इमरान खान ने सुधारी अपनी भूल, कहा- तय नियमों के मुताबिक होगा PCB प्रमुख का चयन

प्रधानमंत्री इमरान खान ने आईसीसी के पूर्व अध्यक्ष अहसान मनि को नजम सेठी की जगह नामित किया.

इमरान खान ने सुधारी अपनी भूल, कहा- तय नियमों के मुताबिक होगा PCB प्रमुख का चयन
प्रधानमंत्री ने ट्विटर पर लिखा है कि मैंने अहसान मनि को पीसीबी प्रमुख के पद पर नियुक्त किया है.

कराची. नजम सेठी ने पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड के प्रमुख के पद से इस्तीफा दे दिया और प्रधानमंत्री इमरान खान ने आईसीसी के पूर्व अध्यक्ष अहसान मनि को उनकी जगह नामित करने की घोषणा कर दी. हालांकि, इसके बाद पीएम ने भूल सुधारते हुए कहा कि तय नियमों के मुताबिक ही पीसीबी प्रमुख का चयन होगा.

दरअसल, पाकिस्तान के प्रधानमंत्री ने ट्विटर पर लिखा, ‘‘मैंने अहसान मनि को पीसीबी प्रमुख के पद पर नियुक्त किया है. उनके पास इस काम के लिए व्यापक एवं अहम योग्यता है. उन्होंने आईसीसी में पाकिस्तान का प्रतिनिधित्व किया, वह तीन साल तक उसके कोषाध्यक्ष रहे और फिर तीन साल उसका नेतृत्व भी किया. इसके बाद कुछ यूजर्स ने उनको पीसीबी का संविधान पढ़ने की सलाह दे डाली. लोगों का कहना था कि आखिर बिना नियमों के प्रधानमंत्री कैसे क्रिकेट बोर्ड का अध्यक्ष नियुक्त कर सकता है. हालांकि, इसके बाद इमरान ने दूसरा ट्वीट करके अपनी भूल सुधार ली.

बता दें कि पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड (पीसीबी) के चेयरमैन नजम सेठी ने सोमवार को अपने पद से इस्तीफा दे दिया था. वह पिछले चार साल से इस पद पर कार्यरत थे और देश में अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट की कुछ हद तक वापसी का श्रेय इन्हें दिया जाता है. सेठी का यह इस्तीफा पाकिस्तान के नए प्रधानमंत्री और पूर्व कप्तान इमरान खान के पद संभालने के बाद आया है. सेठी और इमरान के ताल्लुकात बेहतर नहीं माने जाते हैं.

सेठी ने ट्विटर पर लिखा, "मैं पीसीबी चेयरमैन के पद से इस्तीफा देने के लिए नए प्रधानमंत्री के शपथ लेने का इंतजार कर रहा था. मैंने सोमवार को यह कर दिया. मैं पीसीबी को शुभकामनाएं देता हूं और उम्मीद करता हूं कि हमारी क्रिकेट टीम और मजबूत होगी."

सेठी को पीसीबी बोर्ड आफ गवर्नर्स में पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ ने 2014-2017 के लिए और फिर पूर्व प्रधानमंत्री शाहिद खाकान अब्बासी ने 2017-2020 के लिए नामित किया था. उन्होंने कहा कि वह नए प्रधानमंत्री को पाकिस्तान की क्रिकेट के प्रति उनके विजन को अमल में लाने के लिए रास्ता देना चाहते हैं.

सेठी ने अपने इस्तीफे में लिखा, "मैं 2017 में बोर्ड के सभी 10 सदस्यों की सर्वसम्मति से चेयरमैन नियुक्त हुआ था. मेरा कार्यकाल तीन साल यानी 2020 तक था. मुझे लगता है कि मैं क्रिकेट की सेवा करने में सफल रहा हूं."

उन्होंने इमरान की बातों को हवाला देते हुए त्यागपत्र में लिखा, "आपने कई मर्तबा कहा है कि आपके पास देश की क्रिकेट को लेकर विजन है. इसलिए बेहतर यह होगा कि आप इस जिम्मेदारी को संभालें और नए प्रबंधन को लाएं जिस पर अपको पूरा विश्वास हो."