Breaking News
  • कोरोना से मृत्यु दर 1% से कम करने का लक्ष्य: PM मोदी
  • आरोग्य सेतु ऐप के जरिए संक्रमित लोगों के करीब पहुंच सकते हैं: PM मोदी
  • 72 घंटे में संक्रमण की जानकारी से खतरा कम: PM मोदी
  • देश में फिलहाल हर रोज 7 लाख टेस्टिंग: PM मोदी

इस ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेटर ने दी थी पार्थिव पटेल को मुँह तोड़ने की धमकी, जानें पूरी डिटेल

 टीम इंडिया के पूर्व विकेटकीपर पार्थिव पटेल और ऑस्ट्रेलिया के पूर्व बल्लेबाज मैथ्यू हेडन के बीच ब्रिसबेन में तकरार हुई थी जो अब दोस्ती में बदल चुकी है.

इस ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेटर ने दी थी पार्थिव पटेल को मुँह तोड़ने की धमकी, जानें पूरी डिटेल

नई दिल्ली: पूर्व भारतीय विकेटकीपर पार्थिव पटेल (Parthiv Patel) ने एक चौंकाने वाला खुलासा करते हुए बताया कि साल 2002 की भारत और ऑस्ट्रेलिया सीरीज के दौरान ऑस्ट्रेलिया के महान बल्लेबाज मैथ्यू हेडन (Matthew Hayden) ने मुक्का मारकर उनका मुँह तोड़ने की धमकी दी थी. दरअसल ये घटना ब्रिसबेन टेस्ट के दौरान हुई थी जब पार्थिव मैदान में भारतीय बल्लेबाजों के लिए ड्रिंक्स लेकर जा रहे थे और उनका सामना हेडन से हो गया था. हेडन पार्थिव को देखते ही आग बबूला हो गए थे और उन्हें खरी-खोटी सुना दी थी. हेडन वास्तव में पार्थिव द्वारा उनके साथ की गई बदसलूकी का जवाब दे रहे थे और इसी वजह से पार्थिव ने हेडन को पलटकर कोई जवाब नहीं दिया था.

यह भी पढ़ें- B'day Special: अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में हुए फेल, तो राजनीति के पिच पर खेली कामयाब पारी

इस वाक्ये के बारे में बात करते हुए पार्थिव ने एक रेडियो चैनल को बताया कि, 'मैं ब्रिसबेन में ड्रिंक्स लेकर जा रहा था, इस मैच में इरफान पठान ने उनका विकेट हासिल किया था. वो पहले ही शतक बना चुके थे और मैच काफी मुश्किल स्थिति में था तभी इरफान ने उनको आउट कर दिया. मैं उनके बगल से गुजर रहा था और मैंने उनके पास जाकर हू हू कहा था.'

हेडन के गुस्से के बारे में विस्तार से बताते हुए पार्थिव ने कहा, 'वह मेरे उपर बहुत ही ज्यादा गुस्सा हो गए थे. वह ब्रिसबेन के ड्रेसिंग रूम में खड़े थे जो कि किसी सुरंग की तरह है. वह वहीं पर खड़े थे और मुझे कहा, अगर तुमने ऐसा एक बार और किया तो मैं तुम्हारे चेहरे पर जोरदार मुक्का मार दूंगा, मैंने उनको सॉरी कहा, वहीं खड़ा रहा और फिर चला गया.'

अपने उस झगड़े को पीछे छोड़कर आज पार्थिव और हेडन बहुत अच्छे दोस्त बन गए हैं. उनकी दोस्ती का क्रेडिट जाता है आईपीएल को जहाँ दोनों ने एक दूसरे के साथ काफी वक्त गुजारा है. दरअसल पार्थिव और हेडन चैन्नई सुपर किंग्स के लिए एक साथ पारी की शुरूआत करते थे और यहीं दोनों की दोस्ती बहुत स्ट्रॉन्ग हो गई. हेडन के साथ अपनी दोस्ती का जिक्र करते हुए पार्थिव ने बताया कि 'हां, बिल्कुल हेडन ब्रिसबेन में मुझे पीटना चाहते थे लेकिन हम इसके बाद दोस्त बन गए. हमने सीएसके के लिए साथ में काफी क्रिकेट खेला. हमें एक दूसरे के साथ खेलने में काफी मजा आया. उनके साथ पारी की शुरुआत करना वाकई मजेदार रहा. मैदान पर हमने काफी अच्छा वक्त बिताया. हमने ब्रिसबेन की घटना के बाद सुलह कर ली थी.'