स्टंप के पीछे से माही ने लगाई विराट कोहली को आवाज... चीकू...
X

स्टंप के पीछे से माही ने लगाई विराट कोहली को आवाज... चीकू...

इस बार धोनी की आवाज कप्तान विराट कोहली को निर्देश देते हुए माइक में कैद हुई. धोनी ने इस मैच में विराट के साथ-साथ टीम के दूसरे साथियों को भी सलाह दी. 

स्टंप के पीछे से माही ने लगाई विराट कोहली को आवाज... चीकू...

नई दिल्ली : भारत ने अपने हरफनमौला खेल के दम पर बुधवार को महाराष्ट्र क्रिकेट संघ (एमसीए) स्टेडियम में खेले गए दूसरे वनडे मैच में न्यूजीलैंड को छह विकेट से हरा दिया। इसी के साथ तीन वनडे मैचों की सीरीज 1-1 की बराबर पर आ गई है। मुंबई में खेले गए पहले मैच में कीवी टीम ने जीत हासिल करते हुए बढ़त ले ली थी। भारत ने अपने गेंदबाजों के सधे प्रदर्शन के चलते कीवी टीम को निर्धारित 50 ओवरों में नौ विकेट पर 230 रनों पर ही सीमित कर दिया था। इस आसान से लक्ष्य को भारत ने शिखर धवन (68) और दिनेश कार्तिक (नाबाद 64) की अर्धशतकीय पारियों की मदद से 46 ओवरों में चार विकेट खोकर हासिल कर लिया। शानदार गेंदबाजी के लिए भुवनेश्वर कुमार को 'मैन ऑफ द मैच का अवॉर्ड' मिला.

क्रिकेट इतिहास में यकीनन महेंद्र सिंह धोनी सर्वश्रेष्ठ विकेटकीपर हैं. उनकी स्टंपिंग से बल्लेबाजों का बचना नामुमकिन होता है. विकेट के पीछे धोनी अक्सर साथी खिलाड़ियों को निर्देश देते रहते हैं. भले ही विराट कोहली टीम इंडिया के कप्तान हों, लेकिन धोनी अब भी विकेट के पीछे उन्हें और टीम के बाकी साथियों को गाइड करते रहते हैं. टीम के सभी खिलाड़ी उन्हें आज भी विराट के साथ-साथ अपना कप्तान मानते हैं. 

धोनी ने बनाया नया रिकॉर्ड, कोई भारतीय विकेटकीपर नहीं कर पाया ये कमाल

पहले भी अक्सर विकेट में लगे माइक में धोनी की आवाज कैद होती रही है. विकेट में लगे माइक में अक्सर धोनी खिलाड़ियों को निर्देश देते हुए मिल जाते हैं. न्यूजीलैंड के खिलाफ पुणे में खेले गए दूसरे वनडे मैच में एक बार फिर विकेट में लगे माइक में धोनी की आवाज कैद हुई. 

इस बार धोनी की आवाज कप्तान विराट कोहली को निर्देश देते हुए माइक में कैद हुई. धोनी ने इस मैच में विराट के साथ-साथ टीम के दूसरे साथियों को भी सलाह दी. 

VIDEO :स्टंप में लगे माइक से हुआ खुलासा, टीम इंडिया को कैसे लीड करते हैं धोनी

केदार जाधव की गेंदबाजी के दौरान धोनी लगातार बोल रहे थे, ''बहुत बढ़िया, अच्छा डाल रहा है''. ''ऐसा ही डाल इसको, हर तीसरा बॉल ये ही रखना''.

धोनी ने फील्डिंग सेट करवाने के लिए भी कोहली को कहा, लेकिन अपने ही अंदाज में. वो चिल्लाए, '' चीकू, दो-तीन जन (फील्डरों) को इधर छोड़ दे''.  आपको बता दें कि चीकू विराट कोहली का ही नाम है.

बता दें कि ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ खेलते हुए भी धोनी ने अपने साथी खिलाड़ियों को खूब निर्देश देते हुए दिखाई पड़े थे. टीम इंडिया की गेंदबाजी के वक्त धोनी विकेट के पीछे से लगातार कुलदीप यादव और युजवेंद्र चहल को लगातार चिल्ला-चिल्ला कर निर्देश दे रहे थे. कुलदीप यादव को वह लगातार गाइड कर रहे थे कि ऑस्ट्रेलियन ओपनर डेविड वॉर्नर को कैसे गेंदबाजी करनी चाहिए.

वह कुलदीप और चहल से कह रहे थे, वो मारने वाला डाल ना, अंदर या बाहर कोई भी. वह यह भी कह रहे थे, घुमाने वाला डाल घुमाने वाला....

जब मैक्सवेल ने कुलदीप के एक ओवर में तीन छक्के और 1 चौका मारा तब धोनी खुश नहीं थे. धोनी ने फिर हिदायत दी, स्टंप पे मत डाल...अरे बाहर डाल, इसको इतना आगे नहीं. 

अब चहल की बारी थी. धोनी ने उससे कहा, तू भी नहीं सुनता है क्या... ऐसे, ऐसे डालो...चहल ने मैक्सवेल को वाइड गेंद डाली और मैक्सवेल लान्ग ऑन पर कैच आउट हो गए. 

'मैदान पर महेंद्र सिंह धोनी भी होते हैं हमारे कप्तान'

गौरतलब है कि न्यूजीलैंड के खिलाफ खेले गए पहले वनडे से पहले युजवेंद्र चहल ने यह कहा था कि, मैदान पर महेंद्र सिंह धोनी भी हमारे कप्तान होते हैं. युजवेंद्र चहल ने बताया कि किस तरह बिना किसी को पता लगे धोनी युवाओं को निर्देश देते हैं. उन्होंने एक वेबसाइट से बात करते हुए कहा, धोनी भाई अब भी हमारे कप्तान हैं. जब विराट कोहली मिड ऑन या लॉन्ग ऑन पर फील्डिंग कर रहे होते हैं तब हमें किसी ऐसे शख्स की जरूरत होती है जो हमें गाइड कर सके. कोहली के लिए यह संभव नहीं होता कि वह हर बार हमारे पास आएं. ऐसे में धोनी ही हमें गाइड करते हैं. 

चहल ने बताया कि कि धोनी किस तरह कोहली को अपनी जगह पर ही फील्डिंग करने का इशारा करते हैं. धोनी विराट से कहते हैं, तू वहीं रह मैं देख लूंगा. वास्तव में इससे समय बचता है. धोनी के पास लंबा अनुभव है. चहल ने कहा, हम भाग्यशाली हैं कि हम धोनी के साथ खेल रहे हैं. चहल ने यह भी बताया कि धोनी टीम के युवा खिलाड़ियों को छोटे कहकर बुलाते हैं. धोनी के पास आसानी से पहुंचा जा सकता.

Trending news