माउंट माउंगनुई टी-20 : मुनरो के शतक की बदौलत न्यूजीलैंड की रिकॉर्ड जीत

न्यूजीलैंड ने मंगलवार को वेस्टइंडीज को तीसरे और आखिरी टी-20 मैच में 119 रनों के विशाल अंतर से हरा कर तीन टी-20 मैचों की सीरीज 3-0 से जीत ली

माउंट माउंगनुई टी-20 : मुनरो के शतक की बदौलत न्यूजीलैंड की रिकॉर्ड जीत
कोलिन मुनरो के शानदार शतक की बदौलत ही न्यूजीलैंड 243 रन का विशाल स्कोर खड़ा कर दिया (फोटो : @ICC)

माउंट माउंगनुई : कोलिन मुनरो (104) के बेहतरीन शतक के दम पर न्यूजीलैंड ने मंगलवार को वेस्टइंडीज को तीसरे और आखिरी टी-20 मैच में 119 रनों के विशाल अंतर से हरा दिया. इसी के साथ उसने तीन टी-20 मैचों की सीरीज 3-0 से जीत ली. यह रनों के लिहाज से न्यूजीलैंड की इस प्रारूप में सबसे बड़ी जीत है. अंतर्राष्ट्रीय टी-20 इतिहास में यह रनों के लिहाज से तीसरी सबसे बड़ी जीत है. 

न्यूजीलैंड ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी चुनी और मुनरो की 53 गेंदों में तीन चौके और 10 छक्कों की मदद से खेली गई शतकीय पारी के दम पर निर्धारित 20 ओवरों में पांच विकेट के नुकसान पर 243 रन बनाए. यह न्यूजीलैंड का इस प्रारूप में सबसे बड़ा स्कोर भी है. 

तेंदुलकर की वजह से एक बार फिर से क्रिकेट के मैदान पर नजर आएंगे विनोद कांबली

वेस्टइंडीज की टीम इस विशाल लक्ष्य को हासिल नहीं कर पाई और 16.3 ओवरों में 124 रनों पर ही ढेर हो गई. उसके लिए सबसे ज्यादा 46 रन आंद्रे फ्लैचर ने बनाए. 
पहले बल्लेबाजी करने उतरी किवी टीम को मुनरो और मार्टिन गुप्टिल (63) ने शानदार शुरुआत दी और पहले विकेट के लिए सिर्फ 11.3 ओवरों में 136 रन जोड़े. रयाद एमरिट ने गुप्टिल को आउट कर इस साझेदारी को तोड़ा. गुप्टिल ने 51 गेंदों में पांच चौके और दो छक्के लगाए. 

मुनरो का प्रहार जारी रहा. हालांकि, दूसरे छोर से विकेट गिर रहे थे. मुनरो ने अपने टी-20 करियर का तीसरा शतक जड़ा. वह टी-20 में तीन शतक जड़ने वाले पहले बल्लेबाज बन गए हैं. वह आखिरी ओवर की पहली गेंद पर कार्लोस ब्राथवेट का शिकार बने. मुनरो को मैन ऑफ द मैच और मैन ऑफ द टूर्नामेंट चुना गया.

‘ज्योतिषी’ किरण मोरे ने जिस बच्चे को कहा था बनेगा क्रिकेटर, आज वही बना विराट के लिए सबसे बड़ा ‘खतरा’

विशाल लक्ष्य का पीछा करने उतरी वेस्टइंडीज की शुरुआत बेहद खराब रही. पहली ही गेंद पर चाडविक वाल्टन बिना खाता खोले टिम साउदी का शिकार बने. क्रिस गेल को भी साउदी ने अपना शिकार बनाया. यह दोनों बल्लेबाज दो के कुल स्कोर पर पवेलियन लौट गए. 

फ्लैचर और पावेल ने टीम का स्कोर 42 तक पहुंचाया, लेकिन इसी स्कोर पर पावेल पवेलियन लौट गए. यहां से विंडीज की पारी संभल नहीं पाई और बड़े अंतर से मैच हार गई. 
(इनपुट आईएएनएस)