close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

एक बार फिर शक के घेरे में पाकिस्तानी ऑल राउंडर, तीसरी बार हुई गेंदबाजी एक्शन की शिकायत

मोहम्मद हफीज को संदिग्ध गेंदबाजी एक्शन के लिए पहले भी निलंबित किया जा चुका है.

एक बार फिर शक के घेरे में पाकिस्तानी ऑल राउंडर, तीसरी बार हुई गेंदबाजी एक्शन की शिकायत
अप्रैल 2015 तक गेंदबाजी करने की इंजाजत दे दी गई थी (File Photo)

नई दिल्ली : पाकिस्तानी ऑल राउंडर मोहम्मद हफीज अपने अंतरराष्ट्री क्रिकेट करियर के दौरान तीसरी बार संदिग्ध गेंदबाजी एक्शन की शिकायत के शिकार हुए हैं. आबू धाबी में श्रीलंका के खिलाफ तीसरे वन डे में हफीज के खिलाफ संदिग्ध गेंदबाजी एक्शन की शिकायत की गई. इससे पहले दो बार उन्हें संदिग्ध गेंदबाजी एक्शन के लिए निलंबित किया जा चुका है. 

PAKvsSL: अचानक हुआ कुछ ऐसा कि मैच के दौरान मोहम्मद हफीज को भागना पड़ा बाथरूम

पहली बार दिसंबर 2014 में उन्हें गेंदबाजी से निलंबित किया गया था. बुधवार को श्रीलंका के खिला वन डे में मैच अधिकारियों ने 37 वर्षीय गेंदबाज के एक्शन को लेकर पाकिस्तान प्रबंधन को रिपोर्ट सौंपी है. 

आईसीसी ने मोहम्मद हफीज के गेंदबाजी एक्शन को दी क्लीन चिट

आईसीसी ने एक बयान में कहा है, अब हफीज के गेंदबाजी एक्शन की जांच आईसीसी के लीगल गेंदबाजी रेग्युलेशन द्वारा की जाएगी. हफीज को 14 दिनों के भीतर इस टेस्ट से गुजरना होगा. जब तक इसका परिणाम नहीं आ जाता तब तक वह लगातार गेंदबाजी कर सकते हैं. 

पहले निलंबन के बाद हफीज को अप्रैल 2015 तक गेंदबाजी करने की इंजाजत दे दी गई थी. बाद में उनके गेंदबाजी एक्शन को जायज पाया गया. दूसरी बार उनके गेंबंदाजी एक्शन के लिए उन्हें निलंबित किया गया जून 2015 में गाले टेस्ट के दौरान. उन पर 12 अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट खेलने पर प्रतिबंध लगा दिया गया. 

नवंबर 2016 में ऑफ स्पिनर हफीज के एक्शन की दोबारा जांच हुई. यह जांच ब्रिसबेन में नेशनल क्रिकेट सेंटर में की गई,  जहां से उन्हें क्लीन चिट मिल गयी. लेकिन श्रीलंका के खिलाफ तीसरे वन डे में हफीज ने 8 ओवरों में 39 रन देकर एक विकेट लिया. 

पाकिस्तान इस सीरीज में 3-0 से आगे है. लेकिन अब हफीज का गेंदबाजी एक्शन एक  बार फिर से शक के दायेर में है.