इमरान खान के पीएम बनते ही पीसीबी चेयरमैन नजम सेठी ने दिया इस्तीफा

नजम सेठी के इमरान से रिश्ते ठीक नहीं बताए जाते हैं. इमरान के प्रधानमंत्री बनने के बाद नजम सेठी के पीसीबी चेयरमैन बने रहने पर संदेह जताया रहा था.

इमरान खान के पीएम बनते ही पीसीबी चेयरमैन नजम सेठी ने दिया इस्तीफा
नजम सेठी ने भारत पाकिस्तान क्रिकेट में सुधार करने की पुरजोर कोशिश की. (फाइल फोटो)

लाहौर : पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड (पीसीबी) के चेयरमैन नजम सेठी ने सोमवार को अपने पद से इस्तीफा दे दिया. वह पिछले चार साल से इस पद पर कार्यरत थे और देश में अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट की कुछ हद तक वापसी का श्रेय इन्हें दिया जाता है. सेठी का यह इस्तीफा पाकिस्तान के नए प्रधानमंत्री और पूर्व कप्तान इमरान खान के पद संभालने के बाद आया है. सेठी और इमरान के ताल्लुकात बेहतर नहीं माने जाते हैं.

सेठी ने ट्विटर पर लिखा, "मैं पीसीबी चेयरमैन के पद से इस्तीफा देने के लिए नए प्रधानमंत्री के शपथ लेने का इंतजार कर रहा था. मैंने सोमवार को यह कर दिया. मैं पीसीबी को शुभकामनाएं देता हूं और उम्मीद करता हूं कि हमारी क्रिकेट टीम और मजबूत होगी."

सेठी को पीसीबी बोर्ड आफ गवर्नर्स में पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ ने 2014-2017 के लिए और फिर पूर्व प्रधानमंत्री शाहिद खाकान अब्बासी ने 2017-2020 के लिए नामित किया था. उन्होंने कहा कि वह नए प्रधानमंत्री को पाकिस्तान की क्रिकेट के प्रति उनके विजन को अमल में लाने के लिए रास्ता देना चाहते हैं. 

सेठी ने अपने इस्तीफे में लिखा, "मैं 2017 में बोर्ड के सभी 10 सदस्यों की सर्वसम्मति से चेयरमैन नियुक्त हुआ था. मेरा कार्यकाल तीन साल यानी 2020 तक था. मुझे लगता है कि मैं क्रिकेट की सेवा करने में सफल रहा हूं."

उन्होंने इमरान की बातों को हवाला देते हुए त्यागपत्र में लिखा, "आपने कई मर्तबा कहा है कि आपके पास देश की क्रिकेट को लेकर विजन है. इसलिए बेहतर यह होगा कि आप इस जिम्मेदारी को संभालें और नए प्रबंधन को लाएं जिस पर अपको पूरा विश्वास हो."

नजम सेठी ने अपने कार्यकाल में भारत के साथ क्रिकेटीय रिश्ते सुधारने की बहुत कोशिश की थी. 

एशिया कप भारत से बाहर करवाने में सफलता
सेठी ने हाल ही में एशिया कप भारत से बाहर तय  करवाने में सफलता हासिल की थी. इसे संयुक्त अरब अमीरात (यूएई) में आयोजित कराने का फैसला किया गया. टूर्नामेंट का आयोजन इस वर्ष 13 से 28 सितंबर तक दुबई और अबुधाबी में होगा. एशिया क्रिकेट परिषद (एसीसी) और पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड (पीसीबी) के अध्यक्ष नजम सेठी के हवाले से कहा गया था , " एसीसी ने इस मामले पर काफी सोच विचार के बाद इसे बाहर आयोजित कराने का फैसला किया है. इस बारे में सर्वसम्मत से सभी निर्णय लिए गए हैं."

एशिया कप छह देशों के बीच खेला जाएगा. इसमें भारत, पाकिस्तान, श्रीलंका, बंगलादेश और अफगानिस्तान के अलावा छठी टीम यूएई, हांगकांग, नेपाल, सिंगापुर, मलेशिया और ओमान में से एक होगी, जो प्ले आफ के जरिये इसमें शामिल होगी. एशिया कप का यह 14वां संस्करण होगा. 

इमरान खान के पाकिस्तान में प्रधानमंत्री बनते ही इस बात के कयास लगने लग गए थे अब पाकिस्तान क्रिकेट में खासा बदलाव देखने को मिल सकता है. 
(इनपुट आईएएनएस)

Zee News App: पाएँ हिंदी में ताज़ा समाचार, देश-दुनिया की खबरें, फिल्म, बिज़नेस अपडेट्स, खेल की दुनिया की हलचल, देखें लाइव न्यूज़ और धर्म-कर्म से जुड़ी खबरें, आदि.अभी डाउनलोड करें ज़ी न्यूज़ ऐप.