INDvsSA :भारत की दक्षिण अफ्रीका पर ऐतिहासिक जीत, विराट कोहली का शानदार शतक

भारत ने दक्षिण अफ्रीका को डरबन में पहले वनडे में हरा दिया है. यह भारत की डरबन में पहली वनडे जीत है. इस जीत में सबसे बड़ा योगदान टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली का शानदार शतक रहा. 

 INDvsSA :भारत की दक्षिण अफ्रीका पर ऐतिहासिक जीत, विराट कोहली का शानदार शतक
भारत के कप्तान विराट कोहली ने दक्षिण अफ्रीका में अपना पहला शतक लगाया (फोटो : IANS)

डरबन : भारत और दक्षिण अफ्रीका के बीच डरबन मे चल रहे पहले मैच में भारत ने दक्षिण अफ्रीका को छह विकेट से हरा दिया. इस जीत में सबसे बड़ा योगदान टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली की शतकीय पारी का रहा. इसके साथ ही इस मैच में भारत के लिए कई रिकॉर्ड बन गए. दक्षिण अफ्रीका की पहली पारी  में 269 रन के जवाब में  विराट कोहली ने दक्षिण अफ्रीका में पहला और अपने करियर का 33 वां वनडे शतक लगाया. इसके बाद 43वें ओवर में आजिंक्य रहाणे 79 रन के निजी स्कोर पर आउट हो गए. विराट भी 119 गेंदों पर 112 रन बना कर आउट हो गए. दोनों को फेहलुकवायो ने आउट किया. लेकिन तब तक दक्षिण अफ्रीका के लिए काफी देर हो चुकी थी. विराट और रहाणे के बीच 189 रन की रिकॉर्ड साझेदारी रही.

लेकिन तब तक भारत  का स्कोर ओवर में  250 रन का आंकड़ा पार कर चुका था. अजिंक्य रहाणे के साथ कोहली ने 116 गेंदों में शतकीय साझेदारी की. 31वें ओवर में दोनों अपनी यह साझेदारी पूरी की. 31 ओवर तक भारत का स्कोर दो विकेट के नुकसान पर 167 रन हो चुका था. कप्तान कोहली 71 और रहाणे 34 रन खेल कर क्रीज पर डटे थे. इससे पहले विराट ने  26वें ओवर में अपने 50 रन पूरे किए.  

16 ओवर के बाद टीम का स्कोर दो विकेट के नुकसान पर 81 रन हो गया था. कप्तान विराट कोहली 19 रन और आजिंक्य रहाणे 4 रन बना कर खेल रहे थे. जबकि 13 वें ओवर तक भारत के दोनों सलामी बल्लेबाज वापस पवेलियन लौट गए लेकिन वे आगे के बल्लेबाजों के लिए आधार दे गए. धवन तेरहवें ओवर में रन आउट हुए तो रोहित शर्मा सातवें ओवर में ही मोर्ने मॉर्केल का शिकार बने. दोनों  चुन चन कर अच्छे शॉट्स लगा रहे थे. धवन ने 29 गेंदों पर छह चौकों के साथ 35 रन तो रोहित ने  तीस गेंदों का सामना करते हुए एक छक्के और दो चौकों की सहायता से केवल 20 रन के निजी स्कोर पर आउट हो गए.   

दक्षिण अफ्रीका के कप्तान फाफ डु प्लेसिस ने 112 गेंदों पर शानदार 120 रनों की पारी खेली और आखिरी ओवर में भुवनेश्वर कुमार की गेंद पर हार्दिक पांड्या को कैच देकर आउट हो गए. दक्षिण अफ्रीका में भारत के खिलाफ शतक लगाने वाले वे दूसरे कप्तान हो गए हैं. इससे पहले एबी डिविलियर्स ने 2013 में भारत के खिलाफ शतक लगाया था. भारत की ओर से कुलदीप यादव ने तीन, यजुवेंद्र चहल ने दो और भुवनेश्वर कुमार के साथ जसप्रीत बुमराह ने एक एक विकेट लिए. 41 वें ओवर में 200 रन का स्कोर पार होने के बाद खतरनाक दिख रहे क्रिस मॉरिस को कुलदीप यादव ने बोल्ड कर दिया

35 ओवर तक दक्षिण अफ्रीका ने पांच विकेट के नुकसान पर 166 रन बना लिए थे. कप्तान फाफ डु प्लेसिस ही एक छोर पर मोर्चा संभाले हुए थे. उन्होंने 77 गेंदों पर 71 रन  बनाते हुए टीम को मैच में बनाए रखा है उनका साथ दे रहे थे ऑलराउंडर क्रिस मॉरिस जो 22 गेंदों पर 13 रन बना कर कप्तान का साथ दे रहे थे.

दो ओवर में दो विकेट लेकर कुलदीप ने जगाए रखी भारत की उम्मीद

 28वें ओवर में कुलदीप यादव ने डविड मिलर को कप्तान विराट कोहली के हाथों   कैच आउट करवाया और उसके पहले 26वें ओवर में जे पी डुमिनी को बोल्ड आउट कर दिया दिया.  मिलर केवल सात रन बना सके.डुमिनी 18 गेदों पर 12 रन ही जोड़ सके.इन दो विकटों के गिरने से डु प्लेसिस रन बनाने की गति ज्यादा नहीं बढ़ा सके. 

