IPL में 50% स्टेडियम भरना चाहता है Emirates Cricket Board, सरकार की मंजूरी का इंतजार

9 सितंबर से 8 नवंबर तक होने वाले आईपीएल टूर्नामेंट के दौरान दर्शकों को मैदान में जाने की इजाजत देने का फैसला संयुक्त अरब अमीरात सरकार द्वारा लिया जाएगा.

IPL में 50% स्टेडियम भरना चाहता है Emirates Cricket Board, सरकार की मंजूरी का इंतजार

नई दिल्ली: एमिरेट्स क्रिकेट बोर्ड के सचिव मुबाशशिर उस्मानी ने कहा कि अगर सरकार मंजूरी देती है तो वे संयुक्त अरब अमीरात () में होने वाली इंडियन प्रीमियर लीग में स्टेडियमों को 30 से 50 फीसदी तक दर्शकों से भरना चाहेंगे. इंडियन प्रीमियर लीग (IPL) की तारीखों का ऐलान करते हुए इसके अध्यक्ष ब्रजेश पटेल ने पीटीआई से कहा था कि 19 सितंबर से 8 नवंबर तक होने वाले टी20 टूर्नामेंट के दौरान दर्शकों को मैदान में जाने की अनुमति देने का फैसला संयुक्त अरब अमीरात (UAE) सरकार द्वारा लिया जाएगा.

तारीखों का ऐलान करने के बावजूद भारतीय क्रिकेट बोर्ड (BCCI) भी यूएई में आईपीएल कराने को लेकर भारत सरकार की मंजूरी का इंतजार कर रहा है. उम्मानी ने फोन पर कहा, ‘एक बार हमें बीसीसीआई से (भारत सरकार की मंजूरी के बारे में) पुष्टि हो जाए तो हम अपनी सरकार के पास पूर्ण प्रस्ताव और मानक परिचालन प्रक्रिया (SOP) के साथ जाएंगे जो हमारे और बीसीसीआई द्वारा तैयार किया गया होगा.’

उम्मानी ने कहा, ‘हम निश्चित रूप से हमारे लोगों को इस प्रतिष्ठित टूर्नामेंट का अनुभव कराना चाहेंगे लेकिन यह पूरी तरह से सरकार का फैसला होगा. यहां ज्यादातर टूर्नामेंट में दर्शकों की संख्या 30 से 50 फीसदी तक होती है, हम इसी तादाद की उम्मीद कर रहे हैं.हमें इस पर अपनी सरकार की मंजूरी की उम्मीद है.’ यूएई में कोरोना वायरस के 6000 से ज्यादा सक्रिय मामले हैं और वहां महामारी पर स्थिति लगभग नियंत्रित ही है.

हालांकि नवंबर में होने वाले 2020 दुबई रग्बी सेवंस टूर्नामेंट को कोरोना वायरस के खतरे के कारण 1970 के बाद पहली बार रद्द कर दिया गया है. उन्होंने आईपीएल की सुरक्षा को लेकर हो रही चिंताओं के बारे में कहा, ‘‘यूएई सरकार संक्रमितों की संख्या को कम करने में काफी कारगर रही है. हम कुछ नियम और प्रोटोकॉल का पालन करके सामान्य जीवन जी रहे हैं और आईपीएल में तो अभी थोड़ा समय है, हम निश्चित रूप से इससे बेहतर स्थिति में होंगे.’ आईपीएल की संचालन परिषद रविवार को बैठक करके लॉजिस्टिक और एसओपी पर फैसला करेगी.
(इनपुट-भाषा)