close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

पोर्ट ऑफ स्पेन; सचिन ने यहीं पर की थी ब्रैडमैन की बराबरी, जानें और क्या है खासियत

भारत और वेस्टइंडीज के बीच खेली जा रही वनडे सीरीज का तीसरा और आखिरी वनडे मैच इसी मैदान पर खेला जाएगा. 

पोर्ट ऑफ स्पेन; सचिन ने यहीं पर की थी ब्रैडमैन की बराबरी, जानें और क्या है खासियत
ऑस्ट्रेलिया के सर डॉन ब्रैडमैन और सचिन तेंदुलकर. (फाइल फोटो)

नई दिल्ली: भारत और वेस्टइंडीज के बीच खेली जा रही वनडे सीरीज (India vs West Indies) अब अपने अंतिम पड़ाव पर है. दोनों टीमें बुधवार (14 अगस्त) को यहां सीरीज के तीसरे और आखिरी वनडे मैच में दो-दो हाथ करेंगी. यह मैच पोर्ट ऑफ स्पेन (Port of Spain) के मैदान पर खेला जाएगा. यह वेस्टइंडीज के उन चुनिंदा मैदानों में से एक है, जहां भारतीय टीम (Team India) का प्रदर्शन बेहतरीन रहा है. इसके अलावा यह मैदान सचिन तेंदुलकर (Sachin Tendulkar) की एक विशिष्ट उपलब्धि के कारण भी भारतीय क्रिकेटप्रेमियों के दिलों में जगह रखता है. 

सचिन तेंदुलकर ने पोर्ट ऑफ स्पेन के इस मैदान पर छह वनडे और चार टेस्ट मैच खेले हैं. उन्होंने यहां 4 टेस्ट मैच की सात पारियों में 234 रन बनाए हैं. इसमें वो ऐतिहासिक शतक भी शामिल है, जिसने उन्हें सर डॉन ब्रैडमैन (Don Bradman) की बराबरी पर ला खड़ा किया था. 

सचिन तेंदुलकर ने इस मैदान पर साल 2002 में खेले गए टेस्ट मैच में 117 रन की पारी खेली थी. यह उनके टेस्ट करियर का 29वां शतक था. ऑस्ट्रेलिया के बल्लेबाज डॉन ब्रैडमैन ने भी 29 टेस्ट शतक लगाए हैं. 

भारत ने सचिन तेंदुलकर के इस शतक की बदौलत यह मैच 37 रन से जीता था. भारत ने 339 और 218 रन बनाए थे. इसके जवाब में वेस्टइंडीज 245 और 275 रन बनाकर आउट हो गया था. 

सर डॉन ब्रैडमैन दुनिया के महानतम बल्लेबाज माने जाते हैं. उन्होंने 52 टेस्ट में 99.94 की औसत से 6996 रन बनाए हैं. अगर वे अपनी आखिरी पारी में चार रन बना लेते तो उनका औसत 1000 का होता. 

सचिन तेंदुलकर इंटरनेशनल क्रिकेट में सबसे अधिक रन और सबसे अधिक शतक लगाने वाले क्रिकेटर हैं. उन्होंने टेस्ट मैचों में 51 और वनडे में 49, यानी कुल 100 शतक जमाए हैं. 

अब बात पोर्ट ऑफ स्पेन की. भारत ने यहां 20 वनडे मैच खेले हैं, जिनमें से उसे 10 में जीत मिली है. वह यहां नौ वनडे हारा है. इसी तरह उसने यहां 13 टेस्ट मैच खेले हैं, जिनमें उसकी जीत-हार का आंकड़ा 3-3 का है. 

भारत ने वेस्टइंडीज को दो दिन पहले इसी मैदान पर हराया था. उसने वनडे सीरीज के इस दूसरे मुकाबले में सात विकेट पर 297 रन बनाए थे. इसके जवाब में वेस्टइंडीज की टीम 210 रन बनाकर ऑलआउट हो गई थी.