उस एलीट क्लब में शामिल हुए स्टार्क, जिसमें है सिर्फ ‘कंगारुओं’ का है दबदबा

एशेज के दूसरे दिन मिचेल स्टार्क तीन विकेट लेने के बाद एक खास क्लब में शामिल हो गए.

उस एलीट क्लब में शामिल हुए स्टार्क, जिसमें है सिर्फ ‘कंगारुओं’ का है दबदबा
मिचेल स्टार्क ने टेस्ट मैचों में 150 विकेट लेते ही एक खास उपलब्धि भी अपने नाम की (फाइल फोटो)

ब्रिस्बेन : एशेज के पहले दो दिन गेंदबाजों के नाम रहे लेकिन कई बल्लेबाजों ने भी अपना धैर्य दिखाया. जहां पहले दिन इंग्लैंड के बल्लेबाज महज 196 रन बना सके तो उन्होंने कंगारू गेंदबाजों को चार से ज्यादा विकेट नहीं लेने दिए. लेकिन दूसरे दिन पहले दो सत्रों में गेंदबाज हावी हो गए. इसमें पहले सत्र में छह विकेट गिरे जिससे इंग्लैंड की पहली पारी 302 रन पर लंच से पहले ही सिमट गई. 

इस पारी में कंगारू गेंदबाजों का प्रदर्शन शानदार नहीं तो बुरा भी नहीं रहा. इसमें मिचेल स्टार्क ने पैट कमिंग्स के साथ तीन तीन विकेट लिए. नाथन लियोन ने दो तो हेजलवुड को एक विकेट से संतोष करना पड़ा. कुल मिलाकर सारे गेंदबाजों का बतौर टीम योगदान रहा. तीन विकेटों के साथ ही मिचेल स्टार्क ने एक रिकॉर्ड अपने नाम कर लिया. 

यह भी पढ़ें : स्टीव स्मिथ की कप्तानी पारी के बीच बना यह रिकॉर्ड

उन्होंने अब टेस्ट क्रिकेट में 150 विकेट पूरे कर लिए हैं.  इसी के साथ बांए हाथ के उन गेंदबाजों की फेरहिस्त में मिचेल स्टार्क का नाम भी जुड़ गया है और उसमें ऑस्ट्रेलियाई वर्चस्व कायम है. जो टेस्ट क्रिकेट में सबसे कम मैचों में 150 विकेट ले चुके हैं.

सबसे कम टेस्ट मैचों में 150 लेने वाले गेंदबाजों में सबसे पहले मिचेल जानसन का नाम आता है जिन्होंने सबसे कम 34 टेस्ट मैचों में यह मुकाम हासिल किया था. इसके बाद बिल जानसन का नाम है जिन्होंने 150 लेने में 35 मैच लगाए हैं.

यह भी पढ़ें : ASHES 2017 : दूसरे दिन का Analysis : मैच अभी कहीं भी जा सकता है

तीसरे स्थान पर मिचेल स्टार्क आ गए हैं लेकिन उनके साथ एलन डेविडसन का नाम हैं दोनों ने ही 150 विकेट 37 मैचों में लिए हैं.  इसके बाद इस सूची में गैर ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ी का नाम आता है. वो हैं न्यूजीलैंड के ट्रेंट बोल्ट उन्होंने डेढ़ सौ विकेट लेने के लिए 40 मैचों का समय लिया था.