close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

धोनी को मिली कश्मीर की रखवाली की ड्यूटी, खेल के मैदान के बाद यहां मुस्तैद दिखेंगे माही

एमएस धोनी को सेना की ओर से कश्मीर के आंतकवाद से पीड़ित इलाकों में गश्ती, गार्ड और पोस्ट की डूय्टी मिली है. 

धोनी को मिली कश्मीर की रखवाली की ड्यूटी, खेल के मैदान के बाद यहां मुस्तैद दिखेंगे माही
धोनी की घाटी में उग्रावाद से ग्रस्त इलाके में तैनाती हुई है. (फाइल फोटो)

नई दिल्ली: भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी  (MS Dhoni) इन दिनों कश्मीर में भारतीय सेना की पैराशूट रेजिमेंट में दो महीने के ट्रेनिंग सत्र से जुड़े हैं. अब इस ट्रेनिंग के बाद वे सेना में कौन सी भूमिका निभाएंगे, यह तय हो गया है. सेना ने एक बायान जारी कर धोनी की कश्मीर घाटी में भूमिका के बारे में बताया. अपनी नई जिम्मेदारी निभाने के दौरान अब धोनी को ऑनरी कर्नल का ओहदा मिलेगा. वे सेना के साथ गश्त करते दिखाई देंगे. 

कब संभालेंगे जिम्मेदारी
धोनी बुधवार से जम्मू-कश्मीर में मानद कर्नल की जिम्मेदारी संभालेगे. सेना के मुताबिक वे कश्मीर के संघर्ष-ग्रस्त इलाके में पैट्रेलिंग डू्यूटी करेंगे. धोनी ने हाल ही में खुद को 3 अगस्त से शुरू हो रहे टीम इंडिया के वेस्टइंडीज दौरे के लिए अनुपलब्ध बताया था जब विश्व कप खत्म होने के बाद उनके रिटायरमेंट की घोषणा की अटकलें जोरों पर थी. विश्व कप में टीम इंडिया सेमीफाइनल में हार गई थी. 

यह भी पढ़ें: कॉट्रेल ने धोनी के ‘देश प्रेम’ को किया सलाम, अंपायर को सैल्यूट करने के लिए हैं मशहूर

सेना ने दिया यह बयान
धोनी को भारतीय सेना ने अब तक मानद ब्रिगेडियर की उपाधि दी हुई थी. धोनी 15 दिन तक आतंकवादियों के खिलाफ लड़ने वाली विक्टर फोर्स के साथ कश्मीर के मुस्लिम बहुल इलाके में रहेंगे. एक बयान में सेना ने कहा कि , “वे पैट्रोलिंग, गार्ड और पोस्ट की जिम्मेदारी निभाएंगे और दस्ते के साथ रहेंगे.”

MS Dhoni in Army

फिर बल्ला थामेंगे धोनी
धोनी भले ही वेस्टइंडीज दौरे के लिए न जा सके हों लेकिन उम्मीद की जा रही है कि वे आगामी 15 सितंबर से टीम इंडिया के दक्षिण अफ्रीकी दौरे के लिए चुने जा सकते हैं. धोनी को एक प्रैराट्रूपर की ट्रेनिंग दी गई है जिसमें एयरक्राफ्ट से कूदने का प्रशिक्षण भी शामिल है. जो उनकी पूरी ट्रेनिंग का हिस्सा था. धोनी जैसी हस्ती, जिनकी बड़ी ब्रैंड वैल्यू है, सुरक्षा बलों को  युवाओं में अपनी छवि मजूबत करने में मदद करती है और सेना से जुड़ने के लिए प्रेरित करती है. 

सेना से अपना प्रेम दिखाते रहे हैं धोनी
धोनी विश्व कप पहले मैच में ही दक्षिण अफ्रिका के खिलाफ, अपने गल्ब्स में आर्मी का एक बैज लगा उतरे थे. जिसके बाद आईसीसी की आपत्ति के बाद उन्होंने ऐसा गलब्स नहीं पहना था. इससे पहले मार्च में ऑस्ट्रेलिया के भारत दौरे के रांची वनडे मैच में धोनी सहित पूरी टीम इंडिया ने आर्मी की कैप पहन कर मैच खेला था. धोनी हाल ही में 38 साल के हुए हैं उनका क्रिकेट में बेहतरीन रिकॉर्ड है. वे दुनिया के एकमात्र कप्तान हैं जिन्होंने आईसीसी विश्व कप , आईसीसी चैंपियन्स ट्रॉफी और टी-20 विश्व कप जीता है.