जॉर्ज फ्लॉयड के समर्थन में उतरे इरफान पठान, नस्लवाद के खिलाफ कही बड़ी बात

जॉर्ज फ्लॉयड की मौत के बाद पूरे अमेरिका में प्रदर्शन हो रहे हैं, भारत में अब पूर्व क्रिकेटर इरफान पठान ने नस्लवाद के खिलाफ आवाज उठाई है.

जॉर्ज फ्लॉयड के समर्थन में उतरे इरफान पठान, नस्लवाद के खिलाफ कही बड़ी बात

नई दिल्ली: पूर्व भारतीय क्रिकेटर इरफान पठान (Irfan Pathan) ने जोर देकर कहा है कि नस्लवाद सिर्फ त्वचा के रंग तक सीमित नहीं है. भारत के लिए 120 वनडे और 29 टेस्ट मैच खेलने वाले इरफान ने ट्विटर पर कहा, 'नस्लवाद सिर्फ आपकी त्वचा के रंग तक सीमित नहीं है, अगर आपका विश्वास अलग है और उसकी वजह से सोसाइटी में घर नहीं मिलता, वो भी एक नस्लवाद है.'

अमेरिका के मिनोपोलिस शहर में पुलिस हिरासत में मारे गए अश्वेत नागरिक जॉर्ज फ्लॉयड (George Floyd) की मौत के बाद पूरी दुनिया में नस्लवाद को लेकर चर्चा जोरों पर है. नस्लवाद की घटना से खेल का मैदान भी अछूता नहीं रहा है. वेस्टइंडीज के पूर्व कप्तान डैरेन सैमी ने हाल ही में कहा था कि उन्हें आईपीएल में कालू के नाम से बुलाया जाता था.

 
 
 
 

 
 
 
 
 
 
 
 
 

Me, bhuvi, kaluu and gun sunrisers

A post shared by Ishant Sharma (@ishant.sharma29) on

सैमी ने कहा था कि जब वह सनराइजर्स हैदराबाद में खेलते थे तब उन्हें और श्रीलंका के थिसारा परेरा को भी 'कालू' बुलाया जाता था. सैमी ने इस पर नाराजगी जाहिर की थी. सैमी के इस दावे की पुष्टि भारतीय टेस्ट टीम के तेज गेंदबाज ईशांत शर्मा की 2014 में इंस्टाग्राम की पोस्ट ने की है. ईशांत ने उस समय के सनराइजर्स के खिलाड़ी भुवनेश्वर कुमार, डेल स्टेन, सैमी के साथ की एक फोटो साझा की है जिसके कैप्शन में उन्होंने लिखा है, 'मैं, भुवी, कालू और गन सनराइजर्स.'

ये भी देखें-

(इनपुट-आईएएनएस)