दुनिया जिन्हें नहीं मानती थी गेंदबाज, उन्होंने किए ये छह चमत्कार

 दादा की क्षमताओं का अंदाजा इस बात से लगाया जा सकता है कि उन्होंने ने सभी फोरमेट में 18000 से ज्यादा रन बनाए और 199 विकेट लिए. 

दुनिया जिन्हें नहीं मानती थी गेंदबाज, उन्होंने किए ये छह चमत्कार
ये 6 स्पैल आज भी किए जाते हैं याद (FILE PHOTO)
नई दिल्ली : एक लंबे समय से क्रिकेट के बल्लेबाजों का खेल माना जाता रहा है. इसके बावजूद क्रिकेट इतिहास में गेंदबाजों ने कुछ ऐसे मौके बनाए हैं, जब दर्शक गेंदबाजी देखकर हैरान रह गए हैं. आश्चर्य की बात है कि कई बार तो ऐसे मौके पार्ट टाइम गेंदबाजों ने क्रिएट किए हैं. सांसें रोक देने वाले गेंदबाजों के इस खूबसूरत स्पैल ने टीम के यादगार जीत भी दिलाई है. यहां हम छह ऐसे खूबसूरत स्पैल्स के बारे में बता रहे हैं जो गेंदबाजों के लिए ही नहीं क्रिकेट इतिहास के लिए भी यादगार माने जाते हैं : 
 
सुनील जोशी
 
Sunil Joshi
 
लगभग 16 साल पहले कर्नाटक के गेंदबाज सुनील जोशी ने एक चौंकाने वाला स्पैल फेंका था. उनका गेंदबाजी विश्लेषण था दस ओवरों में 6 मैडन. 6 रन और 5 विकेट. यानी उन्हें केवल 0.6 रन प्रति ओवर की दर से रन दिए थे और 5 विकेट लिए थे. उनकी यह गेंदबाजी दक्षिण अफ्रीका जैसी मजबूत टीम के सामने थी. मजेदार बात थी कि जोशी को अनिल कुंबले की जगह टीम में खिलाया गया था. उन्होंने इस मौके का भरपूर फायदा उठाया. उनके इस खूबसूरत स्पैल की वजह से ही दक्षिण अफ्रीका की टीम महज 117 रनों पर आउट हो गई थी और भारत ने यह टारगेट 27 ओवर शेष रहते हासिल कर लिया था. 
 
मुरली कार्तिक 
 
Murali Kartik
 
मुरली कार्तिक को भारतीय टीम में एक शांत खिलाड़ी के रूप में जाना जाता था. अनिल कुंबले और हरभजन सिंह की जोड़ी के चलते वह कभी टीम में अपनी स्थाई जगह नहीं बना पाए, लेकिन 2007 में ऑस्ट्रेलिया के भारत दौरे पर उन्होंने मजबूत ऑस्ट्रेलियाई बल्लेबाजी के चकित कर दिया था. उन्होंने 27 रन देकर 6 विकेट हासिल किए. धोनी ने जिद के चलते कार्तिक को प्लेइंग इलेविन में शामिल किया. कार्तिक ने भी अपने कप्तान को निराश नहीं किया और ड्रीम स्पैल फेंका. 7 मैचों की इस सीरीज में ऑस्ट्रेलिया पहले ही 4-1 से आगे था, लेकिन कार्तिक ने इस मैच में भारत को शानदार जीत दिलाई. 
 
