पाकिस्तानी दिग्गज ने कहा- 4 दिन का टेस्ट बकवास आइडिया, BCCI कभी नहीं देगा मंजूरी

सचिन तेंदुलकर से लेकर मौजूदा कप्तान विराट कोहली तक चार दिवसीय टेस्ट मैच के फॉर्मेट से सहमत नहीं हैं. 

पाकिस्तानी दिग्गज ने कहा- 4 दिन का टेस्ट बकवास आइडिया, BCCI कभी नहीं देगा मंजूरी
भारतीय टेस्ट टीम 2019 में एक भी मैच नहीं हारी. (फाइल फोटो)

लाहौर: आईसीसी (ICC) ने जब से कहा है कि वह पांच दिन के टेस्ट को चार दिन के मैच (4 Day Test) में बदलने पर विचार कर रही है, तब से इस पर दुनियाभर में बहस शुरू हो गई है. भारतीय दिग्गज सचिन तेंदुलकर से लेकर मौजूदा कप्तान विराट कोहली तक इस विचार से सहमत नहीं हैं. कोहली ने तो यह तक कह दिया है कि ऐसा करने से तो एक दिन टेस्ट क्रिकेट ही मर जाएगा. भारतीय क्रिकेट बोर्ड (बीसीसीआई) ने अभी इस पर अपना रुख साफ नहीं किया है. दूसरी ओर, पाकिस्तान के तूफानी गेंदबाज को यकीन है कि बीसीसीआई (BCCI) चार दिवसीय टेस्ट मैच को कभी स्वीकार नहीं करेगा. 

पाकिस्तान के पूर्व गेंदबाज शोएब अख्तर (Shoaib Akhtar) ने आईसीसी (इंटरनेशनल क्रिकेट काउंसिल) के इस विचार को बकवास करार दिया. उन्होंने कहा, ‘चार दिवसीय टेस्ट मैच (Four-Day Test) का विचार बकवास है और इसमें कोई भी दिलचस्पी लेने वाला नहीं है. बीसीसीआई प्रमुख सौरव गांगुली (Sourav Ganguly) बुद्धिमान व्यक्ति हैं और वे ऐसा नहीं होने देंगे. वे टेस्ट क्रिकेट को नहीं मरने देंगे.’

यह भी पढ़ें: KL राहुल और धवन में चल रही रेस, तूफानी ओपनर ने कहा- मेरी टीम में शिखर की कोई जगह नहीं 

शोएब अख्तर ने आगे कहा, ‘यह भी तय है कि आईसीसी (ICC) चार दिवसीय टेस्ट मैच के विचार पर बीसीसीआई की मंजूरी के बिना अमल नहीं कर सकेगी. मैं चाहता हूं कि पाकिस्तान, भारत और श्रीलंका से और लोग आगे आएं और अपनी आवाज उठाएं. मैं चाहता हूं कि हमारे देश के दिग्गज क्रिकेटर इस पर अपनी राय स्पष्ट करें.’

आईसीसी का विचार है कि यदि पांच दिन के टेस्ट मैच को चार दिन का कर दिया जाए तो क्रिकेट के व्यस्त कार्यक्रम को थोड़ा आसान किया जा सकेगा. इससे क्रिकेटरों पर रहने वाला दबाव भी कम होगा. वह 2023 से वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप में चार दिवसीय टेस्ट मैच का फॉर्मेट लागू करना चाहती है.

यह भी देखें: न्यूजीलैंड के बल्लेबाज ने की युवराज की बराबरी, एक ओवर में 6 छक्के लगाए, देखें VIDEO

दूसरी ओर, सचिन तेंदुलकर, रिकी पोंटिंग, ग्लेन मैक्ग्रा, गौतम गंभीर समेत कई दिग्गज इस विचार का विरोध कर रहे हैं. बीसीसीआई अध्यक्ष सौरव गांगुली ने इस पर अपनी राय स्पष्ट नहीं की है. उन्होंने इससे जुड़े एक सवाल पर कहा कि अभी इस बारे में कुछ कहना जल्दबाजी होगी.