महिला क्रिकेटरों के राष्ट्रीय चयन पैनल की प्रमुख बनीं पूर्व स्पिनर नीतू डेविड

हेमलता काला (Hemlata Kala) की अगुआई वाले पिछले पैनल का कार्यकाल मार्च 2020 में ही समाप्त हो गया था. इसमें सुधा शाह, अंजलि पेंढारकर, शशि गुप्ता और लोपामुद्रा बनर्जी अन्य सदस्य थीं. 

महिला क्रिकेटरों के राष्ट्रीय चयन पैनल की प्रमुख बनीं पूर्व स्पिनर नीतू डेविड
बीसीसीआई ने महिला क्रिकेट टीम के लिए नए पैनल का ऐलान कर दिया है...

नई दिल्ली : भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (Board of Control for Cricket in India) ने शनिवार को पूर्व स्पिनर नीतू डेविड को महिलाओं के राष्ट्रीय चयन पैनल का चेयरमैन नियुक्त करने का ऐलान किया. पैनल के अन्य सदस्यों में पूर्व भारतीय खिलाड़ी मिठु मुखर्जी (Mithu Mukherjee), रेणु मार्गेट (Renu Margrate), आरती वैद्य (Arati Vaidya) और वी कल्पना (V Kalpana) को भी शामिल किया गया है.

मार्च में खत्म हुआ था कार्यकाल
हेमलता काला (Hemlata Kala) की अगुआई वाले पिछले पैनल का कार्यकाल मार्च 2020 में ही समाप्त हो गया था. इसमें सुधा शाह, अंजलि पेंढारकर, शशि गुप्ता और लोपामुद्रा बनर्जी अन्य सदस्य थीं. पैनल ने आस्ट्रेलिया में महिला विश्व टी20 (Women's T20 World Cup) के लिये टीम चुनी थी जो उनका अंतिम चयन था. इसमें भारतीय टीम उप विजेता रही थी.

नीतू ने रोशन किया देश का नाम
भारतीय स्पिनर डेविड ने 10 टेस्ट में 41 विकेट चटकाये हैं. उनके नाम टेस्ट में एक पारी में सर्वश्रेष्ठ गेंदबाजी का विश्व रिकार्ड (53 रन देकर आठ विकेट) है जो उन्होंने 1995 में जमशेदपुर में इंग्लैंड के खिलाफ हासिल किया था. 1990 के दशक के अंत और 2000 की शुरुआत तक नीतू डेविड भारत की महिला वनडे में सर्वााधिक विकेट लेने वाली खिलाड़ी थीं जिसके बाद झूलन गोस्वामी ने उन्हें पछाड़ दिया.

देरी पर हुई थी बोर्ड की आलोचना  
बीसीसीआई सचिव जय शाह (BCCI Secretary Jay Shah) ने बयान में कहा, ‘वरिष्ठता को देखते हुए बायें हाथ की पूर्व स्पिनर नीतू डेविड पांच सदस्यीय समिति की प्रमुख होंगी. ’

बीसीसीआई ने नये चयन पैनल की घोषणा नहीं की थी जिसकी काफी आलोचना की जा रही थी लेकिन इस विलंब के पीछे कारण कोविड-19 के कारण लॉकडाउन में किसी भी क्रिकेट गतिविधि का नहीं होना था.

महिला टीम का अगला मुकाम
भारतीय महिला टीम अब संयुक्त अरब अमीरात में तीन टीमों की महिला चैलेंजर सीरीज खेलेगी और इसके लिये बीसीसीआई को सबसे पहले नया महिला चयन पैनल बनाने की जरूरत थी. गौरतलब है कि पैनल में डेविड प्रमुख दावेदार थीं, जिन्होने 2008 में अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट को अलविदा कहा था.

देश भर से थी इनकी दावेदारी
चयन समिति के सदस्यों के लिये महाराष्ट्र की पूर्व बल्लेबाज आरती वैद्य ने आवेदन भरा था जो पश्चिम क्षेत्र से दावेदार थीं. पूर्वी क्षेत्र से मिथु मुखर्जी का नाम चल रहा था. वह पिछले पैनल का हिस्सा थीं लेकिन अपना पूरा कार्यकाल खत्म नहीं कर पायी थीं, उनको कार्यकाल के दो साल ही बचे हैं. मध्य क्षेत्र से रेणु माग्रेट उम्मीदवार थीं वहीं पांचवीं उम्मीदवार 59 वर्षीय वेंकटाचेर कल्पना थीं.

LIVE TV