close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

BCCI की नई टीम हुई तय, गांगुली ने शेयर की सदस्यों की खास तस्वीर

BCCI: चुनाव प्रकिया में कई पदों के लिए केवल एक-एक व्यक्ति ने नामांकन भरे हैं इससे बीसीसीआई की टीम अभी से तय हो गई है. 

BCCI  की नई टीम हुई तय, गांगुली ने शेयर की सदस्यों की खास तस्वीर
सौरव गांगुली बीसीसीआई अध्यक्ष की पारी खेलने के लिए तैयार हैं. (फाइल फोटो)

नई दिल्ली: सुप्रीम कोर्ट द्वारा नियुक्त प्रशासकों की समिति (CoA)  निगरानी में भारत की शीर्ष क्रिकेट संस्था भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (BCCI)  की नई टीम के गठन की प्रक्रिया अपने अंतिम चरण में हैं. 23 अक्टूबर तक होने वाले चुनावों के लिए नामंकन प्रक्रिया सोमवार को ही पूरी हो गई है. इसमें कई पदों को लिए केवल एक-एक व्यक्ति ने नामांकन दाखिल किए हैं. इससे एक सप्ताह पहले ही बीसीसीआई की नई टीम के कई चेहरे तय हो गए हैं.

 सौरव ने शेयर की खास तस्वीर
नई टीम में सबसे चर्चित नाम टीम इंडिया के पूर्व कप्तान सौरव गांगुली (Sourav Ganguly) का है जो अध्यक्ष पद के लिए एकमात्र दावेदार बने हैं. उनके नाम पर सहमति दो दिन पहले ही हो गई थी. गांगुली ने मंगलवार को ही एक तस्वीर शेयर की जिसमें देश की इस शीर्ष क्रिकेट संस्था के नए सदस्य दिखाई दे रहे हैं. इस तस्वीर में यह शाह, जयेश जॉर्ज, पूर्व बीसीसीआई अध्यक्ष अनुराग ठाकुर, अरुण धूमिल और माहिम वर्मा नजर आ रहे हैं.  

गांगुली ने इस तस्वीर को शेयर करते हुए लिखा, "बीसीसीआई की नई टीम ... उम्मीद है हम अच्छा काम करेंगे... अनुराग ठाकुर शुक्रिया इसके लिए"

अकेले नामांकन भरने वालों में ये लोग भी रहे शामिल
गांगुली के अलाव सचिव पद के लिए जय शाह नामंकन भरने वाले इकलौते शख्स रहे. वहीं उपाध्यक्ष के लिए माहिम वर्मा, सयुंक्त सचिव के लिए जयेश जॉर्ज, कोषाध्यक्ष के लिए अरुण सिंह धूमिल ने नामांकन भरा. इसके अलावा पूर्व क्रिकेटर ब्रजेश पटेल का आईपीएल चेयरमैन बनना तय हो गया है. 

 2020 तक ही रहेंगे अध्यक्ष
गांगुली सितंबर 2020 तक ही अध्यक्ष बनेंगे क्योंकि इसके बाद वह नए नियम के तहत कूलिंग ऑफ पीरियड पर चले जाएंगे. गांगुली बंगाल क्रिकेट संघ (सीएबी) के भी अध्यक्ष हैं. वह पिछले पांच साल से इस पद पर बने हुए हैं. नए नियम के मुताबिक बोर्ड का कोई भी प्रशासक लगातार छह साल से ज्यादा अधिकारी नहीं रह सकता. 

23 अक्टूबर को ही प्रशासकों की समिति बीसीसीआई की नई टीम को शक्तियां स्थानांतरित करेगी. इसके बाद से 33 महीने बाद सीओए का अस्तित्व भी समाप्त हो जाएगा. सीओए को सुप्रीम कोर्ट ने लोधा कमेटी की सिफारिशों को लागू करने के लिए नियुक्त किया था.