सचिन को आउट करने के लिए होती थी जबरदस्त प्लानिंग, नासिर हुसैन ने किया खुलासा

इंग्लैंड के पूर्व कप्तान नासिर हुसैन ने कहा, ‘जब मैं सर्वकालिक बल्लेबाजों की बात करता हूं तो सचिन तेंदुलकर की तकनीक शानदार थी.'

सचिन को आउट करने के लिए होती थी जबरदस्त प्लानिंग, नासिर हुसैन ने किया खुलासा
सचिन तेंदुलकर और नासिर हुसैन (फाइल फोटो)

नई दिल्ली: इंग्लैंड के पूर्व कप्तान नासिर हुसैन (Nasser Hussain) ने शनिवार को कहा कि सचिन तेंदुलकर (Sachin Tendulkar) और उनकी ‘शानदार तकनीक’ की वजह से उनकी टीम को सिर्फ इस महान भारतीय बल्लेबाज को आउट करने की रणनीति बनाने के लिये कई बैठकें करनी पड़ती थीं. तेंदुलकर ने 2013 में संन्यास लेने से पहले 2 दशक तक भारतीय क्रिकेट में दबदबा बनाया हुआ था जिसमें उनके नाम कई बल्लेबाजी रिकार्ड रहे जिसमें टेस्ट और वनडे में सर्वाधिक रन बनाने के अलावा सबसे ज्यादा अंतरराष्ट्रीय शतक भी शामिल हैं.

यह भी पढ़ें- इंग्लैंड के दिग्गज केविन पीटरसन का ट्विटर अकाउंट ब्लॉक, जानिए क्या है वजह

हुसैन ने याद करते हुए कहा, ‘जब मैं सर्वकालिक बल्लेबाजों की बात करता हूं तो सचिन तेंदुलकर की तकनीक शानदार थी. जब मैं इंग्लैंड का कप्तान था तो मुझे याद नहीं कि हम सिर्फ तेंदुलकर को आउट करने पर चर्चा के लिए कितनी टीम बैठकें किया करते थे.’ वो अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद के पोडकास्ट ‘क्रिकेट इनसाइड आउट’ के ताजा एपिसोड पर इयान बिशप और एलमा स्मिट से बात कर रहे थे.

हुसैन ने कहा, ‘मेरे लिए, पूरी दुनिया के सभी हिस्सों में रन बनाना तकनीक है और मैं उसे पसंद करता हूं जो सहज ढंग से खेलते हैं और गेंद को बल्ले पर आने देते हैं. मेरे हिसाब से केन विलियमसन के पास मौजूदा दौर में बहुत अच्छी तकनीक है, वह गेंद को सहज ढंग से देरी से खेलता है. टी20 क्रिकेट के कारण खिलाड़ी वर्तमान में काफी आक्रामक खेलते हैं, विलियमसन सभी तीनों प्रारूपों में खेल सकते हैं और प्रत्येक के हिसाब से अपने खेल को बदल सकते हैं.’

बिशप ने भी कहा कि उन्होंने अपने करियर में जितने भी बल्लेबाजों को गेंदबाजी की, उसमें तेंदुलकर को गेंदबाजी करना सबसे कठिन था. उन्होंने कहा, ‘मैंने अपने करियर में जिन बल्लेबाजों को गेंदबाजी की थी, उनमें से सचिन तेंदुलकर एक थे जिन्हें गेंदबाजी करना सबसे मुश्किल होता था. वो हमेशा ‘स्ट्रेट लाइन’ में हिट किया करते थे.’