close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

इस पाकिस्तानी क्रिकेटर का दावा, 'गौतम गंभीर डरते थे मुझसे, मैंने किया उनका करियर खत्म'

पाकिस्तान के एक क्रिकेटर का दावा है कि उन्होंने टीम इंडिया के पूर्व सलामी बल्लेबाज गौतम गंभीर का वनडे करियर को खत्म करने में उनका हाथ था.

इस पाकिस्तानी क्रिकेटर का दावा, 'गौतम गंभीर डरते थे मुझसे, मैंने किया उनका करियर खत्म'
गौतम गंभीर ने 2011 विश्व कप में टीम इंडिया के बेहतरीन प्रदर्शन किया था. (फाइल फोटो)

नई दिल्ली:  पाकिस्तान टीम के पूर्व तेज गेंदबाज मोहम्मद इरफान (Mohammad Ifran) ने दावा किया है कि टीम इंडिया के पूर्व सलामी बल्लेबाज गौतम गंभीर (Gautam Gambhir) का करियर उनकी वजह से खत्म हुआ है. इरफान ने एक टीव इंटरव्यू में कहा है कि 2012 में गंभीर का वनडे करियर उनकी वजह से खत्म हुआ है. गंभीर ने अपने करियर का आखिरी टी20 पाकिस्तान के खिलाफ जबकि आखिरी वनडे इंग्लैंड के खिलाफ खेला था. 

डरते थे मुझसे गंभीर-इरफान
इरफान ने इस इंटरव्यू में यहां तक कह दिया कि गंभीर उनसे डरते थे. उन्होंने कहा, "गौतम गंभीर मुझसे डरते थे, मुझे लगता है कि उनका करियर मेरी वजह से खत्म हुआ है. उसके बाद वे टीम में वापसी नहीं कर सके." सात फुट एक इंच लंबे पाकिस्तान के पेसर ने 2012 में सीमित ओवरों की सीरीज में चार बार आउट किया था.

यह भी पढ़ें: VIDEO: बातों बातों में बता बैठे रोहित, क्या है शमी से परफॉर्म कराने का राज

इरफान से उस सीरीज में दो बार आउट हुए गंभीर
उस समय भारत और पाकिस्तान के बीच तीन मैचों की वनडे सीरीज मैं इरफान ने गंभीर तो दो बार आउट किया था. इसी साल गंभीर ने पाकिस्तान के खिलाफ अपना आखिरी टी20 मैच भी खेला था. उस सीरीज के बात गंभीर टीम इंडिया के लिए केवल एक ही वनडे मैच खेल सके थे जो कि उन्होंने इंग्लैंड के खिलाफ खेला था. उसके बाद वे टीम इंडिया में वापसी नहीं कर सके. 

मुझसे आंख मिलाने में कतराते थे गंभीर- इरफान
इरफान ने कहा, "वे (गंभीर) मैच या नेट्स में मेरा सामना करना पसंद नहीं करते थे. मैंने हमेशा महसूस किया के वे मुझसे आंख मिलाने से कतराते थे. मुझे याद है कि मैंने 2012 की सीमित ओवरों की सीरीज में चार बार आउट किया था और वे मेरे खिलाफ सहज नहीं थे."

भारतीय बल्लेबाज गेंद भी नहीं देख पाते थे
37 साल के इरफान ने यह भी कहा कि 2012 की उस सीरीज में भारतीय बल्लेबाज उनकी गेंद को देख भी नहीं पाते थे.  उन्होंने कहा, "जब मैं भारत के खिलाफ खेला, वे मेरे खिलाफ बल्लेबाजी करते हुए सहज नहीं थे.  कुछ लोगों ने मुझे बाताया कि 2012 की भारत में हुई उस सीरीज में वे मेरी ऊंचाई के कारण मेरी गेंद ठीक से देख नहीं पाते थे और मेरे पेस को समझ नहीं पाए थे."

विराट को भी आई थी दिक्कत- इरफान
इरफान ने यहां तक कि कह दिया कि टीम इंडिया के वर्तमान कप्तान विराट कोहली को भी मेरे खिलाफ काफी परेशान दिखे. इरफान ने कहा था, "उन्होंने (विराट) मुझसे कहा था कि उन्हें लगा था कि मैं करीब 130-135 की रफ्तार से गेंद फेंकूंगा, लेकिन मैंने अपनी गति बढ़ाई और 145 की गति से गेंदें फेंकी और उन्हें मुझे खेलने में परेशानी हुई. "

गंभीर ने टीम इंडिया के लिए 78 टेस्ट, 147 वनडे और 37 टी20 इंटरनेशनल खेले हैं, उन्होंने 2018 में क्रिकेट के सभी प्रारूपों से संन्यास की घोषणा की थी.  वहीं इरफान ने पाकिस्तान के लिए 60 वनडे मैच खेले हैं. पिछली बार वे पाकिस्तान के लिए 2016 में खेले थे. उन्होंने अपना आखिरी मैच इंग्लैंड के खिलाफ खेला था.