अफ्रीका में भारतीय पिचों की आहट, डरबन वनडे में दो स्पिनरों के साथ उतरी टीम इंडिया 

वहीं इन्ही दो ओवरों के बीच डु प्लेसिस ने 54 गेंदों में ही अपना तीसरा वनडे अर्धशतक पूरा किया. उनकी इस पारी की मदद से दक्षिण अफ्रीका का स्कोर 28 वें ओवर कर पांच विकेट के नुकसान पर 134 रन हो गया था. जब  21वें ओवर में ही मेजबान टीम ने 100 रन का स्कोर तो पारकिया तो वह मार्करम का विकेट गंवा बैठी. मार्करम केवल नौ रन ही बना सके.  उन्हें यजुवेंद्र चहल ने हार्दिक पांडे के हाथों कैच कराया. 

पंद्रह ओवर तक टीम ने दो विकेट के नुकसान पर 83 रन बना लिए थे. अफ्रीका के दोनों सलामी बल्लेबाज पवेलियन लौट चुके हैं. हाशिम आमला 16 और जबकि क्विंटन  डिकॉक 34 रन बना कर आउट हो चुके हैं पंद्रहवें ओवर की आखिरी गेंदपर यजुवेंद्र चहल ने भारत को दूसरी सफलता दिलाई और क्विंटन डिकॉक को एलबीडब्ल्यू आउट किया.  कप्तान फाफ डु प्लेसिस 29 रन बना कर खेल रहे हैं.

Faf du Plessis

पहले दस ओवर के बाद दक्षिण अफ्रीका ने केवल एक ही विकेट के नुकसान पर 49 रन बना लिए थे कप्तान फाफ डु प्लेसिस 14 रन और क्विंटन डि कॉक 18 रन बना कर क्रीज पर थे. पहले सात ओवर में  दक्षिण अफ्रीका ने कोई भी विकेट नहीं गंवााया था  लेकिन आठवें ओवर में जसप्रीत बुमराह ने भारत को पहली सफलता दिला दी. उन्होंने हाशिम आमला को एलबीडब्ल्यू आउट किया . आमला 17 गेंदों का सामना करके 16 रन बना कर आउट हुए थे. हालांकि अंपायार ने यह जांचने के लिए तीसरे  अंपायर से पूछा था कि कहीं बुमराह ने नो बॉल तो नहीं डाली थी. रीप्ले में बुमराह काफी नजदीकी से बच गए.  पहले पांच ओवर में दक्षिण अफ्रीका ने कोई भी विकेट नहीं खोया. मेजबान टीम ने  18 रन बनाए थे  हाशिम आमला 7 और क्विंटन डि कॉक 10 रन बना कर क्रीज पर खेल रहे थे.

 दक्षिण अफ्रीका ने टॉस जीत कर पहले बल्लेबाजी करने का फैसला किया है. इससे पहले टीम इंडिया की टेस्ट सीरीज में आखिरी मैच जीतने के बाद भारत की वनडे में उम्मीदें काफी बढ़ गई हैं.  इस समय यह साबित हो गया है कि दक्षिण अफ्रीका अब अपने घर में भारत से अजेय नहीं है. इसी बात से टीम इंडिया में काफी उत्साह है. वैसे तो कई आंकड़े ऐसे हैं जो भारत के खिलाफ हैं लेकिन कुछ ठोस तथ्य इस समय भारत के पक्ष में हैं. 

पैदा हो गया नया ‘युवराज सिंह’, इस युवा खिलाड़ी ने याद दिलाई युवी की

भारत के लिए पहले दस ओवर खास रहने वाले हैं क्योंकि पिच से तेज गेंदबाजों को केवल शुरुआत में ही मदद मिलने की उम्मीद जताई गई है. पिच पर थोड़ी घास है लेकिन वह हरी नहीं बल्कि सूखी है. जैसे जैसे खेल आगे बढ़ेगा स्पिनर्स की भूमिका खास होने की उम्मीद है.  पिच पर काफी क्रॉस सीम गेंदबाजी होने की उम्मीद है. 

दक्षिण अफ्रीका को सीरीज से पहले ही बड़ा झटका लगा है. सीरीज के शुरुआती तीन मैचों के लिए उसके मुख्य बल्लेबाज अब्राहम डिविलियर्स चोट खाकर बाहर हो गए हैं. 

kuldeep and chahal

वहीं दक्षिण अफ्रीका भी अपने तेज गेंदबाजी आक्रमण के भरोसे मैदान पर उतरी है.  इस मैच में  कागिसो रबादा, मोर्ने मोर्केल, क्रिस मौरिस,  अंदिले फेहुलकवायो गेंदबाजी की कमान  संभालेंगे.  रिकॉर्ड्स की बात करें तो भारत अभी तक दक्षिण अफ्रीका में कभी भी पहला वनडे मैच नहीं जीता है. न ही उसने कभी डरबन में कोई वनडे मैच जीता है. इसके अलावा पिछली दो घरेलू सीरीज में भी भारत वनडे सीरीज का पहला मैच हारा ही है.

दोनों देशों की टीमें इस प्रकार हैं :

भारत :
विराट कोहली कप्तान, रोहित शर्मा, शिखर धवन, अजिंक्य रहाणे, एमएस धोनी  (विकेटकीपर) केदार जाधव, हार्दिक पांड्या, भुवनेश्वर कुमार, कुलदीप यादव जसप्रीत बुमराह, और यजुवेंद्र चहल

दक्षिण अफ्रीका  :
फाफ डु प्लेसिस, हाशिम आमला, क्विंटन डी कॉक, एडिन मार्करम, जे पी डुमिनी, डेविड मिलर, क्रिस मॉरिस, एंदले फेहलुकवायो, कगीसो रबाडा, मोर्ने मॉर्कल, इमरान ताहिर