close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

आम्रपाली ग्रुप के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट पहुंचे धोनी, कहा- मुझे कंपनी ने दिया धोखा

धोनी ने 2009 से 2016 तक कंपनी का प्रचार किया था. इस क्रम में वह कंपनी के कई विज्ञापनों में देखे गए थे.

आम्रपाली ग्रुप के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट पहुंचे धोनी, कहा- मुझे कंपनी ने दिया धोखा
धोनी ने याचिका में कोर्ट से गुहार लगाई है कि आम्रपाली प्रोजेक्ट में उन्हें पेंटहाउस का कब्जा दिलाया जाए. (फाइल फोटो)

नई दिल्ली: आम्रपाली के खिलाफ भारतीय टीम के पूर्व कप्तान और आईपीएल की फ्रेंचाइजी चेन्नई सुपर किंग्स के कप्तान महेंद्र सिंह धोनी सुप्रीम कोर्ट पहुंच गए है. उन्होंने अपनी नई याचिका में कोर्ट से गुहार लगाई है कि आम्रपाली प्रोजेक्ट में उन्हें पेंटहाउस का कब्जा दिलाया जाए. साथ ही उसे अन्य घर खरीदारों की तरह लेनदारों की सूची में भी शामिल किया जाए.

धोनी ने कोर्ट को हलफनामे के जरिए बताया है कि उसने रांची में आम्रपाली सफायर में पेंटहाउस बुक कराया था. तब आम्रपाली ग्रुप के मैनेजमेंट ने गुमराह कर हसीन सपने दिखाए लेकिन उन्हें फ़्लैट नहीं दिया. सुप्रीमकोर्ट से मांग की है कि उन्हें आमरपाली से फ़्लैट दिलवाया जाए.

यह भी पढ़ें- 'महेंद्र सिंह धोनी से ज्यादा किसी क्रिकेटर ने देश की सेवा नहीं की'

क्रिकेटर धोनी ने अपनी याचिका में लिखा है कि उन्होंने रांची में अम्रपाली सफारी में एक पेंटहाउस बुक किया था. साथ ही उन्होंने कहा है कि समूह के प्रबंधन ने उन्हें अपना ब्रांड एम्बेसडर भी बनाया था.

धोनी ने कहा कि कंपनी ने उन्हें धोखा दिया है और ब्रांड एम्बेसडर के तौर पर जो बकाया राशि थी, उसका भी भुगतान नहीं किया है. धोनी ने 2009 से 2016 तक कंपनी का प्रचार किया था. इस क्रम में वह कंपनी के कई विज्ञापनों में देखे गए थे.