पैदा हो जाये. ’’

कुलदीप ने कहा, ‘‘इसमें कोई शक नहीं है कि उनके टिप्स सिर्फ मेरे लिये ही नहीं बल्कि पूरी टीम के लिये अहम रहे हैं. स्टंप के पीछे उनकी मौजूदगी से हमारा काम आसान बन जाता है और कोई भी इसे नहीं बदल सकता.’’

(इनपुट-भाषा)