close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

विराट कोहली और रवि शास्त्री की गैरमौजूदगी में धोनी करवा रहे टीम को प्रैक्टिस

इस तरह महेंद्र सिंह धोनी के संन्यास के बाद की योजनाओं के भी संकेत दे दिए हैं. 

विराट कोहली और रवि शास्त्री की गैरमौजूदगी में धोनी करवा रहे टीम को प्रैक्टिस
गेंदबाजों को प्रैक्टिस कराते दिखे महेंद्र सिंह धोनी (PIC : IANS)

नई दिल्ली: यूएई में एशिया कप 2018 का आगाज हो चुका है. भारतीय टीम के कोच रवि शास्त्री की अनुपस्थिति में टीम के सबसे वरिष्ठ खिलाड़ी महेंद्र सिंह धोनी ने रविवार को दुबई में नेट सेशन का चार्ज संभाला. खिलाड़ियों, पत्रकारों और आईसीसी अधिकारियों के बीच यह नजारा तब देखा गया जब धोनी रवि शास्त्री की जगह खड़े होकर टीम के गेंदबाजों और बल्लेबाजों को गाइड कर रहे थे. सोशल मीडिया पर धोनी का खिलाड़ियों को प्रैक्टिस कराने के कुछ वीडियोज सोशल मीडिया पर वायरल भी हो रहे हैं. 

सोशल मीडिया में फैन्स द्वारा कहा जा रहा है कि इस तरह महेंद्र सिंह धोनी के संन्यास के बाद की योजनाओं के भी संकेत दे दिए हैं. सबसे सफल भारतीय कप्तान के नेतृत्व पर किसी को कोई संदेह नहीं रहा. उनके पास लंबा अनुभव भी है. तो क्या धोनी टीम इंडिया के बेहतरीन कोच साबित हो सकते हैं? 

खिलाड़ियों को नेट प्रैक्टिस कराने के साथ-साथ महेंद्र सिंह धोनी ने खुद भी नेट पर बल्लेबाजी की प्रैक्टिस की.

टीम में वापसी कर रहे अंबाती रायुडू ने कहा कि विराट कोहली की अनुपस्थिति में भी टीम संघर्ष करती दिखाई नहीं देगी. इसकी एक बड़ी वजह है धोनी की उपस्थिति. उन्होंने कहा, 'जाहिर है विराट की कमी खलेगी. यही टीम के लिए एक बड़ा लास होगा. लेकिन हमारी टीम में अभी भी बहुत क्वॉलिटी के खिलाड़ी हैं. धोनी लंबे समय तक टीम के कप्तान रहे हैं, वह टीम को मोरेल बढ़ाने के लिए हमेशा आगे आते हैं. उन्होंने मेरी अनेक मौकों पर मदद की है. तभी मैं यहां तक पहुंच पाया हूं.' 

टीम इंडिया का मिडिल ऑर्डर अभी भी तय नहीं है, और वर्ल्ड कप को एक साल से भी कम का समय रह गया है. ऐसे में अंबाती रायुडू जैसे खिलाड़ी अपनी जगह सुनिश्चित कर सकते हैं.