close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

विराट के दोहरे शतक को हल्का बताने के लिए अंग्रेजी पूर्व कप्तान ने पिच का बनाया बहाना

इंग्लैंड के पूर्व कप्तान माइकल वॉन का कहना है कि भारतीय पिचें बोरिंग और ज्यादतर बल्लेबाजों की मददगार होती हैं. वॉन का बयान विराट कोहली के दोहरे शतक को हल्का बताने की कोशिश माना जा रहा है. 

विराट के दोहरे शतक को हल्का बताने के लिए अंग्रेजी पूर्व कप्तान ने पिच का बनाया बहाना
माइकल वान ने ने कहा है कि पुणे मैच में गेंदबाजों को बहुत मेहनत करनी होगी. (फाइल फोटो)

नई दिल्ली: पुणे में चल रहे भारत और दक्षिण अफ्रीका (India vs South Africa) के बीच दूसरे टेस्ट मैच में टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली (Virat kohli)  के दोहरे शतक की हर तरफ तारीफ हो रही है, लेकिन इंग्लैंड क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान माइकल वान (Michael Vaughan) को विराट कोहली की यह सफलता शायद पच नहीं रही है. इसीलिए उन्होंने कहा है कि भारत में टेस्ट पिचें बोरिंग होती हैं और यह ज्यादतर बल्लेबाजों की मददगार होती हैं.

भारत इस समय अपने घर में दक्षिण अफ्रीका के साथ तीन मैचों की टेस्ट सीरीज खेल रहा है. सीरीज का दूसरा मैच पुणे के महाराष्ट्र क्रिकेट संघ (एमसीए) स्टेडियम में खेला जा रहा है. वॉन ने ट्वीट किया, "भारत में टेस्ट मैचों में पिचें काफी बोरिंग होती हैं. पहले तीन-चार दिन प्रतिस्पर्धा काफी हद तक बल्लेबाजों की होती है. गेंदबाजों के लिए यहां अधिक एक्शन की जरूरत है. यह मेरा आज का विचार है."

यह भी पढ़ें: IND vs SA: कप्तान विराट की तारीफ में बोले उपकप्तान, '600 की पिच नहीं थी, लेकिन...'

वॉन का यह बयान भारत और दक्षिण अफ्रीका के बीच खेले जा रहे मैच के दौरान आया है. इस मैच में अभी तक बल्लेबाजों का बोलबाला रहा है. मयंक अग्रवाल ने शतक जमाया है तो कप्तान विराट कोहली दोहरा शतक बना चुके हैं. रवींद्र जडेजा ने भी आतिशी बल्लेबाज की है.

यह भी गौर करने वाली बात है कि जहां पिच पहली पारी में भारतीय बल्लेबाजों के लिए मददगार साबित हुई वहीं दक्षिण अफ्रीकी बल्लेबाज भारतीय पेसर्स के सामने ही संघर्ष करते नजर आए. आधी मेहमान टीम केवल 53 के स्कोर पर ही पवेलियन लौट गई और यह सारे 5 के 5 विकेट टीम इंडिया के तेज गेंदबाज उमेश यादव और मोहम्मद शमी ने ही लिए. बल्लेबाजों की पिच दक्षिण अफ्रीका के लिए मददगार साबित नहीं हुई. इस पर वान क्या कहते हैं इसका फैंस को इंतजार होगा. 

विशाखापट्टनम में खेले गए पहले टेस्ट में भी भारतीय बल्लेबाजों ने दमखम दिखाया था. रोहित शर्मा ने दोनों पारियों में शतक जमाए थे तो वहीं मयंक ने दोहरा शतक किया था. दक्षिण अफ्रीका के लिए डीन एल्गर और क्विंटन डी कॉक ने पहली पारी में शतक जमाए थे. दूसरी पारी में हालांकि मेहमान टीम की बल्लेबाजी बिखर गई थी.
(इनपुट आईएएनएस)