close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

कोहली और रोहित के बीच नंबर-1 के लिए दिलचस्प रेस, दिसंबर में होगा विजेता का फैसला

पिछले कुछ सालों में वनडे क्रिकेट में भारत के बेहतरीन प्रदर्शन का सबसे ज्यादा श्रेय विराट कोहली और रोहित शर्मा को ही जाता है. 

कोहली और रोहित के बीच नंबर-1 के लिए दिलचस्प रेस, दिसंबर में होगा विजेता का फैसला
विराट कोहली और रोहित शर्मा के बीच अनबन की खबरें भी आती रही हैं. (फोटो: IANS)

नई दिल्ली: विराट कोहली और रोहित शर्मा टीम इंडिया (Team India) के कप्तान और उप कप्तान ही नहीं, भारतीय क्रिकेट के दो सबसे बड़े सितारे भी हैं. पिछले कुछ सालों में वनडे क्रिकेट में भारत के बेहतरीन प्रदर्शन का सबसे ज्यादा श्रेय इन दोनों को ही जाता है. ये दोनों सिर्फ लंबी-लंबी साझेदारियां नहीं करते, बल्कि दोनों के बीच एक दिलचस्प रेस भी चलती रहती है. साल 2019 को ही ले लीजिए, जिसमें इन दोनों खिलाड़ियों के बीच रोचक जंग चल रही है. मजेदार बात यह है कि इसके नतीजे के लिए दिसंबर तक इंतजार करना पड़ेगा. 

विराट कोहली और रोहित शर्मा (Rohit Sharma) की यह रेस 2019 में सबसे अधिक रन और शतक बनाने को लेकर है. विराट कोहली (Virat Kohli) 2019 में दुनिया में सबसे अधिक रन बनाने वाले बल्लेबाज हैं. उन्होंने इस साल 23 मैच में 64.4 की औसत से 1288 रन बनाए हैं. रोहित शर्मा इस मामले में दूसरे नंबर पर चल रहे हैं. उन्होंने 25 मैच में 53.56 की औसत से 1232 रन बनाए हैं. विराट कोहली (95.90) का स्ट्राइक रेट भी रोहित शर्मा (95.90) से बेहतर है. 

यह भी पढ़ें: रवि शास्त्री का कोच बनना लगभग तय, इंटरव्यू के बाद आज लग सकती है मुहर

रोहित शर्मा ने इस साल विश्व कप में पांच शतक लगाए. वे इस साल कुल छह शतक लगा चुके हैं. रोहित शर्मा 2019 में सबसे अधिक शतक लगाने के मामले में पहले नंबर पर चल रहे हैं. विराट कोहली पांच शतक लगाकर इस मामले में रोहित के बाद दूसरे नंबर पर हैं. विराट ने हालांकि, इस साल रोहित के मुकाबले एक अर्धशतक ज्यादा लगाया है. इस तरह दोनों बल्लेबाज 50+ पारी खेलने के मामले में बराबरी पर हैं. दोनों ने ऐसी 11-11 पारियां खेली हैं. 

भारतीय टीम को अब इस साल ज्यादा वनडे मैच नहीं खेलने हैं. अब इस साल भारत को दिसंबर में वेस्टइंडीज के खिलाफ तीन मैचों की वनडे सीरीज खेलनी है. इन्हीं तीन मैचों से यह तय होगा कि साल में सबसे अधिक रन और शतक बनाने के मामले में कौन बाजी मारता है.