पीसीबी चैयरमैन का आरोप, 'बिग 3' फॉर्मूले ने ICC को किया बर्बाद

पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड के चैयरमैन एहसान मनी ने ये आरोप लगाते हुए बताया है कि आईसीसी के बिग 3 फॉर्मूले ने इस कांउसिल को बुरी तरह से तबाह कर दिया.

पीसीबी चैयरमैन का आरोप, 'बिग 3' फॉर्मूले ने ICC को किया बर्बाद
पीसीबी अध्यक्ष एहसान मनी (फाइल फोटो)

नई दिल्ली: पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड (PCB) के अध्यक्ष  एहसान मनी ने इंटरनेशनल क्रिकेट कांउसिल के बिग थ्री फॉर्मूले को लेकर बड़ा खुलासा किया है. दरअसल एहसान मनी (Ehsan Mani) ने आरोप लगाते हुए यह बताया कि आईसीसी के बिग 3 फॉर्मेूल ने इस कांउसिल को बुरी तरह से बर्बाद कर दिया. इसके के लिए मनी ने भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड, इंग्लैंड और क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया बोर्ड को जिम्मेदार ठहराया है. मालूम हो कि एहसान मनी 2003 से 2006 तक आईसीसी चेयरमैन रह चुके हैं. 

बिग थ्री ने आईसीसी के संतुलन को बिगाड़ा- मनी 
पीसीबी चैयरमन एहसान मनी ने आईएएएनस से बातचीत करते हुए बताया है कि बीसीसीआई (BCCI) के पूर्व अध्यक्ष एन श्रीनिवासन, इंग्लैंड और आस्ट्रेलिया ने आईसीसी के बिग-3 फॉर्मूले को काफी साथ-साथ इन तीनों देशों ने विश्व क्रिकेट को काफी नुकसान पहुंचाया है. मनी का मानना है कि इस फॉर्मूले को आईसीसी (ICC) के अन्य सभी सदस्यों पर लागू किया गया था. उन्होंने साथ ही आरोप लगाया कि आईसीसी के राजस्व को साझा करने के मुद्दे पर जो देश सहमत नहीं होते थे, बिग-3 देश उनके साथ नहीं खेलने की धमकी देते थे.

एहसान मनी के अनुसार, 'मैं बेहद भाग्यशाली था कि मेरे समय में आईसीसी में सभी सदस्यों का एक संगठित बोर्ड था. बिग-3 (Big 3) ने इस संतुलन को बुरी तरह से बर्बाद कर दिया, इसलिए इसे बिग-3 कहा गया. भारत, इंग्लैंड और ऑस्ट्रेलिया एकजुट हो गए और जो चीज दूसरों के हित में नहीं था, उसे लागू किया. जो उनके बदलाव से सहमत नहीं थे, उनके साथ नहीं खेलने की धमकी दे रहे थे. अब हर कोई आईसीसी में अपने हितों की देखभाल करने के लिए चिल्ला रहा है.' 

उन्होंने कहा, 'बिग थ्री फॉर्मूला, क्रिकेट के किसी भी प्रारूप के हित में नहीं था. इसने विश्व क्रिकेट को काफी नुकसान पहुंचाया है. दूसरी ओर पाकिस्तान के पूर्व तेज गेंदबाज रहे मनी ने 'बिग थ्री' पद्धति को खत्म करने के लिए भारत के शंशाक मनोहर की तारीफ भी की.

क्या होता आईसीसी का 'बिग थ्री' फॉर्मूला?
आईसीसी के 'बिग थ्री' के अतंर्गत इंटरनेशनल क्रिकेट खेलने वाले 3 बड़े क्रिकेट बोर्ड को रखा गया था. जिसमें भारत, इंग्लैंड और ऑस्ट्रेलिया जैसे बड़े देश शामिल रहे. इस 'बिग थ्री' फॉर्मूले की तहत इन तीनों क्रिकेट बोर्डों को आईसीसी की कमाई की हिस्सा मिलता है. आंकड़ों के आधार पर आईसीसी इस फॉर्मूले के तहत भारतीय क्रिकेट बोर्ड (बीसीसीआई) को सबसे ज्यादा 20.3 प्रतिशत, इंग्लैंड एंड वेल्स क्रिकेट बोर्ड (ECB) को 4.4% और क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया (CA) को 2.7 % प्रतिशत के तहत भुगतान करता था. आपको बता दें कि यह आंकड़े साल 2017 में जारी किए गए थे. 
(इनपुट-आईएएएनस)

Zee News App: पाएँ हिंदी में ताज़ा समाचार, देश-दुनिया की खबरें, फिल्म, बिज़नेस अपडेट्स, खेल की दुनिया की हलचल, देखें लाइव न्यूज़ और धर्म-कर्म से जुड़ी खबरें, आदि.अभी डाउनलोड करें ज़ी न्यूज़ ऐप.