BCCI से सबक ले रहा पाकिस्तानी बोर्ड, दिग्गज क्रिकेटर को सौंप सकता है बड़ी जिम्मेदारी

हाल ही में सौरव गांगुली भारतीय क्रिकेट बोर्ड (बीसीसीआई) के अध्यक्ष बने हैं. पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड (पीसीबी) भी इसी तर्ज में आगे बढ़ा रहा है. 

BCCI से सबक ले रहा पाकिस्तानी बोर्ड, दिग्गज क्रिकेटर को सौंप सकता है बड़ी जिम्मेदारी

लाहौर: भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (BCCI) की तरह पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड (PCB) को भी दिग्गज क्रिकेटर मिल सकता है. पाकिस्तान (Pakistan) के पूर्व कप्तान वसीम अकरम पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड (पीसीबी) के क्रिकेट समिति के चेयरमैन बन सकते हैं. पीसीबी के क्रिकेट समिति के चेयरमैन पद से वसीम खान का इस्तीफा देने के बाद ऐसा कहा जा रहा है कि बोर्ड के अधिकारी अब इस पद के लिए वसीम अकरम (Wasim Akram) से जल्द ही संपर्क करेंगे. अकरम इस समय क्रिकेट समिति के सदस्य हैं. 

पाकिस्तानी अखबार द न्यूज इंटरनेशनल ने बोर्ड के एक सीनियर अधिकारी के हवाले से बताया कि अकरम क्रिकेट समिति के चेयरमैन का पदभार संभाल सकते हैं. पीसीबी (PCB) अधिकारियों का मानना है कि अकरम इस पद के लिए सबसे मजबूत दावेदार माने जा रहे हैं. क्रिकेट समिति देश में क्रिकेट के संबंधित सभी मामलों पर निर्णय लेने में अहम भूमिका निभाती है और यह पीसीबी चेयरमैन को अपनी सलाह भी देती है. हाल ही में सौरव गांगुली बीसीसीआई (BCCI) के अध्यक्ष बने हैं. अकरम का नाम इसी तर्ज में आगे बढ़ाया जा रहा है. 

यह भी पढ़ें: Spot Fixing: पाकिस्तान में फिर गहराया फिक्सिंग का संकट, एक और क्रिकेटर ने कबूला जुर्म 

अखबार ने सूत्रों के हवाले से बताया है कि पीसीबी के अधिकारी अब इस बारे में अगले 15 दिनों में कोई फैसला ले सकते हैं. इस दौरान बोर्ड के अधिकारी अकरम और समिति के अन्य सदस्यों से बातचीत करेंगे. सूत्रों का कहना है कि इस बारे में बांग्लादेश के खिलाफ होने वाली सीरीज से पहले ही कोई अंतिम फैसला ले लिया जाएगा. 

वसीम खान अब केवल क्रिकेट समिति के सदस्य ही होंगे. उन्होंने कहा कि पीसीबी के क्रिकेट समिति के चेयरमैन पद के लिए पूर्व क्रिकेटर अकरम सर्वश्रेष्ठ होंगे. उन्होंने कहा, ‘सीमिति स्वायत्त होनी चाहिए और इसका चेयरमैन स्वतंत्र होना चाहिए.’

यह भी पढ़ें: हार्दिक पांड्या ने कहा- मैं अपनी टीम और खुद के साथ भी अन्याय कर रहा था...

पीसीबी ने पिछले साल ही मोहसिन हसन खान के नेतृत्व में एक समिति का गठन किया था. इस समिति में अकरम, मिस्बाह उल हक और उरूज मुमताज बतौर सदस्य शामिल थे. मोहसिन ने इस साल जून में समिति के चेयरमैन पद से इस्तीफा दे दिया था और फिर वसीम खान इसके चेयरमैन बने थे.