जसुभाई पटेल
 
Jasubhai Patel
 
यह मुरलीधरन से भी पहले की बात है. एक बेहद विनम्र गेंदबाज था. इस गेंदबाज को हमेशा ही बहुत अंडर रेटेड गेंदबाज माना जाता था. इस गेंदबाज ने अपने 8वें टेस्ट मैच में ऑस्ट्रेलिया के दिग्गज बल्लेबाजों के अपनी ऑफ ब्रेक गेंदबाजी से धराशाई कर दिया था. ऑस्ट्रेलिया की पहली पारी में इस गेंदबाज ने 69 रन देकर 9 विकेट लिए थे. पूरी दुनिया ने देखा था कि किस तरह इस भारतीय गेंदबाज ने आस्ट्रेलियन बल्लेबाजों के घुटने टेकने पर मजबूर कर दिया था. उस समय तक किसी भी भारतीय गेंदबाज का यह बेस्ट गेंदबाजी स्पैल था. इस गेंदबाज का नाम था जसुभाई पटेल. इस रिकॉर्ड के 1999 में पाकिस्तान के खिलाफ 10 विकेट लेकर अनिल कुंबले ने तोड़ा. इस टेस्ट मैच में पटेल ने 124 रन देकर 14 विकेट लिए थे, लेकिन इसके बाद जल्द ही पटेल का प्रतिभाशाली करियर समाप्त हो गया. 
 
रॉबिन सिंह
 
Robin Singh
 
रबींद्र रामनारायण सिंह, जिन्हें आमतौर पर रॉबिन सिंह के नाम से जाना जाता है. एक लंबे समय तक भारतीय टीम के एक साइलेंट हीरो रहे हैं. भारत के इस सबसे ज्यादा प्रतिभाशाली ऑल राउंडर ने अनेक मौकों पर अपने बल्ले का जौहर दिखाया और कई बार शानदार गेंदबाजी की. त्रिनीदाद में जन्मे इस क्रिकेटर ने तत्कालीन विश्व चैंपियन श्रीलंका के खिलाफ शानदार गेंदबाजी करते हुए 22 रनें पर 5 विकेट हासिल किए थे. रॉबिन सिंह की गेंदबाजी की बदौलत ही लंका 172 रनों पर सिमट गया और भारत ने यह मैच आसानी से जीत लिया. 
 
सौरव गांगुली 
 
Sourav Ganguly
 
इस सूची में सौरव गांगुली का नाम खास महत्व रखता है. सौरव गांगुली के पार्टनरशिप ब्रेक करने वाला गेंदबाज माना जाता था. दादा के अपवादस्वरूप एक बेहतरीन पेस गेंदबाज ऑलराउंडर माना जाता है. दादा की क्षमताओं का अंदाजा इस बात से लगाया जा सकता है कि उन्होंने ने सभी फोरमेट में 18000 से ज्यादा रन बनाए और 199 विकेट लिए. पाकिस्तान के खिलाफ किसी भी गेंदबाज का यह सबसे यादगार स्पैल माना जाता है. गांगुली ने 1999 में हुए सहारा कप में अपने चिर प्रतिद्वन्द्वी पाकिस्तान के खिलाफ 16 रन देकर 5 विकेट लिए थे. जीत के लिए पाकिस्तान के 182 रन बनाने थे और वह 79 रन पर एक विकेट गंवा चुका था. लग रहा था कि मैच पाकिस्तान की गिरफ्त में आ चुका है. इसी समय गांगुली के आक्रमण पर लगाया गया और भारत यह मैच 34 रन से जीत गया. 
 
स्टुअर्ट बिन्नी
 
Stuart Binny
 
क्रिकेट में ऐसा बहुत कम होता है कि गेंदबाज दिए गए रनों से ज्यादा विकेट ले ले, लेकिन स्टुअर्ट बिन्नी ने क्रिकेट इतिहास और अपने जीवन का एक यादगार स्पैल डाला था. बिन्नी ने 2014 में बांग्लादेश के खिलाफ महज 4 रन देकर 6 विकेट हासिल किए थे. वनडे मैचों में यह आठवां मौका था जब किसी गेंदबाज ने 5 या उससे अधिक विकेट लिए हों. 
Zee News App: पाएँ हिंदी में ताज़ा समाचार, देश-दुनिया की खबरें, फिल्म, बिज़नेस अपडेट्स, खेल की दुनिया की हलचल, देखें लाइव न्यूज़ और धर्म-कर्म से जुड़ी खबरें, आदि.अभी डाउनलोड करें ज़ी न्यूज़ ऐप.